एथिल अल्कोहल तथा अणुओ व ऐसिटोन व क्लोरोफॉर्म के मध्य अन्योन्य क्रिया को समझाइये

प्रश्न 1 : एथिल अल्कोहल तथा अणुओ के मध्य अन्योन्य क्रिया को समझाइये।  उत्तर : शुद्ध एथिल अल्कोहल व जल के अणुओ के मध्य प्रबल अंतरा अणुक हाइड्रोजन बंध पाए जाते है।  जब दोनों को परस्पर मिलाते है तो उनके मध्य अपेक्षा कृत दुर्बल हाइड्रोजन बंध बनते है अतः विलयन का आयतन अधिक हो जाता है , अतः विलयन का आयतन अधिक हो जाता है , अतः यह विलयन धनात्मक विचलन प्रदर्शित करता है।

intraction

प्रश्न 2 : ऐसिटोन व क्लोरोफॉर्म के मध्य अन्योन्य क्रिया को समझाए। 

उत्तर : ऐसिटोन के अणुओं के मध्य दुर्बल अंतरा अणुक बल होता है , इसी प्रकार कोलोरोफॉर्म के अणुओं के मध्य भी दुर्बल अंतरा अणुक बल होते है।  जब दोनों को परस्पर मिलाते है तो इनके अणुओं के मध्य प्रबल अंतरा अणुक हाइड्रोजन बंध बन जाता है अतः विलयन का आयतन कम हो जाता है यह विलयन ऋणात्मक विचलन दर्शाता है।

# Explain interaction between ethyl alcohol and molecule and acetone and chloroform एथिल अल्कोहल तथा अणुओ व ऐसिटोन व क्लोरोफॉर्म के मध्य अन्योन्य क्रिया को समझाइये

 

2 thoughts on “एथिल अल्कोहल तथा अणुओ व ऐसिटोन व क्लोरोफॉर्म के मध्य अन्योन्य क्रिया को समझाइये

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!