WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

अपवाह चाल तथा विद्युत धारा में संबंध relation between drift speed and electric current

relation between drift speed and electric current in hindi अपवाह चाल तथा विद्युत धारा में संबंध : अपवाह चाल के बारे में हम पढ़ चुके है कीविद्युत क्षेत्रआरोपित करने के बाद यह आवेशों की क्षेत्र के विपरीत दिशा में चाल है।

अब बात करते है की अपवाह चाल का उपयोग करके चालक में प्रवाहित हो रही विद्युत धारा का मान कैसे ज्ञात कर सकते है तथा इनमे आपस में क्या संबंध होता है।

माना किसी चालक के एकांक क्षेत्रफल में n इलेक्ट्रॉन उपस्थित है औरचालकका काट क्षेत्रफल A है अब यदि इस चालक पर बाह्य विधुत क्षेत्र आरोपित करेंगे तो इलेक्ट्रॉन विद्युत क्षेत्र के विपरीत दिशा में अपवाह चाल से गति करेंगे , माना अपवाह चाल का मान Vdहै। इस चालक का एक अल्पांश∇Lलेते है और अध्ययन करते है।

अल्पांश∇Lमें कुलआवेशका मान = ∇Q = (nA∇L)e

आवेश अपवाह चाल से गति कर रहे है अतः अल्पांश से गुजरने में लगा समय ∇t = ∇L/Vd

विद्युत धाराकी परिभाषा से अल्पांश से गुजरने वाली धारा का मान I = कुल आवेश / समय

I = (nA∇L)e /(∇L/Vd) यह धारा तथाअपवाह वेगमें संबंध समीकरण है।

I = nAe Vd

चूँकि Vd=μE

Vdका मान समीकरण में रखने पर

I = nAeμE

यह धारा , अपवाह वेग तथागतिशीलता में संबंध समीकरण है।

अपवहन वेग तथा विभवांतर में सम्बन्ध (relation between drift velocity and potential difference )

हम जानते है की विद्युत क्षेत्र तथा विभवांतर में निम्न संबंध होता है
E = V / L
तथा हम पढ़ चुके है की अपवहन वेग
अपवाह वेग Vd= eEτ/m
समीकरण में E का मान रखने पर

Vd= eτV/mL

यह समीकरण अपवहन चाल तथा विभवान्तर में दर्शाती है।

One comment

Comments are closed.