तापमिति क्या है , परिभाषा , सूत्र , उदाहरण (thermometry in hindi)

(thermometry in hindi) तापमिति क्या है , परिभाषा , सूत्र , उदाहरण : भौतिक विज्ञान की वह शाखा जिसमें ताप का अध्ययन तथा इसके मापन के लिए विभिन्न प्रकार की युक्तियों का निर्माण और उन युक्तियों का उपयोग किया जाता है उस शाखा को ही तापमिति कहते है।

जब हम ताप के अध्ययन की बात करते है तो हम ताप के मापन को भी उसमे शामिल कर सकते है। ताप के मापन के लिए काम में ली जाने वाली युक्ति को तापमापी कहते है।

लेकिन इन युक्तियों के निर्माण में हम तापमापी शाखा के अंतर्गत सहायता लेते है।

ताप के मापन के लिए जो युक्तियाँ बनायीं जाती है उनमे ऐसे पदार्थ का उपयोग किया जाता है तो ताप के साथ साथ लगातार परिवर्तित होता रहे और इस परिवर्तन का मान ताप के मान पर निर्भर करे , पदार्थ में आने वाले परिवर्तन के आधार पर ताप के मान का पता लगाया जाता है। चूँकि तापमापी में ताप मापन के लिए प्रयुक्त होने वाले पदार्थ का गुण ताप के साथ परिवर्तित होता है , पदार्थ के इस गुण को तापमापक गुण (thermometric property) कहते है , और पदार्थ के इस गुण के कारण उसमे ताप के कारण परिवर्तन होता है और इसी के आधार पर वस्तु के ताप की गणना की जाती है। जैसे जितना अधिक ताप होता है तापमापी में भरा पारा ऊपर की ओर चढ़ता जाता है और यह पारा तापमापी में जितना अधिक चढ़ता है इसका तात्पर्य है कि ताप का मान उतना ही अधिक है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *