Monthly Archives: December 2017

एस्टरीकरण , PCl5, PX3 , SOCl2 से क्रिया , अल्कोहल का निर्जलीकरण , विहाइड्रोजनीकरण

एस्टरीकरण : अल्कोहल या फिनॉल की क्रिया कार्बोक्सिलिक अम्ल , अम्ल क्लोराइड , एनहाइड्राइड से करने पर हमेशा एस्टर बनते है। CH3-COOH + H-O-C2H5   →  CH3-COOC2H5  + H2O CH3-COCl + H-O-C2H5   → CH3-COOC2H5  + HCl CH3-COCl + H-O-C6H5 →  CH3-COOC6H5 + HCl वे अभिक्रिया जिनमे R-OH बंध टूटता है PCl5, PX3 , SOCl2 से क्रिया R-OH + PCl5  →  RCl + POCl3 + HCl 3R-OH + PH3 →  H3PO3 + 3R-X R-O-H… Continue reading »

एल्कोहल के रासायनिक गुण Chemical properties of alcohol in hindi

Chemical properties of alcohol एल्कोहल के रासायनिक गुण : वे अभिक्रिया जिनमे R-O-H bond टूटता है।  क्रियाशील धातुओं से क्रिया (अम्लीय प्रकृति)  (reaction from active metals (acidic nature)): सभी एल्कोहल सक्रीय धातु Na , K , Al से क्रिया करके हाइड्रोजन गैस बनाते है।  एल्कोहल की इस प्रवृति को अम्लीय प्रकृति को अम्लीय प्रकृति कहते… Continue reading »

एल्कोहल के भौतिक गुण Physical Properties of Alcohol in hindi

Physical Properties of Alcohol in hindi एल्कोहल के भौतिक गुण : गुण : कम कार्बन वाले अल्कोहल द्रव अवस्था में जबकि C12से अधिक कार्बन वाले एल्कोहल मोम के समान ठोस अवस्था में होते है। अणुभार बढ़ने के साथ साथ क्वथनांक बढ़ता जाता है क्योंकि कार्बन परमाणु की श्रृंखला बढ़ने पर वांडरवाल बल बढ़ते है। CH3-OH <… Continue reading »

अल्कोहल और फिनोल बनाने की विधियां Methods of making alcohol and phenols

अल्कोहल बनाने की विधियाँ (Alcohol forming methods): 1.ग्रिन्यार अभिकर्मक से : इस विधि द्वारा 10 , 20 , 30 एल्कोहल बनाये जाते है। जब RMgX की क्रिया HCHO से की जाती है तो बने पदार्थ के जल अपघट्न से  10  एल्कोहल बनते है। जब RMgX की क्रिया R-CHO से की जाती है बने पदार्थ के जल अपघट्न से द्वितीयक एल्कोहल बनते… Continue reading »

एल्कोहल समावयवता , अल्कोहल का वर्गीकरण , समावयवता Classification of Alcohol

परिचय : जब एल्केन में -H के स्थान पर -OH आता है तो उन्हें एलीफैटिक एल्कोहल कहते है। RH → R-OH जब बेंजीन में से -H के स्थान पर -OH समूह जुड़ता है तो उन्हें ऐरोमैटिक एल्कोहल (फिनॉल) कहते है। नोट :  नाम  बंध  समूह  alkanol  –  (single bond )  -OH  alkenol  = (double bond)  -OH… Continue reading »

एलडीहाइड्स, केटोनस और कार्बोक्जिलिक एसिड (Aldehydes, Ketones and Carboxylic Acids)

12th class chemistry chapter एलडीहाइड्स, केटोनस और कार्बोक्जिलिक एसिड (Aldehydes, Ketones and Carboxylic Acids) notes in hindi language topic wise . परिचय , नामकरण , ऐल्डिहाइड तथा कीटोन दोनों के बनाने की विधियाँ   रोजेन मुण्ड अपचयन , स्टीफैन , ईटार्ड , गाटरमान कॉख , फ्रीडल क्राफ्ट अभिक्रिया   कार्बोनिल यौगिक के भौतिक गुण , संरचना ,… Continue reading »

-COOH समूह , कोल्वे विद्युत अपघटनी अभिक्रिया , कार्बोक्सिलिक अम्ल की अम्लीय प्रकृति

-COOH समूह की अभिक्रिया :    विकार्बोक्सीलन (ViktorBoxilan): जब कार्बोक्सिलिक अम्लों को सोडा लाइम (NaOH तथा CaO) के साथ गर्म किया जाता है तो एल्केन बनती है इस क्रिया में कार्बन परमाणु की संख्या कम हो जाती है। R-COONa + NaOH → Na2CO3 + RH CH3-COONa + NaOH → Na2CO3 + CH4 CH3-CH2-COONa + NaOH → Na2CO3 +… Continue reading »

कार्बोक्सिलिक अम्ल के भौतिक गुण , ऐमाइड , एनहाइड्राइड , एस्टर बनाना

Physical properties of carboxylic acid कार्बोक्सिलिक अम्ल के भौतिक गुण :   C1से  C9 तक के कार्बोक्सिलिक अम्ल अरूचिकर गंधयुक्त द्रव है जबकि अधिक कार्बन वाले मोम के समान रंगहीन ठोस है। C1से  C4  तक के कार्बोक्सिलिक अम्ल जल के साथ अंतराणुक हाइड्रोजन बंध बना लेते है अतः जल में विलेय होते है परन्तु जैसे जैसे कार्बन की संख्या बढ़ती… Continue reading »

कार्बोक्सिलिक अम्ल क्या है , नामकरण , बनाने की विधियां , Carboxylic acid

कार्बोक्सिलिक अम्ल (Carboxylic acid) परिचय : -COOH को कार्बोक्सिलिक अम्ल कहते है। इसका सामान्य सूत्र CnH2n+1-OOH या  CnH2nO2होता  है। इनका IUPAC नाम Alkanoic acid होता है। इनका साधारण नाम Form , acet , propion , buter , veler , capro अंत ic acid लगाकर नाम दिया जाता है। 5. अंत में सभी कार्बोक्सिलिक अम्ल NaHCO3से क्रिया करके CO2 गैस… Continue reading »

हैलोफार्म अभिक्रिया , ऐल्डोल संघनन , क्रॉस ऐल्डोल संघनन , कैनिजारो अभिक्रिया

हैलोफार्म अभिक्रिया (Hallofarm reaction): वे यौगिक जिनकी संरचना जैसी होती है वे समस्त पदार्थ हैलोजन व क्षार से क्रिया करके हैलोफॉर्म अभिक्रिया कहते है। नोट : CH3-CHO , CH3-CH2-OH , CH3-CO-CH3 , CH3-CH2-CO-CH3 , C6H5-CO-CH3 , CH3-CH[OH]-CH3 आदि पदार्थ हैलोफॉर्म अभिक्रिया प्रदर्शित करते है। प्रश्न : एथेनॉल व प्रोपेनल में अंतर दीजिये : उत्तर : एथेनॉल आयोडोफॉर्म परिक्षण देता है… Continue reading »