संक्रमण के वर्ण नियम selection rules for d-d transition in hindi

selection rules for d-d transition in hindi d-d संक्रमण के वर्ण नियम : वे नियम जिनके द्वारा इलेक्ट्रॉनिक संक्रमण निर्धारित होते है।  वर्ण नियम या selection rules कहलाते है।

ये नियम बताते है की किसी एक उर्जा स्तर से electron का स्थानान्तरण किन किन उर्जा स्तरों में अनुमत है और किनमे वर्जित है।

अनुमत संक्रमण (allowed transition) : वे संक्रमण जिनकी प्रायिकता अधिक होती है , अनुमत संक्रमण कहलाते है।

ये संक्रमण वर्ग नियमों का पालन करते है।

वर्जित संक्रमण : वे संक्रमण जिनकी प्रायिकता बहुत कम होती है , वर्जित संक्रमण कहलाते है।

ये संक्रमण वर्ग नियमों का पालन नहीं करते है।

वर्ण नियम (selection rule)

1. चक्रण चक्रण वर्ण नियम (spin selection rule ) : इस नियम के अनुसार वे ही इलेक्ट्रॉनिक संक्रमण अनुमत होते है जिनमे अयुग्मित e की संख्या में कोई परिवर्तन नहीं होता है।
इस नियम के अनुसार वे संक्रमण जिनके लिए कुल चक्रण क्वांटम संख्या (s) में परिवर्तन शून्य होता है अर्थात △s = 0 होता है।  वे अनुमत संक्रमण होते है।
या
इस नियमानुसार समान बहुकता (multiplicity) वाली उर्जा अवस्थाओ में इलेक्ट्रॉनिक संक्रमण अनुमत होते है।
जैसे : singlet → singlet , doublet  → doublet , triplet → triplet
आदि संक्रमण spin allowed होते है।  ऐसे संक्रमण जिनके लिए △s ≠ 0 वे चक्रण वर्जित संक्रमण होते है।
2. लॉपोर्ट वर्ण नियम  : इस नियम के अनुसार केवल वे इलेक्ट्रॉनिक संक्रमण allowed होते है जिनमे सममिति का परिवर्तन होता है।
अर्थात सम (gerate)  → विषम (ungerate)
या विषम (ungerate) → सम (gerate)
संक्रमण अनुमत होते है।
परन्तु सम → सम , विषम → विषम  संक्रमण वर्जित होते है।
एक ही प्रकार के सभी कक्षकों की सम्मिति समान होती है।  सभी d-कक्षक gerate सममिति के होते है।
अत: इनके विभाजन के बाद होने वाले d-d संक्रमण लेपोर्ट वर्जित संक्रमण होते है।
लेपॉर्ट वर्ण नियम के अनुसार वे अनुमत होते है जिनके लिए  △L =  ± 1 होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *