WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

क्रिस्टलीय ठोस के प्रकार उदाहरण सहित Type of crystalline solid with examples in hindi

Type of crystalline solid with examples in hindi क्रिस्टलीय ठोस के प्रकार उदाहरण सहित

क्रिस्टलीय ठोसों का वर्गीकरण या प्रकार :

अन्तराणविक बलों के आधार पर क्रिस्टलीय ठोस चार प्रकारों में वर्गीकृत किया हैं।

(1) धात्विक ठोस या धात्विक क्रिस्टल

(2) सहसंयोजक ठोस या नेटवर्क ठोस

(3) आयनिक ठोस

(4) आण्विक ठोस

आण्विक ठोस 3 प्रकार के होते है

(१) अध्रुवीय ठोस

(२) ध्रुवीय ठोस

(३) हाइड्रोजन बन्ध युक्त ठोस

आइये इन सबके बारे में विस्तार से अध्ययन करते है।

(1) धात्विक ठोस या धात्विक क्रिस्टल :

  • इसमें धनायन ,इलेक्ट्रान रूप समुद्र में डूबे रहते है।
  • ये विधुत और ऊष्मा के चालक होते है।
  • ये कठोर तथा उच्च गलनांक वाले होते है।
  • ये अघात वर्धनीय तन्य होते है।
  • उदाहरण : सभी धातु जैसे cu , Al , Fe , Ni , Cr , Mg .

(2) सहसंयोजक ठोस या नेटवर्क ठोस :

  • इसमें परमाणुओं के मध्य सहसंयोजक बंध पाया जाता है। ये परमाणु परस्पर मिलकर विशेष अणु का निर्माण करते है।
  • ये अत्यधिक कठोर व उच्च गलनांक वाले होते है।
  • ये ठोस तथा पिघली हुई अवस्था में विधुत के कुचालक होते है।
  • उदाहरण : हीरा , Sic (सिलिकॉन काबोइड) , AlV (एल्युमीनियम नाइट्राइड)

अपवाद ग्रेफाइड : यह षट्कोणीय परतो के रूप में होता है ये परते एक दूसरे पर फिसलती है अतः ग्रेफाइड नरम होता है इसमें स्वतंत्र इलेक्ट्रान होने के कारण यह विधुत का सुचालक होता है।

(3) आयनिक ठोस :

  • इनके अवयवी कण आयन होते है।
  • इनके आयनो के मध्य प्रबल वैधुत आकृषण होता है अतः ये कठोर व उच्च गलनांक वाले होते है।
  • ये भंगुर होते है।
  • ये ठोस अवस्था में विधुत के कुचालक परन्तु पिघली हुई अवस्था में विधुत के सुचालक होते है।
  • उदाहरण : NaCl , KCl , K2SO4, NH4Cl , CaCl , FeCl3आदि।

(4) आणविक ठोस :

इनके अवयवी कण अणु होते है ये 3 प्रकार के होते है।

(१) अध्रुवीय ठोस :

  • इसके अणुओ के मध्य लन्दन बल होते है।
  • ये कमरे के ताप पर गैस या द्रव होते है।
  • ये विधुत के कुचालक होते है।
  • इनका गलनांक कम होता है।
  • ये मुलायम होते है।
  • उदाहरण : I2, Cl2, C6H6, CO2आदि।

(२) ध्रुवीय ठोस :

  • इनके अणुओ के मध्य द्विध्रुव द्विध्रुव आकृषण होता है।
  • ये कमरे के ताप पर गैस या द्रव होते है।
  • ये ठोस अवस्था में विधुत के कुचालक होते है।
  • उदाहरण : HCl , SO2आदि।

(३) हाइड्रोजन बंध युक्त ठोस :

  • इनके अणुओ के मध्य अंतरा अणुक हाइड्रोजन बंध होते है।
  • ये विधुत के कुचालक होते है।
  • ये मुलायम होते है।
  • उदाहरण : बर्फ।

प्रश्न : निम्न ठोसों का वर्गीकरण कीजिये।

Fe , C6H6 ,SiC , K2SO4, NH2-CO-NH2

उत्तर :

ठोसठोस का प्रकार
Feधात्विक
C6H6आणविक
SiCसहसंयोजक
K2SO4आयनिक
NH2-CO-NH2आणविक

12 comments

Comments are closed.