कूलॉम के नियम का सदिश निरूपण (vector representation of coulomb’s law)

(vector representation of coulomb’s law form in hindi) कूलॉम के नियम का सदिश निरूपण : कूलॉम के नियम के अनुसार दो बिंदु आवेश q1 & q2 के मध्य लगने वाला विद्युत बल दोनों के परिमाण (मान) के गुणनफल के समानुपाती तथा उनके बीच की दूरी के वर्ग के व्युत्क्रमानुपाती होता है।

चूँकि आवेश धनात्मक या ऋणात्मक कुछ भी हो सकता है अतः आवेशों के परिमाण को  |q1| & |q2में प्रयोग किया गया है।
क्योंकि हम जानते है की बल एक सदिश राशि है अतः कूलॉम के नियम को सदिश रूप में लिखा जा सकता है , माना दो आवेश q1 & qहै तथा दोनों की प्रकृति समान है ये आवेश बिंदु A तथा B पर चित्रानुसार रखे है।
चूँकि दोनों आवेश समान प्रकृति के है अतः ये एक दूसरे को प्रतिकर्षित करेंगे।

A के स्थिति सदिश को निम्न प्रकार व्यक्त कर सकते है

F12
F12
F12

ठीक इसी प्रकार

आवेश q1 से  q2 की  ओर वेक्टर को निम्न प्रकार लिखा जा सकता है।

ठीक इसी प्रकार आवेश qसे qकी  ओर वेक्टर को निम्न प्रकार लिखा जा सकता है।

एकांक वेक्टर के रूप में लिखने पर दोनों को निम्न प्रकार व्यक्त किया जाता है

माना qसे qआवेश पर आरोपित बल F12 vector  है तथा आवेश q1 से  qपर आरोपित बल F21 vector  है तो

चूँकि हम जानते है की r12 = r21 = r
अतः

One thought on “कूलॉम के नियम का सदिश निरूपण (vector representation of coulomb’s law)”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *