अनादर्श विलयन धनात्मक विचलन तथा ऋणात्मक विचलन में अंतर Non ideal solution types

Non ideal solution types in hindi अनादर्श विलयन धनात्मक विचलन तथा ऋणात्मक विचलन में अंतर positive and negative deviations difference

अनादर्श विलयन कितने प्रकार के होते है , अंतर और उदाहरण सहित समझाए। 

अनादर्श विलयन दो प्रकार के होते है।

  1. धनात्मक विचलन (positive deviations )
  2. ऋणात्मक विचलन (negative deviations )
 धनात्मक विचलन (positive deviations )  ऋणात्मक विचलन (negative deviations )
 1. ये राउल्ट के नियम से धनात्मक विचलन दर्शाते है।

अर्थात

P1 > P1X

P2 > P2X

P > P1X1  + P2X

  ये राउल्ट नियम से ऋणात्मक विचलन दर्शाते है।

अर्थात

P1 < P1X

P2 < P2X

P < P1X1  + P2X

 2. विलयन का आयतन विलेय तथा विलायक के कुल आयतन से अधिक होता है।

अर्थात

ΔVमिश्रण = +ve

 विलयन का आयतन विलेय तथा विलायक के कुल आयतन से कम होता है।

अर्थात

ΔVमिश्रण = -ve

 3. विलेय तथा विलायक को मिलाने पर ऊष्मा अवशोषित होती है।

अर्थात

ΔHमिश्रण = +ve

 विलेय तथा विलायक को मिलाने पर ऊष्मा उत्सर्जित होती है।

अर्थात

ΔHमिश्रण = -ve

 4. विलयन के घटको के मध्य आकर्षण शुद्ध घटको की तुलना में कम होता है।

उदाहरण – C2H5OH + H2O

 विलयन के घटको के मध्य आकर्षण शुद्ध घटको की तुलना में अधिक होता है।

उदाहरण -CHCl3

One thought on “अनादर्श विलयन धनात्मक विचलन तथा ऋणात्मक विचलन में अंतर Non ideal solution types”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *