Category Archives: Biology

12 वीं जीवविज्ञान में हिंदी 12th Biology in hindi

रेशम कीट की परिभाषा , रेशमकीट पालन क्या है , जीवन चक्र , रेशम कीट के लार्वा का नाम , silkworm in hindi

प्राणियों का घरेलुकरण : रेशमपालन (seri culture) : रेशम की प्राप्ति हेतु रेशम के कीट को पालने की क्रिया रेशम पालन या रेशम कीट पालन कहलाता है। रेशम के धागे की खोज सर्वप्रथम 2697 BC में K.wang Ti के द्वारा प्रदेश की महारानी Lotzu के लिए की। भारत में इसकी खोज leproy के द्वारा सन 1905… Continue reading »

फसल चक्र , crop rotation , फसल चक्र के प्रमुख उदाहरण , जैव पीडकनाशी तथा कीटनाशी , Bacillus Thuringiensis

crop rotation (फसल चक्र) : एक खेत में प्रतिवर्ष बदल बदलकर फसल बौने का प्रक्रम फसल चक्र या क्रॉप रोटेशन कहलाता है। सामान्यत: निम्न कारणों से फसल चक्र अत्यधिक आवश्यक है – (A) एक खेत में लगातार एक प्रकार की फसल उत्पन्न करने से किसी एक विशिष्ट पोषक तत्व की या खनिज की कमी हो… Continue reading »

कार्बनिक खाद्य , मिश्रित कृषि (Mixed farming) , mixed cropping in hindi

कार्बनिक खाद्य : भारत में कार्बनिक अपशिष्ट पदार्थ अत्यधिक मात्रा में उपलब्ध होते है , यह पदार्थ सामान्यत: घरेलु अपशिष्ट , शहरी अपशिष्ट , वाहित मल , पशुओं का मल मूत्र , हड्डियों का चुरा आदि कार्बनिक अपशिष्ट कहलाते है। उपरोक्त कार्बनिक अपशिष्ट को सूक्ष्म जीवों की सहायता से जैविक अपघटन करवाया जा सकता है… Continue reading »

प्रतिपालनीय कृषि (sustainable agriculture in hindi) , जैविक खेती (organic agriculture) , राइजोबियम जीवाणु

प्रतिपालनीय कृषि (sustainable agriculture in hindi) : प्रश्न 1 : प्रतिपालनीय कृषि किसे कहते है ? उत्तर : कृषि का ऐसा प्रक्रम जिसके अंतर्गत कृषि पादप तथा पालतू जन्तुओं का इस प्रकार से संवर्धन करवाया जाए की संवर्धन वाले स्थान को किसी प्रकार की हानि न पहुचे तथा उत्पादन दीर्घ काल तक जारी रहे ताकि… Continue reading »

जैव भार (Bio mass in hindi) , काष्ठ Wooden in hindi , काष्ठ ईंधन की विशेषताएं , जैव ऊर्जा नवीनीकृत ऊर्जा

जैव भार (Bio mass) : जैव ऊर्जा का मूलतः स्रोत सूर्य से प्राप्त होने वाला प्रकाश तथा पृथ्वी पर पहुचने वाले कुल सौर ऊर्जा में से 0.2% ऊर्जा प्रकाश संश्लेषण के द्वारा जैव भार के रूप में संचित की जाती है। वे सभी पदार्थ जो प्रकाश संश्लेषण के फलस्वरूप उत्पन्न होते है जैव भार कहलाते… Continue reading »

पादपो में संचित स्टार्च तथा lignocellulose से ethanol का निर्माण , शैवालीय हाइड्रोजन फैक्ट्री 

पादपो में संचित स्टार्च तथा lignocellulose से ethanol का निर्माण : सामान्य रूप से उगाई जाने वाली कुछ प्रमुख स्टार्च फसले जैसे धाने , निलेट तथा कंद व शर्करा के उत्पादन हेतु उगाई जाने वाली कुछ प्रमुख फसले जैसे गन्ना तथा चक्कुन्दर जैव भार के उत्पादन हेतु प्रमुख फसले मानी जाती है। वर्तमान समय में… Continue reading »

बायोडीजल (biodiesel in hindi) , पेट्रो पादप , भारत तथा राजस्थान में बायोडीजल का उत्पादन , उपयोग

(biodiesel in hindi) बायोडीजल : जैविक पदार्थो से प्राप्त डीजल जैसा तरल पदार्थ बायो डीजल कहलाता है। इसका निर्माण वनस्पति तेल , लेटेक्स या क्षीर तथा वसा से किया जाता है तथा यह प्रदुषण रहित पुर्नपोषक इंधन है। बायो डिजल को रासायनिक रूप में FAME के नाम से जाना जाता है।  [Fathy acid Methyl] सामान्यत: पादपो… Continue reading »

बायो गैस या गोबर गैस , biogas or gobar gas in hindi , बायोगैस संयंत्र का सिद्धांत , संगठन , bio gas composition

जैव ऊर्जा (bio energy in hindi) : जैविक स्रोतों से प्राप्त उर्जा को जैव ऊर्जा कहते है , इसे मानव कल्याण हेतु विभिन्न स्रोतों के रूप में उपयोग किया जाता है , इनमे से कुछ प्रमुख निम्न प्रकार से है – बायो गैस या गोबर गैस भारत की 70% जनसंख्या ग्रामीण क्षेत्र से सम्बन्ध रखती… Continue reading »

कुनैन , सिनकोना (fever bark tree) और हींग (asafoetida in hindi) , वानस्पतिक नाम : Cinchona officinalis

कुनैन , सिनकोना (fever bark tree) : वानस्पतिक नाम : Cinchona officinalis कुल : Rubaceac उपयोगी भाग : स्तम्भ की शुष्क छाल उत्पत्ति तथा उत्पादक देश उपरोक्त पादप की उत्पत्ति दक्षिणी अमेरिका के एंडीस प्रदेश में हुई है। भारत जावा तथा इंडोनेशिया को इसका प्रमुख उत्पादक देश माना जाता है। भारत में इस पादप के… Continue reading »

अफीम (Opium poppy in hindi) , वानस्पतिक नाम : papaver somniferum , कुल , अफीम बीज (Seeds)

अफीम (Opium poppy) : वानस्पतिक नाम : papaver somniferum कुल : Papavaraceae उपयोगी भाग : अपरिपक्व फल से प्राप्त क्षीर / लेटेक्स अफिम को अमल तथा अहिफेन के नाम से भी जाना जाता है। अफीम से प्राप्त बीज औषतदाना या खसखस के नाम से जाना जाता है। उत्पत्ति तथा उत्पादक देश अफीम एशिया माइनर का… Continue reading »