आन्त्र ज्वर (typhoid) के लिए सामान्यतः उपयोग की जाने वाली औषधि है typhoid used for which disease in hindi

By  

typhoid drug used for which disease in hindi आन्त्र ज्वर (typhoid) के लिए सामान्यतः उपयोग की जाने वाली औषधि है ?

प्रश्न :  क्लोरोमाइसिटिन का प्रयोग किस रोग के उपचार के लिए किया जाता है ?
उत्तर : टाइफाइट

176. आन्त्र ज्वर (typhoid) के लिए सामान्यतः उपयोग की जाने वाली
औषधि है-
(अ) क्लोरोक्वीन (स) ऐस्कॉर्बिक अम्ल
(स) सल्फा ड्रग (द) क्लोरोमाइसिटिन
Ans- (द) आन्त्र ज्वार (Typhoid) के लिए सामान्यतः क्लारोमाइसिटिन का उपयोग होता है।
177. रेडियो कार्बन डेटिंग का इस्तेमाल निम्नलिखित की उम्र का अनुमान लगाने में किया जाता है-
(अ) शिशुओं (स) जीवाश्म
(स) शैलों (द) प्राचीन इमारतों
Ans- (स) रेडियो कार्बन डेटिंग का इस्तेमाल जीवाश्म की उम्र का अनुमान लगाने में किया जाता है।
ऽ यूरेनियम डेटिंग के द्वारा शैलो (पत्थरों) एवं प्राचीन इमारतों का उम्र अनुमान लगाने में होता है।
178. मानव जाति के लिए ओजोन महत्वपूर्ण है क्योंकि यह-
(अ) वायुमंडल में हाइड्रोजन छोड़ती है
(स) पृथ्वी का तापमान बनाए रखती है
(स) पराबैंगनी किरणों को रोकने के लिए एक रक्षा आवरण बनाती
(द) वायु में ऑक्सीजन छोड़ती है
Ans- (स) मानव जाति के लिए ओजोन महत्वपूर्ण है क्योंकि यह सूर्य से निकलने वाली पराबैगनी किरणों को रोकने के लिए एक रक्षा आवरण का निर्माण करता है।
179. वायुमंडल में जलने में सहायता देने वाली गैस है-
(अ) नाइट्रोजन (स) हीलियम
(स) ऑक्सीजन (द) कार्बन डाइऑक्साइड
Ans- (स) ऑक्सीजन (O2) वायुमंडल से जलने में सहायता देने वाली गैस है।
180. मानव तंत्र में रोगों से लड़ने वाले पदार्थ हैं-
(अ) डिऑक्सीराइबोन्यूक्लीक अम्ल
(स) कार्बोहाइड्रेट
(स) एन्जाइम
(द) नवितबमदज (antibody)
Ans- (द) प्रतिरक्षी (Antibody) मानव तंत्र में रोगों से लड़ने वाले पदार्थ है।
181. निर्जलीकरण के दौरान, शरीर से कम हो जाने वाला पदार्थ है। (अ) शर्करा (स) सोडियम क्लोराइड
(स) कैल्सियम फॉस्फेट (द) पोटैशियम क्लोराइड
Ans- (स) सोडियम क्लोराइड निर्जलीकरण के दौरान शरीर में कम हो जाने वाला पदार्थ है।
182. भारत में उन स्थानों का क्रम जहां तांबा, सोना, लोहा तथा कोयला पाये जाते हैं इस प्रकार है-
(अ) कोलार, खेतड़ी, कुद्रेमुख, झरिया।
(स) झरिया, कोलार, कुद्रेमुख, खेतड़ी।
(स) कुद्रेमुख, झरिया, कोलार, खेतड़ी।
(द) खेतड़ी, कोलार, कुद्रेमुख, झरिया।
Ans- (द) खेतड़ी कोलार केन्द्रमुख, झरिया से तांबा सोना, लोहा तथा कोयला पाये जाते हैं।
183. आग लगने तथा फैलने की सबसे कम सम्भावना निम्नलिखित पदार्थ में है-
(अ) नाइलॉन (स) टेरीकॉट
(स) सूती (द) पॉलिएस्टर
Ans- (स) आग लगने तथा फैलन की सबसे कम सम्भावना सुती में होता है।
ऽ इस्टर के बहुलीकरण से पॉलिस्टर (Polyester) प्राप्त होता है इसका उपयोग वस्त्र बनाने में होता है।
184. लोहे का सबसे प्रचुर स्रोत है-
(अ) दूध (स) हरी सब्जियां
(स) अंडे न (द) बीन्स (फलियां)
Ans- (स) लोहे का सबसे प्रचुर स्रोत हरी सब्जियां है।
ऽ दूध में विटामिन श्ब्श् को छोड़कर सभी विटामिन पाये जाते है।
185. पन्ना (emerald) निम्नलिखित का बना होता है-
(अ) कार्बन (स) सिलिका
(स) बेरिलियम (द) सोना
Ans- (स) पन्ना (emerald) बेरिलियम का बना होता है।
186. मानव शरीर के तंत्र में विटामिन निम्नलिखित कार्य नहीं कर सकते-
(अ) पाचन में मदद
(स) औषधियों के उपापचय में मदद
(स) शारीरिक वृद्धि में सहायता
(द) ऊर्जा प्रदान
Ans- (द) मानव शरीर में विटामिन कर्जा प्रदान नहीं करता है।
187. गैसोलीन को निम्नलिखित से मिश्रित करके गैसोहॉल बनाते हैं-
(अ) मेथिल ऐल्कोहॉल (स) टेट्राएथिल लेड
(स) एथिल ऐल्कोहॉल (द) ब्यूटेन
Ans- (स) गैसोलीन में ब्यूटेन मिलाने पर गैसोहॉल का निर्माण होता है।
ऽ मिथाइल ऐल्कोहॉल (Methyl Alcohol) यह एक विषैल द्रव होता है, इसके सेवन से व्यक्ति अंधा हो जाता है तथा अधिक मात्रा में पी लेने से प्रत्यु तक भी हो जाता है।
188. तात्कालिक शक्ति के लिए धावकों को दिया जाता है-
(अ) सूक्रोज (स) विटामिन सी
(स) सोडियम क्लोराइड (द) ग्लूकोज
Ans- (द) तात्कालिक शक्ति के लिए धावको को ग्लूकोज दिया जाता है।
189. बीज बोते समय सामान्यतया काम में लाए जाने वाले उर्वरक में होता है-
(अ) नाइट्रेट (स) पोटैश
(स) फॉस्फोरस (द) कैल्सियम
Ans- (अ) बीज बोते समय सामान्तया काम में लाए जाने वाले उर्वरक में नाइट्रेट होता है।
190. भोजन पकाते समय अधिकतम नष्ट होने वाला पदार्थ है-
(अ) वसा (स) कार्बोहाइड्रेट
(स) प्रोटीन (द) विटामिन
Ans- (द) विटामिन भोजन पकाते समय नष्ट हो जाता है।
191. रेफ्रीजरेटर में प्रशीतलक का काम करने वाला द्रव है-
(अ) द्रवीय कार्बनडाइऑक्साइड
(स) द्रवीय नाइट्रोजन
(स) द्रवीय अमोनिया
(द) अति शीतल जल
Ans- (स) रेफ्रीजरेटर में प्रशीतलक का काम करने वाला द्रव द्रवीय अमोनिया है।
192. ब्रेड बनाने में गूंधा हुआ आटा निम्नलिखित के कारण फूलता है-
(अ) पकाने की प्रक्रिया में ऊष्मा की क्रिया
(स) गूंधे हुए आटे में केशिका (capillary) क्रिया
(स) गूंधने के काम में लाए जाने वाले पानी का वाष्पीकरण
(द) किण्वन प्रक्रम के दौरान बनने वाली कार्बन डाइऑक्साइड की
मोचन क्रिया
Ans- (द) किण्वन प्रक्रम के दौरान बनने वाली कार्बन डाइऑक्साइड की मोचन क्रिया के कारण ब्रेड बनाने में गूथा हुआ आटा उठता (फूलता) है।
193. सागर में पर्याप्त मात्रा में मिलने वाला तथा विशेष न्यूनताजन्य रोगों
में दिया जाने वाला पदार्थ है-
(अ) फ्लू ओरीन
(स) सोडियम क्लोराइड
(स) लोहा
(द) आयोडीन
Ans- (द) आयोडीन सागर में पर्याप्त मात्रा में मिलने वाला तथा विशेष न्यूनताजन्य रोगों में दिया जाने वाला पदार्थ है।
ऽ फ्लूओरीन की कमी से फ्लूरोसिस नामक रोग होता है।
ऽ लोहा की कमी से एनेमिया नामक रोग होता है।
ऽ NaCl की अधिकता से High Blood Presure एवं कमी से स्वू ठण्च्ण् होता है।
194. सभी अम्लों में निम्नलिखित तत्व अनिवार्य रूप से होता है-
(अ) ऑक्सीजन (स) क्लोरीन
(स) सल्फर (गंधक) (द) हाइड्रोजन
Ans- (द) Hydrogen सभी अम्लों में अनिवार्य रूप से होता है।
195. इथनॉल के अत्यधिक सेवन से जिस अंग को हानि पहुंचती है उसका नाम है-
(अ) वृक्क (स) फेफड़े
(स) हृदय (द) यकृत
Ans- (द) इथनॉल या इथाइल एल्कोहल के सेवा से यकृत (Liver) को हानि पहुँचता है।
196. तेल कूओं में, तेल, जल और गैस इस आरोही क्रम में होते हैं-
(अ) गैस, तेल, जल
(स) जल, तेल, गैस
(स) जल, गैस, तेल
(द) तेल, गैस, जल
Ans- (स) तेल कूओं में तेल, जल और गैस का आरोही क्रम जल, तेल एवं गैस है।
197. जिप्सम के इस्तेमाल की सलाह मुख्य रूप से ऐसी मृदाओं के लिए
दी जाती है जो होती हैं-
(अ) क्षारीय (स) नमकीन
(स)fallsia (waterlogged) (द) अम्लीय
।दे. (अ) जिप्सम के इस्तेमाल की सलाह मूर्य रूप से ऐसी मृदाओं के लिए दी जाती है जो क्षारीय होती है।
198. पीने वाला सोडा होता है-
(अ) उदासीन (neutral) (स) ऑक्सीकारक
(स) प्रकृति से अम्लीय (द) प्रकृति से क्षारकीय
Ans- (स) प्रकृति रूप से अम्लीय पीने वाला सोडा होता है।
ऽ कार्बोनेशन प्रक्रिया द्वारा जल एवं CO2, के संयोग से जो पदार्थ तैयार होता है, वह कार्बोनिक एसिड कहलाता है। इसकी प्रकृति अम्लीय होती है । इसकी अम्लीयता को कम कर पीने योग्य सोडावाटर बनाने के लिए इसमें सोडियम बाइकार्बोनेट जैसे क्षारीय लवण मिलाए जाते हैं । यही Carbonated soft drink पेय सोडा वाटर कहलाता है।
199. दो या दो से अधिक धातुओं का मिश्रण कहलाता है-
(अ) अमलगम (पारदधातु मिश्रण)
(स) क्षारीय धातु
(स) उत्कृष्ट धातु
(द) मिश्रधातु
Ans- (द) दो या दो से अधिक धातुओं का मिश्रण मिश्रधातु कहलाता है।
पारद धातु (पारा) मिश्रण को अमलगम कहते हैं।
200. संक्रमण तथा अपक्षय को रोकने वाली औषधि कहलाती है-
(अ) निंनसमपज (antiseptic)
(स) मलेरियारोधी औषधि (antimalarial drug)
(स) रोगाणु नाशी (germicide)
(द) पीडाहारी (analgesic)
Ans- (अ) संक्रमण अपक्षय को रोकने वाली औषधि प्रतिरोधी (Antiseptic) कहलाता है।
ऽ Antiseptic औषधियाँ सूक्ष्म जीवाणुओं को मारने एवं उनकी वृद्धि को रोकने में सहायक होती है । यह रक्त को दूषित होने से रोकने व घाव (Wounds) आदि भरने में विशेष रूप से सहायक होता है।
201. ज्वरान्तक (antipyretic) वह दवा है जो
(अ) शरीर के ताप को कम करती है
(स) शरीर के ताप को बढ़ाती है
(स) संक्रमण दूर करती है।
(द) विषाणु के आक्रमण से बचाती है
Ans- Antipyretic (ज्वरान्तक) वह दवा है जो शरीर के ताप को
कम करती है।
ऽ Antipyretic का प्रयोग शरीर दर्द एवं बुखार उतारने में किया जाता है। Ex- ऐस्परीन, क्रोसीन इत्यादि
202. मिश्रणों से यौगिकों को उनके विशिष्ट रूप में अलग करने का प्रक्रम कहलाता है-
(अ) वियोजन (स) फिल्टरन
(स) विश्लेषण (द) शोधन
Ans- (द) शोधन क्रिया द्वारा मिश्रणों से यौगिकों को उनके विशिष्ट रूप् में अलग किया जाता है।
203. एक रासायनिक यौगिक जो दो तत्वों से बना है-
(अ) द्विअंगी (binary)
(स) बाइकार्बोनेट
(स) त्रिअंगी (ternary)
(द) उभयधर्मी (amphoteric)
Ans- (अ) एक रासायनिक यौगिक जो दो तत्वों से बना है द्विमांगी (Binary) कहलाता है।
ऽ यौगिक (ब्वउचवनदक)-यौगिक वह शुद्ध पदार्थ है जो दो या दो से अधिक तत्वों के भार के विचार से एक निश्चित अनुपात में रासायनिक संयोग के फलस्वरूप बनता है Ex- H2ONaCl वैसे पदार्थ जो अम्ल तथा क्षार दोनों जैसा आचरण करता है अभयधर्मी पदार्थ (Amphoteric substance) कहलाता है- [H2O] AI2O3] nZO
204. जीवित तंत्रों के अध्ययन से संबंधित रसायन की शाखा का नाम है-
(अ) कार्बनिक रसायन
(स) भौतिक रसायन
(स) जैविक रसायन
(द) अकार्बनिक रसायन
Ans- (स) जीवित तंत्रों के अध्ययन से संबंधित रसायन की शाखा को जैविक रसायन कहते हैं।
ऽ कार्बन एवं उसके यौगिकों के अध्ययन को कार्बनिक रसायन कहते हैं। कार्बन के यौगिकों को छोड़कर अन्य रासायनिक यौगिकों का अध्ययन अकार्बनिक रसायन कहलाता है।
205. बोरिक अम्ल है-
(अ) मृदुल प्रतिरोधी (antiseptic)
(स) रोगाणुनाशी
(स) तेल प्रतिरोधी
(द) प्रतिजैविक (antibiotic)
Ans- (अ) बोरिक अम्ल Antiseptic है।
बोरिक अम्ल का उपयोग Insecticide के रूप में कॉकरोचों, मक्खी आदि कीड़े-मकौड़ों को नष्ट करने में भी किया जाता है। लकड़ी में लगे घुन तथा अन्य कीड़ों को नष्ट करने में भी उपयोगी होता है।