सब्सक्राइब करे youtube चैनल

Road Transport and Highways in hindi पाठ : परिवहन व संचार :

परिवहन : एक वस्तु को एक स्थान से दुसरे स्थान तक ले जाने को ही परिवहन कहते है।

संचार : व्यक्ति के विचारों , भावो व शब्दों को व्यक्तियों तक पहुचाना ही संचार कहलाता है।

परिवहन के प्रकार :-

  1. स्थल – रेल सडक
  2. जल – आंतरिक महासागरीय
  3. वायु – राष्ट्रिय , अंतर्राष्ट्रीय
  4. पाइप लाइन – द्रव और गैस

सड़क परिवहन : सडक परिवहन ऐसा परिवहन है जिसमे द्वार से द्वार तक सेवा उपलब्ध करवाइ जाती है। कम पूंजी की आवश्यकता होती है।  मरम्मत के लिए हर साल पूंजी की आवश्यकता होती है , यह जलवायु पर निर्भर होता है।  कम दूरी के लिए यह सबसे सस्ता साधन है। प्रशासन के आधार पर इसको चार भागो में बांटा गया है –

  1. राष्ट्रीय राजमार्ग – केन्द्र सरकार – 2% – 40%
  2. राज्य सडके – राज्य सरकार – 3%
  3. ग्रामीण सड़के – पंचायत – 94%
  4. सीमावर्ती सड़के – सेना – 1%
पाठ 25
1. भारत में राजस्थान का क्षेत्रफल की दृष्टि से पहला स्थान है जबकि , जनसंख्या की दृष्टि से भारत में राजस्थान का आँठवा स्थान है।
2. 2011 की जनगणना के अनुसार राजस्थान का जनसंख्या घनत्व 200 व्यक्ति प्रतिवर्ग किलोमीटर है।
3. भारत में 2001-2011 के मध्य जनसंख्या वृद्धि दर 17.70 है जबकि राजस्थान में 2001-2011 के मध्य नसंख्या वृद्धि दर 21.31 है।
4. राजस्थान में सर्वाधिक जनसंख्या वृद्धि दर बाड़मेर (32.50) में जबकि न्यूनतम वृद्धि दर श्रीगंगानगर में 10.00 %
5.राजस्थान का लिंगानुपात 928 है।
6. राजस्थान की साक्षरता 67.06 है।
7. सबसे अधिक साक्षरता कोटा जिले में तथा सबसे कम जालोर जिले में है।
8. भारत में लिंगानुपात के सन्दर्भ में राजस्थान का 21 वाँ स्थान है।
9. 2001-2011 में माध्य साक्षरता दर में सर्वाधिक वृद्धि दर डूंगरपुर में हुई 110.90%
10. राजस्थान जनजातीय दृष्टि से छठा स्थान है।

राष्ट्रीय राज्यमार्ग

1. N.H.  दिल्ली-देह
2.  N.H.  दिल्ली-कोल्कता
3.  N.H.  आगरा-मुंबई
4.  N.H.  मुंबई-चेन्नई
5.  N.H.  चेन्नई – कोलकाता
6.  N.H.  कोलकाता – मुंबई
7.  N.H.  वाराणसी – कन्याकुमारी
8.  N.H.  दिल्ली – मुंबई
9.  N.H.  पूर्ण – विजयवाडा
10.  N.H.  बिवाड़ी से फरिजाबाद
15.  N.H.  अमृतसर-भुज
प्रश्न 1 : भारत व विश्व के सन्दर्भ में सडक व रेल परिवहन पर विस्तृत
उत्तर : (1) भारत में सडक परिवहन : भारत में भी अनेक महामार्ग है , पक्की सड़को की लम्बाई की दृष्टि से भारत का विश्व में तीसरा स्थान है।  यहाँ लगभग 14.6 लाख किलोमीटर लम्बी सड़के है। कच्ची `व पक्की सभी प्रकार की सडको की लम्बाई 33 लाख किलोमीटर है।  भारत मे सडको की राष्ट्रीय राज्यीय मार्ग है , देश में कुल 230 प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्ग है।  देश का सबसे ज्यादा लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या  N.H.7 वाराणसी से कन्याकुमारी तक है।
 भारत में रेल परिवहन :
रेल लम्बाई
चौड़ाई (गेज)
1. ब्रोड गेज – 1.672 से 1.716 मीटर
2. मीटर गेज – 1 मीटर
3. नैरो गेज – 1 मीटर से कम 0.672
रेल का विकास : विश्व की प्रथम रेल इंग्लैंड में 1825 से चलाई थी।  भारत में प्रथम रेल 16 अप्रेल 1853 में मुंबई से थाणे के मध्य 34 किमी में चलाई गयी 1857 की क्रान्ति के बाद अंग्रेजो ने भारत के प्रशासन पर अपनी पकड़ बनाने विदेशो आक्रमणों में मदद पहुचाने तथा इंग्लैंड के हितो कि साधनो के लिए रेल भागो का तीव्रता से विकास हुआ।
विश्व के सडक मार्ग :
1. पैन – अमेरिकन महामार्ग – यह विश्व की सबसे लम्बी सडक है जो दक्षिण अमेरिका के देशो की मध्य अमेरिका के देशो को मैक्सिको एवं संयुक्त राज्य अमेरिका से शुरू होकर सैटियागो , ब्यूनस आयर्स अर्जेन्टीना होते हुए ब्राजील में समाप्त होती है।
2. ट्रस कनाडियन – महामार्ग : यह महामार्ग न्यू फाउंडलैण्ड प्राप्त के सेट जॉन नगर को पश्चिमी तट पर ब्रिटिश कोलम्बिया में स्थित वैकूबर नगर से जोडती है।
3. अलास्का महामार्ग : यह महामार्ग कनाडा के एडमांटन नगर को अलास्का के एकौरज नगर से जोडती है।
4. स्टुअर्ट महामार्ग : यह महामार्ग उत्तरी आस्ट्रेलिया के रिथत बिरटूम को एलिस रिप्रग होते हुए दक्षिण ओस्ट्रेलिया में रियत ऊनादता से जोड़ता है।
भारतीय रेलमार्ग का वितरण : भारतीय रेल का वितरण असमान है।  कही दूर दूर तक रेल मार्ग दिखाई नहीं देते तो कही सघन जाल फैला हुआ है।
1. सघन रेल मार्ग वाला क्षेत्र
2. दक्षिण भारत से रेलमार्ग का वितरण
3. विरल रेलमार्गो वाले क्षेत्र
कोकण रेलवे परियोजना : देश का समृद्ध पश्चिमी तटीय प्रदेश 26 जनवरी 1998 तक रेल सेवा से वंचित था।  यह मार्ग मुम्बई के निकट रोहा से मगलोर तक 760 किमी लम्बा है।  मार्ग में 2000 पुल जिसमे 179 बड़े तथा 91 सुरंगे और इसमें एक सुरंग तो 6.5 किलोमीटर लम्बी है।  शरावती नदी पर पुल 2065.8 मीटर लम्बा है।