Monthly Archives: October 2017

जैव आवर्धन (biomagnification) , कारण , प्रभाव/हानि in hindi

biomagnification causes effects losses  in hindi जैव आवर्धन , कारण , प्रभाव/हानि जैव आवर्धन (biomagnification):- कुछ प्रदूषक खाद्य श्रृंखला के द्वारा अगले पोषण क्तर में पहुंचकर संचित हो जाते है अतः क्रमिक पोषणस्तरों में प्रदूषक पदार्थो की मात्रा बढ़तीे जाती है अतः क्रमिक पोषण स्तरों में प्रदूषक पदार्थो की मात्रा बढती जाती है इसे जैव आवर्धन (biomagnification )कहते है। कारण (biomagnification causes ):-  ये प्रदूषक विघटित नही होते तथा प्रत्येक पोषक स्तर पर संचित होते जाते है   जैसे क्व्ज् व पारे के लवण जैव आवर्धन से प्रभाव/हानि (biomagnification effects & losses ):- जलीय खाद्य श्रृंखला के द्वारा पक्षीयों में पहुँचकर अण्ड कवच को कमजोर कर देते है। क्योकि इनमें कैल्शियम उपायचय प्रभावित होता है इस प्रकार पक्षीयो की सृष्टि घट जाती है।

त्वरित सुपोषण व BOD बढना, जैव रासायनिक आवश्कयता क्या है Biochemical oxygen demand

त्वरित सुपोषण क्या है Quick nutrition in hindi  व BOD(Biochemical oxygen demand) बढना , (जैव रासायनिक आवश्कयता) (ताला) तालाब या झील का पानी स्वच्छ और शीतल होता है इसकी गहराई अधिक होती है। जल प्रदूषकों के खरा आने वाले पोषकोंके कारण इसमें शैवालों और अन्य जलीय जीवों की वृद्धि अधिक होती है। मुख्य पोषक पदार्थ नाइट्रेट और फास्फेट होते है धीरे-2 झील उधाली (कम गहरी) होती जाती है इसका पानी गरम हो जाता है। झील में आॅक्सीजन की कमी हो जाती है तथा झील का दम घुटने लगता है तथा झील की वायु में इस काल के प्रभाव को त्वरित सुपोषण कहते है। BOD(Biochemical oxygen demand) बढना , (जैव रासायनिक आवश्कयता):- जल में उपस्थित कार्बनिक एवं अकार्बनिक पदार्थो के विघटन के लिए आवश्यक आॅक्सीजन की मात्रा को ठव्क् कहते है। जल के प्रदूषित होने पर ठव्क् बढती है। तथा जल में घुलित आॅक्सीजन की कमी होने लगती है जिससे जलीय जीव मरने लगते है।

जलकुम्भी या वाटर हायसिंथ (आइर्कोनिया केसीपिज) Water hyacinth Eichhornia crassipes

Water hyacinth in hindi Eichhornia crassipes जलकुम्भी / वाटरहायसिंथ (आइर्कोनियाकेसीपिज):- एक जलीय खरपतवार है। इसमें अधिक जननहोता है तथायह हटाने की क्षमता से बहुत ज्यादा फैलता है। उसने जल मार्गो को अवरूद्ध कर दिया। पानी की गुणवत्ता घटने लगी एवं मछलियों की मृत्यु होने लगी। इसलिए इसे बंगाल का शेक/आँतक कहते है।

जल प्रदूषण क्या है , परिभाषा , कारण , उपाय water pollution कारक/प्रदूषक व प्रभाव

water pollution, definition water pollution factor / pollutants & effects जल प्रदूषण क्या है , परिभाषा कारक/प्रदूषक व प्रभाव कारण , उपाय जल प्रदूषण (water pollution) : जल के भौतिक रासायनिक तथा जैविक कारको में होने वाले अवांच्छित तथा हानिकारक परिवर्तनों को जल प्रदूषण कहते है। जल प्रदूषण के कारण:- 1- घरेलू प्रवाहित जल 2- औद्योगिक बहिः स्त्राव कारक/प्रदूषक(water pollution Factor / pollutant):-  जल में अपद्रव्यों की मात्रा 0.1 प्रतिशत होती है जिसमें मुख्य निम्न है:- 1     निलंबित पदार्थ जैसे बालू, रेत, कादा, चिकनी मिट्टी आदि। 2     कोलाइडी पदार्थ जैसे मल-मूत्र, जीवाणु, कागज एवं वस्त्र के रेशे। 3     विलिन ठोस जैसे नाइट्रेट, फास्फेट, अमोनिया आदि पौषक पदार्थ एवं कैद्रमियत, पारा, ताँबा, जिंक जैसी भारी धातुएँ।… Continue reading »

शैवाल प्रस्फुटन क्या है , एल्गल ब्लूम परिभाषा Algal bloom in hindi definition

Algal bloom in hindi definition  शैवाल प्रस्फुटन एल्गल ब्लूम:- जलाश्यों में पोषक पदार्थो की अधिक मात्रा के कारण प्लवकीय शैवालों तैरने वाले की अत्यधिक वृद्धि होती है। जिसे शैवाल प्रस्फुटन कहते है इससे जल की गुणवत्ता प्रभावित होती है। जिसे शैवाल प्रस्फुटन कहते है। इससे जल की गुणवत्ता प्रभावित होती है। यह पशुओं एवं मनुष्यों… Continue reading »

शोर (ध्वनि) प्रदूषण क्या है , परिभाषा , कारण , प्रभाव , रोकथाम , नियम noise pollution in hindi

शोर (ध्वनि) प्रदूषण क्या है , परिभाषा , कारण , प्रभाव , रोकथाम , नियम What is noise pollution, definition, causes, effects, prevention, rules ध्वनि प्रदूषण : अवाँछित उच्च स्तर को शोर प्रदूषण कहते है। इसका मानक डेसीबल कइ है तथा 80 db से अधिक ध्वनि स्तर को ध्वनि प्रदूषण कहा जाता है।      ध्वनि प्रदूषण के कारण(noise pollution causes):- 1    उद्योगों के कारण 2     स्वचालित वाहनों के कारण 3     जेट विमान, राॅकेट आदि 4     जनरेटर के कारण 5     ध्वनि विस्तारक यंत्रों के कारण 6     पठाखों के कारण प्रभाव(noise pollution effects):– ए-  श्रवण संबंधित:- अस्थाई बहरापन, कान का परदा फटना तथा स्थाई बहरापन होना। ब-  अन्य प्रभाव:- सिरदर्द हदृय स्पंदन दर बढ़ना, श्वसन दर बढ़़ना उल्टी, चक्कर आना, नींद न आना, तनाव व चिड़चिड़ापन।      रोकथाम(noise pollution prevention):- 1     वाहनों में साइलेंसर का प्रयोग। 2     उद्योगों में ध्वनि अवशोधक यंत्रों का प्रयोग। 3     ध्वनि विस्तारक यंत्रों की समय सीमा व ध्वनि स्तर का निर्धारण 4     साइलेंसर जनरेटर का प्रयोग 5     उच्च ध्वनि उत्पादन करने वाले प्रदूषणों के प्रयोग पर रोक। उपाय(noise pollution solution):-… Continue reading »

प्रदूषण (pollution) क्या है , वायु प्रदूषण परिभाषा , कारण , कारक , प्रभाव , रोकथाम के उपाय 

प्रदूषण (pollution in hindi) क्या है , वायु प्रदूषण परिभाषा , कारण , कारक , प्रभाव , रोकथाम के उपाय प्रदूषण:- वायु, जल, भूमि या मृदा के भौतिक रासायनिक और जैविक लक्षणों के होने वाले अवाँच्छित लक्षण जो हानिकारक होते है। ऐेसे परिवर्तनों को प्रदूषण कहते है। अवांछित परिवर्तन उत्पन्न करने वाले कारको को प्रदूषण कहते है। प्रदूषण की रोकथाम के लिए पर्यावरण (सुरक्षा) अधिनियम 1986 में बनाया गया।   वायु प्रदूषण(air pollution):-  वायु के भौतिक रासायनिक और जैविक लक्षणों में होने वाले अवाच्छित व हानिकारक परिवर्तनों को वायु प्रदूषण कहते है। कारण(air pollution causes):- चार कारण होते है- 1-उद्योगों के कारण। 2- रासायनिक उर्वरकों और कीटनाशी पदार्थाे के कारण 3- ईधन के अपूर्ण दहन से। 4- जनरेटर एवं पटाखों द्वारा 5- परमाणवीय परिक्षण एवं दुर्घटना द्वारा । 6 – स्वचालित वाहनों के कारण। वायु प्रदूषण के कारक(Air Pollution Factors):- CO , CO2 , NO , N2 के यौगिक, H2S , SO2 जैसी गैसे धूल, धुंआ एवं कणीय पदार्थ 2.5mm से कम व्यास के कण अधिक हानिकारक होते है। प्रभाव(air pollution… Continue reading »

12th class electrochemistry notes in hindi वैधुत रसायन पाठ 3

वैधुत रसायन electro chemistry notes in hindi 12th पाठ 3 वैधुत रसायन परिभाषा , सेल के प्रकार , वैधुत रासायनिक व वैधुत अपघटनी सेल गैल्वैनी सेल बनावट कार्यप्रणाली galvanic cell in hindi construction & working सेल आरेख क्या है व सेल आरेख कैसे बनाते है cell diagram in chemistry इलेक्ट्रोड विभव , ऑक्सीकरण & अपचयन… Continue reading »

संक्षारण क्या है Corrosion की रोकथाम , लोहे पर जंग लगने की क्रियाविधि

लोहे पर जंग लगने की क्रियाविधि & संक्षारण क्या है Corrosion in hindi की रोकथाम Prevention , working जब धातुओं का सम्पर्क वायु व नमी से होता है तो उसकी सतह पर अवांछनीय पदार्थ जैसे ऑक्साइड कार्बोनेट , सल्फेट , सल्फाइड आदि बन जाते है इसे संक्षारण कहते है। उदाहरण : (1) लोहे पर जंग लगना। (2) चांदी… Continue reading »

कोलराउस नियम क्या है व Kohlrausch’s law के अनुप्रयोग

Kohlrausch’s law in hindi and application कोलराउस नियम क्या है व कोलराउश नियम के अनुप्रयोग अनंत तनुता पर किसी विधुत अपघट्य की मोलर चालकता उसके द्वारा दिए गए धनायन व ऋणायन की मोलर आयनिक चालकता के योग के बराबर होती हैं। अतः  Λm0 = ν+ λ+0 + ν– λ–0 यहाँ Λm0 सीमांत मोलर चालकता ν+  व  ν– = धनायन व ऋणायन की संख्या λ+0 व λ–0  = क्रमशः धनायन व ऋणायन की… Continue reading »