Category Archives: chemistry

ZSM-5 जियोलाइट , zsm 5 full form , जियोलाइट के उपयोग , जिओलाइट की परिभाषा , सूत्र , संरचना

जियोलाइट के उपयोग , संरचना , ZSM-5 जियोलाइट , zsm 5 full form , जिओलाइट की परिभाषा , सूत्र :- zsm 5  =zeolite socony mobil-5 उत्प्रेरण : वे पदार्थ जो अभिक्रिया के वेग को बढ़ा देते है परन्तु स्वयं द्रव्यमान तथा संघठन की दृष्टि से अपरिवर्तित रहते है उन्हें उत्प्रेरक कहते है तथा इस घटना को… Continue reading »

अधिशोषण के उपयोग , uses of absorption in hindi , अधिशोषण सूचक , गैस मास्क में

अधिशोषण के उपयोग , uses of absorption in hindi , अधिशोषण सूचक , गैस मास्क में

अधिशोषण सूचक , गैस मास्क में , अधिशोषण के उपयोग , uses of absorption in hindi :- ठोस की सतह पर गैसों के अधिशोषण को प्रभावित करने वाले कारक : गैस की प्रकृति : वे गैस जो सरलता से द्रवित हो जाती है उनका ठोस की सतह पर आसानी से अधिशोषण हो जाता है। नोट… Continue reading »

अधिशोषक व अधिशोष्य क्या है , adsorbent and adsorbate in hindi , example , difference

adsorbent and adsorbate in hindi , example , difference , अधिशोषक व अधिशोष्य क्या है :- पृष्ठीय रसायन (surface chemistry) : रसायन विज्ञान की वह शाखा जिसके अंतर्गत ठोस या गैस के पृष्ठ पर होने वाले परिवर्तन तथा उसकी क्रियाविधि का अध्ययन किया जाता है उसे पृष्ठीय रसायन कहते है। पृष्ठ दो प्रावस्थाओ को पृथक करता… Continue reading »

प्रतिहिम पदार्थ का नाम बताइये , एक मोलल तथा एक मोलर विलयन में से कौनसा विलयन अधिक सान्द्र है ?

antifreeze solution in hindi , प्रतिहिम पदार्थ का नाम बताइये , एक मोलल तथा एक मोलर विलयन में से कौनसा विलयन अधिक सान्द्र है ? :- प्रश्न : समपरासरी विलयन किसे कहते है ? उत्तर : दो समान सांद्रता वाले विलयन जिनके परासरण दाब समान होते है उन्हें समपरासरी विलयन (isotonic solution) कहते है। समपरासरी… Continue reading »

गैस नियतांक क्या है , परिभाषा , गैस नियतांक की विमा व मात्रक , SI , cgs , Gas constant in hindi

गैस नियतांक क्या है , परिभाषा , गैस नियतांक की विमा व मात्रक , SI , cgs , Gas constant in hindi

SI , cgs , Gas constant in hindi , गैस नियतांक क्या है , परिभाषा , गैस नियतांक की विमा व मात्रक :- प्रश्न : हिमांक किसे कहते है ? उत्तर : वह निश्चित ताप जिस पर किसी द्रव की द्रव तथा ठोस दोनों अवस्थाओ का वाष्पदाब समान हो जाता है , उस ताप को… Continue reading »

colligative properties in hindi , definition , examples , अणु संख्यक गुण which of the following is not

which of the following is not a colligative property , definition , examples in hindi , अणु संख्यक गुण :- प्रश्न : जब शुद्ध विलायक में वाष्पशील विलेय घोला जाता है तो इसका वाष्प दाब कम हो जाता है , समझाइये। या अवाष्पशील विलेय युक्त विलयन का वाष्पदाब शुद्ध विलायक से कम होता है क्यों… Continue reading »

एथेनोल व जल मिश्रण धनात्मक विचलन दर्शाता है , शुद्ध एसिटोन तथा क्लोरोफोर्म मिश्रण ऋणात्मक विचलन

why ethanol and water show positive deviation , एथेनोल व जल से बना मिश्रण धनात्मक विचलन दर्शाता है , शुद्ध एसिटोन तथा क्लोरोफोर्म से बना मिश्रण ऋणात्मक विचलन द्रव – द्रव विलयन के लिए राउल्ट नियम : वाष्पशील द्रवों के विलयन में प्रत्येक घटक का आंशिक दाब विलयन में उपस्थित उस घटक के मोल अंश… Continue reading »

अनोक्सिया या अनॉक्सिता (anoxia in hindi) ,  हेनरी नियम के उपयोग , uses of henry’s law in hindi

हेनरी नियम के उपयोग , uses of henry’s law in hindi , या या अनॉक्सिता (anoxia in hindi) :-= गैस की द्रव में विलेयता : गैस द्रव में कुछ न कुछ मात्रा में अवश्य विलेय होती है। गैसों की द्रव में विलेयता को प्रभावित करने वाले कारक :- गैस तथा द्रव की प्रकृति: जो गैस द्रव… Continue reading »

समांगी मिश्रण , परिभाषा क्या है , उदाहरण , समांगी और विषमांगी मिश्रण में अंतर बताइए , homogeneous mixture in hindi

heterogeneous mixture and homogeneous mixture in hindi , समांगी मिश्रण , परिभाषा क्या है , उदाहरण , समांगी और विषमांगी मिश्रण में अंतर बताइए : विलयन : दो या दो से अधिक घटकों के समांगी मिश्रण को विलयन कहते है। विलयन बनाते समय जो घटक अधिक मात्रा में काम आता है उसे विलायक (Solvent) तथा… Continue reading »

ईथर क्या है(ether in hindi) , ईथर का वर्गीकरण (classification of ether) , संरचना , समावयवता (Isomerism)

ईथर क्या है(ether in hindi) , ईथर का वर्गीकरण (classification of ether) , संरचना , समावयवता (Isomerism)

ईथर (ether in hindi) : ऑक्सीजन परमाणु की दोनों संयोजकता एल्किल या एरिल समूह द्वारा जुडी हो , तो ऐसे यौगिक इथर कहलाते है। उदाहरण : R-O-R यहाँ R = एल्किल समूह Ar-O-Ar यहाँ Ar = एरिल समूह Ar-O-R यहाँ  R = एल्किल समूह  तथा Ar = एरिल समूह ईथर का वर्गीकरण (classification of ether) इथर को निम्न… Continue reading »