टूलबार किसे कहते है | टूल्स की परिभाषा क्या है | टेबल्स एंड बॉर्डर्स टूलबार Toolbar in hindi meaning

By  

Toolbar in hindi meaning in computer टूलबार किसे कहते है | टूल्स की परिभाषा क्या है | टेबल्स एंड बॉर्डर्स टूलबार ?

सारणी-III : टेबल्स एंड बॉर्डर्स टूलबार
टूल्स का नाम विवरण
äaw Table दस्तावेज में जहाँ भी चाहें टेबल बना सकते हैं, उसके बाद रो कॉलम माउस ड्रैग कर बना सकते हैं। म्तंेमत टेबल के खानों के लाइन को हटाता है तथा उन खानों की सारी सामग्री को मिला (Merge) देता है।
Line Weight टेबल के रेखाओं को मोटा या पतला (Thick or Thin) करना संभव करता है।
Line Style भिन्न-भिन्न तरह के रेखा खींचना (äaw Line) संभव करता है।
Border color टेबल के बॉर्डर के रंग को परिवर्तन करने में सक्षम बनाता है।
Outside Border चयनित टेक्स्ट, पैराग्राफ या चित्र इत्यादि के चारो ओर बॉर्डर बनाता तथा हटाता है।
Fill color चयनित वस्तु पर रंग भरता है तथा पहले से भरे हुए रंग को हटाना, बदलना संभव करता है।
Insert Table दस्तावेज में रो तथा कॉलम की संख्या पूछ कर टेबल बनाता है।
Merge Cells दो लगातार चयनित खनों के सामग्री को संयुक्त कर देता है।
Split Cells चयनित टेबल के खानों को रो तथा कॉलम में विभक्त कर देता है ।
lign Top Left टेबल के खानों की सामग्री बायें ऊपर से लिखना शुरू करता है।
Distribute चयनित रो तथा खानों को समान ऊँचाई में परिवर्तित करता है।
Rows Evently
Distribute चयनित सारे कॉलम या खानों को समान चैड़ाई में बदल देता है।
Columns Evently
Table Auto पूर्व निर्धारित बॉर्डर फार्मेट तथा शेडिंग का उपयोग कर टेबल बनाता है। टेबल के खाने सामग्री (Content) के अनुसार स्वतः परिवर्तित हो जाते हैं।
Change Text टेक्स्ट की दिशा में परिवर्तन करने में सक्षम बनाता है।
Direction
Sort Ascending चयनित चीजों (Selected items) को बढ़ते हुए क्रम में या । र्से के रूप में श्रेणीबद्ध करता है। Sort Descending चयनित चीजों को घटते हुए क्रम में j~;k to A के रूप में श्रेणीबद्ध करता है।
Auto Sum एक सूत्र क्षेत्र बनाता है जो टेबल के खानों के मान को जोड़कर प्रदर्शित करता है।
सारणी-IV : ड्राइंग टूलबार
टूल्स का नाम विवरण
äaw डाइंग में कोई परिवर्तन करने में सक्षम बनाता है। जैसे-फ्लिप (Flip), घुमाना (Rotate), टेक्स्ट रैपिंग (Text wrapping) etc-Select Objects किसी विशेष ड्राइंग वस्तु को चयन करने में सक्षम बनाता है।
Free Rotate Autoshapes बटन पर बसपबा करने पर कई आकारों की सूची प्राप्त होती है। सूची से एक सेट का
Auto Shapes चयन कर माउस क्तंह कर प्राप्त सूची से एक आकार का चयन करते हैं।
Arrow यह भी रेखा खिचने में प्रयुक्त होता है परन्तु खींची गई रेखा के एक ओर तीर का निशान बन जाता है। (Arrow head Line)
स्पदम यह रेखा खींचने (äaw) के लिए उपयोग होता है।
Rectangle आयत (Rectangle) बनाने में प्रयुक्त होता है।
Oval अंडाकार वृत्त (Oval) या वृत्त (Circle) बनाने में प्रयुक्त होता है।
Text Box एक टेक्स्ट बॉक्स बनाने में प्रयोग होता है, जिनके अंदर हम कोई टेक्स्ट लिख सकते हैं।
Word Art Word Art डालने में प्रयुक्त होता है।
Fill Color ड्राइंग किये गये चित्र या आकार में रंग भरने में प्रयुक्त होता है।
Clip Art क्लिप आर्ट डालने में प्रयुक्त होता है।
Font Color चयनित (Selected) टेक्स्ट को हमारे द्वारा चुने गये रंग में परिवर्तित करता है।
Line Color बनाये गये वस्तु (äaw Object) के लाइन का रंग में परिवर्तन करना प्रयुक्त होता है।
Line Style इसके द्वारा ड्राइंग में प्रयोग किये गये रेखा (Line) के रूप, (जैसे- रेखा की मोटाई, डबल रेखा आदि) में परिवर्तन किया जा सकता है।
Dash Style इसके प्रयोग से रेखा को भिन्न-भिन्न बिन्दु (Dotted) स्टाइल में परिवर्तित किया जा सकता है।
Arrow Style Arrow युक्त लाइन के स्टाइल में परिवर्तन करने में प्रयुक्त होता है।
Shadow चयनित (Selected) वस्तु को छाया शैली (Shadow Style) में परिवर्तन करने में प्रयुक्त होता है। 3-D चयनित वस्तु (selected Object) को 3-D शैली में परिवर्तन करने में प्रयुक्त होता है।
फूटनोट, एन्ड नोट एवं रूलर
फूटनोट: दस्तावेज के प्रत्येक पृष्ठ के अंत में दिखने वाला टेक्स्ट फूटनोट कहलाता है।
एन्डनोट: पूरे दस्तावेज के अंत में दिखने वाला टेक्स्ट एन्डनोट कहलाता है।
लर: आमतौर पर रूलर मुख्य टूलबार के नीचे पाया जाता है। इसका उपयोग जल्दी से अपने दस्तावेज का स्वरूप बदलने के लिए किया जाता है। MS&Word में दो रूलर होता है। (I) क्षैतिज (Horçontal), (II) उर्ध्वाधर (Vertical)
रूलर प्रदर्शन के लिए-
1. मेन्यूबार के टपमू पर क्लिक करते हैं।
2. रूलर विकल्प को चेक मार्क देते हैं। अर्थात रूलर पर क्लिक करते हैं। अब यह टूलबार के नीचे प्रकट होता है।
दस्तावेज देखें
MS-Word में पाँच तरह से दस्तावेज को देख सकते हैं-
1. सामान्य दृश्य: इसका उपयोग अक्सर होता ह तथा स्वरूपण (Formatting), जैसे- रेखा अंतराल (Line Spacing), फॉन्ट, बिन्दु आकार तथा इटैलिक्स प्रदर्शित करता है।
2. वेब लेआउट दृश्यः वेब लेआउट दृश्य कर ब्राउजर, जैसे- इंटरनेट एक्सप्लोरर में खुले वेबपज की तरह दिखता है।
3. प्रिन्ट लेआउट दृश्यः प्रिन्ट लेआउट दृश्य के रूप में दस्तावेज प्रिन्ट होने के बाद पेज के तरह दिखता है। इसे पेज लेआउट भी कहते हैं।
4. आउटलाइन दृश्य: यह दस्तावेज को आउटलाइन रूप में दिखाता हैं इनमें बिना टेक्स्ट के शीर्षक प्रदर्शित किया जा सकता है। यदि हम शीर्षक को इधर-उधर दिखाते हैं तो टेक्स्ट भी इनके साथ-साथ चलता है। सारे शीर्षक ो दस्तावेज में कही भी होते हैं बायें तरफ आ जाते है।
5. रीडिंग लेआउट दृश्य: यह दस्तावेज को अधिक सुगमता से पढ़ने में सक्षम बनाता है तथा उसी प्रकार स्क्रीन का स्वरूपण करता है।
टेक्स्ट क्षेत्र
रूलर के नीचे के बड़े क्षेत्र को टेक्स्ट क्षेत्र कहते हैं, जहाँ हम अपने दस्तावेज को लिख सकते हैं। टेक्स्ट क्षेत्र के बायें कोने में छोटी सी खड़ी रेखा जो ब्लिक (Blinking line) करती रहती है उसे कर्सर कहते हैं। यह हमारे टेक्स्ट की शुरुआत बिन्दु है। अगर हम कुछ टेक्स्ट क्षेत्र में लिखते हैं तो इसी बिन्दु से लिखना आरंभ होता है ।
दस्तावेजों में विभिन्न रंगों के अंडरलाइन का अर्थ
अगर हमारे स्क्रीन पर बिना अंडरलाइन फार्मेटिंग का प्रयोग किये टेक्स्ट के नीचे लहराती हुई (Wavy) रेखा आती है तो इसके निम्नलिखित कारण हो सकते हैं-
1. लाल या हरी वेभी अंडरलाइन: जब हम स्वतः वर्तनी और व्याकरण जाँच करते हैं, MS&Word वर्तनी में गलतियों को प्रदर्शित करने के लिए वेभी लाल अंडरलाइन तथा व्याकरण में गलतियों को एवं जा शब्द वर्ड डिक्शनरी में नहीं है उसे प्रदर्शित करने के लिए हरी वेभी अंडरलाइन दर्शाता है।
2. नीला वेभी अंडरलाइन: MS&Word बेमेल स्वरूपण ;Inconsistent Formatting) के लिए संभव उदाहरण को वेभी नीला अंडरलाइन द्वारा प्रदर्शित करता है।
3. नीला या दूसरे कलर के अंडरलाइन: हाइपरलिंक प्रदर्शित टैक्स्ट तथा underline नीला या डिफाल्ट रंग के होते हैं।
4. बैंगनी वेभी अंडरलाइ: XML दस्तावेज में XML स्किमा जो दस्तावेज से जुड़ा है, ग्डस् संरचना से जुड़ा नहीं रहता है तो, MS&Word बैंगनी वेभी अडरलाइन द्वारा प्रदर्शित करता है।
MS&Word से बाहर
जब हम MS&Wors में अपने कार्य को सुरक्षित फिर बाहर आने के पहले अपने कार्य को सुरक्षित कर लेते है।
फिर बाहर आने के लिए-
1. फाइल पर क्लिक करते है।
2. Exit पर क्लिक करते है जो ड्रॉप डाउन मेन्यू में सबसे नीचे स्थित होता है।
3. अगर हमने कुछ टेक्स्ट लिखा (Type) होगा तो हमें एक संदेश मिलता है “Do you wan to save बींद हमे जव Document1” सेव के लिए हाँ क्लिक करें नही ंतो नहीं क्लिक करें।
4. सही फोल्डर का चयन कर फाइल नाम लिखते हैं।
5. Save क्लिक करें।