सब्सक्राइब करे youtube चैनल
(what is meaning of science in hindi) विज्ञान का अर्थ क्या है : विज्ञान को अंग्रेजी में ‘साइंस’ कहते है , यह शब्द लेटिन भाषा के “साइन्सिया”  शब्द से लिया गया है जिसका अर्थ होता है जानना।

प्रयोगों और निष्कर्षों के द्वारा हमारे चारो तरफ के भौतिक और प्राकृतिक जगत के बारे में जानकारी प्राप्त करने को ही विज्ञान कहा जाता है।
जैसे उदाहरण : हम श्वशन के लिए जिस ऑक्सीजन गैस का उपयोग करते है , वह गैस हमारी प्रकृति में कैसे बनती है , ऐसी सभी प्रकार का अध्ययन हम विज्ञान में करते है।
इसी प्रकार हम जो अन्न खाते है , पानी पीते है आदि सामान्य चीजों के बारे में भी हम केवल विज्ञान की वजह से जान पाए है , इसलिए विज्ञान हमारे अध्ययन का मूल हिस्सा है , ताकि हम प्रकृति में छुपे हुए गुणों का अध्ययन हमारे दैनिक जीवन को सुखद बनाने के लिए कर सके।
विज्ञान की परिभाषा : “प्रकृति के क्रमबद्ध अध्ययन से प्राप्त और प्रयोगों के निष्कर्षों द्वारा प्रमाणित किये गये ज्ञान को ही विज्ञान कहते है “
जिस चीज के बारे में जानकारी प्राप्त करनी होती है उसके लिए विज्ञान में सबसे पहले उस चीज के बारे में गहनता से अध्ययन किया जाता है , इसके बाद उन बिन्दुओं पर विभिन्न प्रकार के प्रयोग किये जाते है , उन प्रयोग के आधार पर निष्कर्ष निकाले जाते है , इस सम्पूर्ण प्रक्रिया को विज्ञान कहा जाता है।
हमारे प्राचीनतम ग्रन्थ ऋग्वेद में विज्ञान शब्द के बारे में बताया गया है , विज्ञान शब्द संकृत भाषा के विज्ञानम शब्द से लिया गया है , विज्ञानम = वि + ज्ञा + ल्युट से मिलकर बना हुआ है जिसका मतलब होता है ‘विशेष ज्ञान’
वैज्ञानिक कार्यप्रणाली में निम्न बिन्दुओं को शामिल किया गया है –
  • मापन और आंकड़े प्राप्त करना , इनका मान आवश्यक नहीं है कि केवल गणितीय विधि द्वारा ही प्राप्त किया जाए।
  • परिकल्पना से सम्बंधित सभी सबूतों को इक्कठा करना।
  • परिकल्पना को प्रयोगों और अवलोकन द्वारा परिक्षण करना।
  • पहले से दिए गए सामान्य सभी नियमों को लागू करके इनकी जांच करना।
  •  प्रयोगों की पुनरावृति अर्थात बार बार प्रयोगों द्वारा आंकड़ो की जांच करना।
  • इनकी जांच और टेस्ट करने के लिए उच्च स्तर पर कार्यवाही करना।

विज्ञान की शाखाएँ

विज्ञान को मूल रूप से तीन शाखाओं में बांटा गया है –
2. रसायन विज्ञान
1. भौतिक विज्ञान : विज्ञान की इस शाखा में प्रकृति में विद्यमान कणों के व्यवहार बारे में , प्रकृति के विभिन्न प्रकार के गुणों के बारे में जैसे गुरुत्वाकर्षण बल आदि के बारे में , इसके अलावा ऊर्जा , गति , विद्युत , चुम्बकीय क्षेत्र , नाभिकीय अभिक्रिया और अन्य कई प्रकार के बलों के बारे में भौतिक विज्ञान में अध्ययन किया जाता है।
2. रसायन विज्ञान : विज्ञान की इस शाखा में कणों की आपस में अभिक्रियाओं का और कणों के गुणों के बारे में मुख्य रूप से अध्ययन किया जाता है , जैसे किसी पदार्थ का सबसे छोटा कण क्या होता है और कोई भी पदार्थ कणों से मिलकर किस प्रकार बना होता है , कौनसा बल इन सूक्ष्म कणों को आपस में बांधकर रखता है ऐसी सम्पूर्ण जानकारी हमें रसायन विज्ञान में प्राप्त होती है।
3. जीव विज्ञान : विज्ञान कि वह शाखा जिसमें जीवों के बारे में अध्ययन किया जाता है जैसे विभिन्न प्रकार के जीवो की संरचना , कार्यप्रणाली आदि।
जैसे मनुष्य के शरीर की आंतरिक संरचना का अध्ययन करना , और इसी प्रकार जानवरों के शरीर की आंतरिक संरचना का अध्ययन हम जीव विज्ञान में करते है।
जैसे हमारा शरीर श्वशन प्रक्रिया किस प्रकार संपन्न करता है और कौनसे अंग किस प्रकार कार्य करते है आदि इस विज्ञान की शाखा में अध्ययन करते है।