Category Archives: chemistry

एनएमआर संकेतो का विपाटन , चक्रण चक्रण , युग्मन स्थिरांक , जैमिनल , विसिनल , दीर्घ परासी

splitting NMR of signal in hindi एनएमआर संकेतो का विपाटन : splitting (विपाटन) = (n +1 ) यहाँ n = पडोसी c पर उपस्थित प्रोटॉन की संख्या note : NMR signal में splitting चक्रण चक्रण युग्मन के कारण होती है। चक्रण चक्रण विपाटन /चक्रण चक्रण युग्मन (spin spin splitting /spin spin coupling) एक प्रोटोन की चक्रण… Continue reading »

रासायनिक विस्थापन को प्रभावित करने वाले कारक Factors Affecting Chemical Displacement

Factors Affecting Chemical Displacement रासायनिक विस्थापन को प्रभावित करने वाले कारक : रासायनिक विस्थापन को निम्न कारक प्रभावित करते हैं – प्रेरणिक प्रभाव /I प्रभाव : अधिक विद्युत ऋणी परमाणु जैसे F,O,N,Cl आदि -I प्रभाव के कारण प्रोटोन के चारों ओर स्थित electron को अपनी ओर आकर्षित कर लेते है , जिससे प्रोटोन के चारों… Continue reading »

रासायनिक विस्थापन की परिभाषा क्या है , chemical shift in hindi

chemical shift in hindi रासायनिक विस्थापन : इलेक्ट्रॉन के परिरक्षण से प्रोटोन का सिग्नल उच्च क्षेत्र की ओर एवं विपरिक्षण के कारण निम्न क्षेत्र की ओर विस्थापित हो जाते है , इस प्रकार proton के परिरक्षण अथवा विपरीरक्षण से एनएमआर (NMR) सिग्नल का उच्च क्षेत्र या निम्न क्षेत्र की ओर विस्थापन रासायनिक विस्थापन (chemical shift) कहलाता… Continue reading »

तुल्य व अतुल्य प्रोटॉन , नाभिकीय परिक्षण व विपरिक्षण की परिभाषा क्या है nuclear shielding

nuclear shielding and deshielding in hindi तुल्य व अतुल्य प्रोटॉन की परिभाषा क्या है तथा नाभिकीय परिक्षण व विपरिक्षण : तुल्य proton : किसी अणु में उपस्थित वे proton जिनके बंध कोण , बंध लम्बाई आदि के मान समान होते है अर्थात जिनका वातावरण एक समान होता है , समतुल्य प्रोटॉन कहलाते है। ये प्रोटॉन समान सामर्थ्य… Continue reading »

एनएमआर स्पेक्ट्रोस्कोपी की परिभाषा क्या है , nmr spectroscopy in hindi

एनएमआर स्पेक्ट्रोस्कोपी की परिभाषा क्या है NMR spectroscopy in hindi  : क्षेत्र (region) : रेडियो तरंग (radio waves) जिस प्रकार परमाणु में नाभिक के चारों ओर electron गति करते है उसी प्रकार कई नाभिक भी चक्रण करते है जिनके चक्रण कोणीय संवेग का मान (h/2π) √I(I+1) के बराबर होता है। यहाँ I = नाभिक चक्रण क्वांटम संख्या। नाभिक… Continue reading »

सक्रियता एवं सक्रियता गुणांक , प्रतिलोम परासरण के उपयोग , परासरण दाब एक अणुसंख्यक गुण

 व्युत्क्रम परासरण /प्रतिलोम परासरण (reverse osmosis) : यदि विलयन पर परासरण दाब से अधिक दाब लगाया जाए तो परासरण की प्रक्रिया विपरीत दिशा में होने लगती हैं।  अर्थात विलायक के कण अर्द्धपारगम्य झिल्ली द्वारा विलयन से शुद्ध विलायक की और गमन करने लगते है।  यही परिघटना व्युत्क्रम परासरण कहलाती हैं। प्रतिलोम परासरण के उपयोग 1…. Continue reading »

परासरण दाब , बॉयल वान्ट हॉफ का नियम , वान्टहॉफ चार्ल्स , आवोगाद्रो ,विलयनों का सामान्य समीकरण

osmotic pressure in hindi परासरण दाब : वह द्रव स्थैतिक दाब जो अर्द्धपारगम्य झिल्ली (S.P.M) द्वारा और पर्याप्त हो परासरण दाब कहलाता हैं। या विलयन के ऊपर लगाया गया अतिरिक्त दाब जो परासरण की क्रिया को रोक दे परासरण दाब कहलाता है। इसे π से दर्शाते है। π = hdg यहाँ π = परासरण दाब h = केश नली में… Continue reading »

हिमांक में अवनमन Freezing point depression in hindi

Freezing point depression in hindi हिमांक में अवनमन : हिमांक की परिभाषा : वह ताप जिस पर किसी द्रव का वाष्पदाब उसकी द्रव एवं ठोस दोनों प्रावस्थाओं के समान हो जाए हिमांक कहलाता है। या वह ताप जिस पर किसी द्रव का वाष्प दाब उसकी ठोस प्रावस्था के वाष्पदाब के बराबर हो जाता है हिमांक कहलाता… Continue reading »

विलयन के क्वथनांक में उन्नयन boiling point elevation in hindi

boiling point elevation in hindi विलयन के क्वथनांक में उन्नयन : क्वथनांक की परिभाषा : वह ताप जिस पर किसी द्रव का वाष्प दाब वायुमंडलीय दाब (1 atm /1bar) के बराबर हो जाता है , उसे द्रव का क्वथनांक कहते है। जैसे H2O का क्वथनांक 100′ C (373.15k) होता है , अर्थात 100 डिग्री सेल्सियस ताप पर… Continue reading »

ओस्टवाल्ड तथा वॉकर की गतिक विधि (Ostwald And Walker Method in hindi)

(Ostwald And Walker Method in hindi) ओस्टवाल्ड तथा वॉकर की गतिक विधि : इस विधि में शुष्क वायु को क्रमशः विलयन विलायक व किसी अभिक्रमक में से प्रवाहित किया जाता है , चूँकि सामान्यत: जलीय विलयन लिए जाते है अत: अभिक्रमक के रूप में CaCl2 को काम में लिया जाता है , इस विधि में प्रयुक्त उपकरण को… Continue reading »