अल्कोहल और फिनोल बनाने की विधियां Methods of making alcohol and phenols

By  
सब्सक्राइब करे youtube चैनल

अल्कोहल बनाने की विधियाँ (Alcohol forming methods):

1.ग्रिन्यार अभिकर्मक से :

इस विधि द्वारा 10 , 20 , 30 एल्कोहल बनाये जाते है।

  • जब RMgX की क्रिया HCHO से की जाती है तो बने पदार्थ के जल अपघट्न से  10  एल्कोहल बनते है।
  • जब RMgX की क्रिया R-CHO से की जाती है बने पदार्थ के जल अपघट्न से द्वितीयक एल्कोहल बनते है।
  • जब RMgX की क्रिया कीटोन से की जाती है तो बने पदार्थ के जल अपघट्न से 30 एल्कोहल बनते है।
  1. एल्कीन (alkene) की जल योजन से :

यह क्रिया तनु H2SO4 के साथ की जाती है।

नोट : असम्मित एल्कीन में जल का योग मारकोनी कॉफ नियम से होता है।

CH2=CH2 + H2O →  CH3-CH2-OH

क्रियाविधि :

 क्रियाविधि :

यह क्रिया तीन पदों में होती है।

  1. पहले पद में प्रोटॉन ग्रहण किया जाता है जिससे कार्बोकैटायन बनता है।

CH3-CH=CH2 + H+ → CH3+CH-CH3

  1. दूसरे पद में कार्बोकैटायन पर जल का अणु प्रहार करता है।

3 अन्तिम पद में प्रोटोन के निष्कासन से एल्कोहल बनता है।

एल्किन के हाइड्रोबोरोनन ऑक्सीकरण से :  

जब एल्किन की क्रिया डाई बोरोन या बोरेन से की जाती है तो ट्राई एल्किल बोरेन बनता है इसका ऑक्सीकरण H2O2 व  NaOH से करने पर एल्कोहल बनते है।

  1. 3(CH2=CH2) + BH3 →  (CH3-CH2)3-B

(CH3-CH2)3-B + 3NaOH + 3H2O2 →  3H2O + Na3BO3 + 3CH3-CH2-OH

  1. 3(CH3-CH=CH2) + BH3 → (CH3-CH2-CH2)3-B

(CH3-CH2-CH2)3-B + 3NaOH + 3H2O2 →  3H2O + Na3BO+ 3CH3-CH2-CH2-OH

एल्डिहाइड कीटोन के अपचयन :

उपस्थिति NaBH4 या  LiAlH4 या  H2/Ni , Pt , Pd

एल्डिहाइड के अपचयन से 10  एल्कोहल जबकि कीटोन के अपचयन से 20 एल्कोहल बनते है।

R-CHO + 2H →  R-CH2-OH

कार्बोक्सिलिक अम्ल अथवा एस्टर का अपचयन LiAlH4 की उपस्थिति में करने पर

नोट : NaBHएस्टर का अपचयन नहीं करता।

फ़िनोल बनाने की विधियाँ :

  1. बेंजीन डाई एजोनियम की क्रिया जल से करने पर
  2. क्लोराइड बेंजीन से
  3. क्यूमिन से
  4. बेंजीन सल्फोनिक अम्ल से क्रिया

One Comment on “अल्कोहल और फिनोल बनाने की विधियां Methods of making alcohol and phenols

Comments are closed.