Category Archives: 12th geography

राजस्थान में जनसंख्या व जनजातियाँ , राजस्थान में उद्योग , rajasthan population and tribes in hindi

(rajasthan population and tribes in hindi) राजस्थान में जनसंख्या व जनजातियाँ : राजस्थान का आकार चतुर्भुज है। राजस्थान का क्षेत्रफल 2342239 किलोमीटर है जो भारत के क्षेत्रफल का 10.40% है। राजस्थान की जनसंख्या 6.86 करोड़ है जो भारत की कुल जनसंख्या का 5.66 प्रतिशत है। भारत का क्षेत्रफल 3287263 किलोमीटर है और भारत की कुल… Continue reading »

सिंचाई व पेयजल परियोजना , राजस्थान की प्रमुख सिंचाई परियोजना pdf , बहुउद्देशीय परियोजनाएं

सिंचाई व पेयजल परियोजना (Irrigation and Drinking water project in hindi) : बहुउद्देश्य – 10000 से अधिक। वृहत – 10000 मध्यम – 2000 से 10000 तक। लघु – 2000 से कम। बहुउद्देशय: भाखड़ा नांगल : पंजाब , हरियाणा , राजस्थान – सिंचाई हेतु है। 15.22% आस परियोजना : पंजाब , हरियाणा , राजस्थान। प्रश्न :… Continue reading »

रेल परिवहन क्या है , Rail transport in india in hindi , इन्जन  , भारत में रेलवे का विकास , वायु , जल परिवहन

रेल परिवहन – रेल लम्बाई –  चौड़ाई (गेज) ब्रॉड गेज – 1.672 से 1.716 मीटर मीटर गेज – 1 मीटर नैरो गेज – 1 मीटर से कम – 672 इन्जन : भाप इंजन – कोयले से चलता है। डीजल इंजन – डीजल के तेल से चलता है। विद्युत इन्जन – यह बिजली से चलता है। इलेक्ट्रिक… Continue reading »

भारत में लौह इस्पात उद्योग , india steel industry in hindi , एल्युमिनियम उद्योग , सीमेंट उद्योग

प्रश्न : भारत का मानचित्र बनाकर भारत में लौह इस्पात उद्योग (india steel industry in hindi) पर विस्तृत लेख लिखिए।  उत्तर : लौहा इस्पात उद्योग : भारत में लोह इस्पात उद्योग की आधुनिक परम्परागत वास्तव में जमशेदजी टाटा द्वारा रखी गयी। इन्होने 1907 में साकची (वर्तमान में जमशेदपुर) नामक स्थान पर एक आधुनिक कारखाना टाटा आयरन एण्ड… Continue reading »

कृषि क्या है , कृषि कितने प्रकार की होती है , what is agriculture in hindi , खरीफ , जलवायु , बागाती कृषि

(what is agriculture in hindi ) कृषि : प्राथमिक क्रियाकलाप : फसल उत्पादन : खेती बाड़ी , वानिकी , मत्स्यन , पशुपालन वानिकी , मत्स्यन , पशुपालन – जैविक संसाधन फसल उत्पादन , खेती-बाड़ी प्रबन्धन चयन रोपण काटा जाना शुद्धकरण A. खरीफ – गर्मी – जुलाई-अक्टूबर B. रबी – शीत – नवम्बर – मार्च C…. Continue reading »

ऊर्जा संसाधन , परम्परागत , गैर परंपरागत , आणविक ऊर्जा संसाधन , सौर ऊर्जा energy resources in hindi

(energy resources in hindi) ऊर्जा : परम्परागत : कोयला पेट्रोलियम प्राकृतिक गैस परमाणु ऊर्जा जल विद्युत लकड़ी गैर परंपरागत : बायो गैस बायो यास सौर ऊर्जा पवन उर्जा ज्वारीय उर्जा भू-तापीय उर्जा हाइड्रोजन ऊर्जा परमाणु ऊर्जा : U238 का विखण्डन स्रोत : यूरोलियम बैरेलियम थोरियम लिथियम मोनोजाईट झारखंड – जादुगोडा उदयपुर – जावर केरल में रेतीले भाग में मोनोजाइट मिलता… Continue reading »

वन संसाधन की परिभाषा क्या है , forest resources in hindi , जल संसाधन, मत्स्य पालन – मछली पालन

वन संसाधन : प्राकृतिक वनस्पति प्राकृतिक वनस्पति : किसी निश्चित क्षेत्र में जलवायु के कारण वनस्पति का स्वत: ही उत्पन्न हो जाना प्राकृतिक वनस्पति कहते है। महत्व : प्रत्यक्ष महत्व : लकड़ी ऑक्सीजन ईंधन चारा कागज औषधियां अप्रत्यक्ष : वर्षा के लिए आवश्यक मनोरंजन स्वास्थ्य मृदा अपर्दंकी रोकथाम वर्गीकरण : संरक्षित रक्षित अवर्गीकृत भारत में 2015 के अनुसार 21.561… Continue reading »

जैविक , अजैविक संसाधन , गाय – बैल , भैंस , बकरियाँ , भेड , ऊँट , गधा , भारत की भील और गौड़ , जनजाति

(organic and inorganic resources in hindi) जैविक , अजैविक संसाधन : जैविक – पशु , वन , मत्स्यन अजैविक – जल , खनिज 1. पशु पालन क्या है ? मनुष्य अपने मतलब के लिए पशु को पालता है। 2. महत्व : परिवहन , ऊन , चमड़ी , मांस , दूध , उर्वरक आदि। 3. क्षेत्र :… Continue reading »

ऊर्जा संसाधन किसे कहते हैं , प्रकार , शक्ति के साधन , लोहा उत्पादन करने वाले राज्य , energy resources in hindi

(energy resources in hindi) ऊर्जा संसाधन : शक्ति के साधन – नवीकरणीय अनवीकरणीय ऊर्जा संसाधन – परंपरागत गैर परंपरागत : जिनका 1960 दशक के बाद निर्माण हुआ। प्रश्न  : निम्नलिखित में से कौनसा ऊर्जा का स्रोत परम्परागत ऊर्जा का स्रोत नहीं है ? (a) परमाणु ऊर्जा   (b) पवन ऊर्जा (c) जल विद्युत ऊर्जा  (d) तापीय (कोयला… Continue reading »

संसाधनों का वर्गीकरण , संरक्षण एवं पोषणीय विकास , types of resource conservation in hindi

संसाधनों का वर्गीकरण , संरक्षण एवं पोषणीय विकास : संसाधन : प्रकृति से प्राप्त ऐसे पदार्थ जो मानव के उपयोग में आये या मानव के लिए उपयोगी हो इन्हें ही संसाधन कहते है। प्रकृति से प्रोधौगिक इससे पदार्थ इससे मानव इनसे ही संसाधन का विकास होता है। संसाधनों का वर्गीकरण (types of resource conservation in hindi) :… Continue reading »