राउल्ट का नियम , सूत्र समीकरण , राउल्ट के नियम की व्युत्पत्ति , सीमाएं (Raoult’s law in chemistry in hindi)

By  
(Raoult’s law in chemistry in hindi) राउल्ट का नियम , सूत्र समीकरण , राउल्ट के नियम की व्युत्पत्ति , सीमाएं : राउल्ट ने एक नियम दिया जिसमें इन्होने किसी विलयन में उपस्थित अवयवों की सांद्रता को उनके कारण वाष्पदाब के साथ सम्बन्ध को व्यक्त किया।
इस नियम के अनुसार –
“एक निश्चित ताप पर किसी विलयन में उपस्थित किसी वाष्पशील पदार्थ का आंशिक वाष्प दाब , उस पदार्थ की मोल भिन्न के समानुपाती होता है , यही राउल्ट का नियम है। ”
यह नियम यह भी बताता है कि किसी विलयन का कुल वाष्प दाब , अलग अलग पदार्थों के कारण वाष्पदाब के योग के बराबर होता है।
माना किसी विलयन में दो वाष्पशील पदार्थ उपस्थित है जिन्हें हम A तथा B द्वारा व्यक्त करेंगे , यहाँ A पदार्थ का आंशिक दाब PA है तथा पदार्थ B का आंशिक वाष्पदाब PB है।
माना A पदार्थ के मोल भिन्न XA है।
तथा B पदार्थ के मोल भिन्न XB है।
राउल्ट के अनुसार किसी विलयन में उपस्थित किसी वाष्प शील पदार्थ का आंशिक दाब , उस पदार्थ के मोल भिन्न के समानुपाती होता है।
अत: राउल्ट के नियमानुसार –
A पदार्थ के लिए
P∝ XA
PPAXA
B पदार्थ के लिए
P∝ XB
PPBXB

यहाँ PA0 , पदार्थ A के लिए शुद्ध अवस्था में वाष्पदाब है तथा PB, पदार्थ B के लिए शुद्ध अवस्था में वाष्पदाब है।
ये दोनों मान एक निश्चित ताप पर एक स्थिरांक की तरह कार्य करते है क्यूंकि शुद्ध अवस्था में एक निश्चित ताप पर पदार्थ का वाष्पदाब स्थिर रहता है।
चूँकि किसी भी विलयन का कुल वाष्प दाब , सभी अवयवो या पदार्थो के कारण वाष्प दाबो के योग के बराबर होता है।
अत:
विलयन का वाष्प दाब = पदार्थ A के कारण वाष्पदाब + पदार्थ B के कारण वाष्पदाब
P = PPB
समीकरण में दोनों के मान रखने पर –
P = PAXPBXB
चूँकि हम जानते है कि –
विलयन के सभी मोल अंश का कुल योग 1 के बराबर होता है।
अर्थात X+ X= 1
XA = 1 – XB
ऊपर समीकरण में यह मान रखने पर –
P = PA(1 – XB) PBXB

राउल्ट के नियम की सीमाएं

यह नियम कुछ विशेष स्थितियों के लागू होता है और कुछ स्थितियों में लागू नहीं भी होता है , हम यहाँ बात करेंगे कि राउल्ट की सीमाएं क्या होती है अर्थात यह कहा लागू नहीं होता है और किस स्थिति में लागू होता है।
1. यह नियम केवल आदर्श द्रव विलयन के लिए लागू होता है।
2. यह नियम अनादर्श विलयन के लागू नहीं होता है।