Queues : Implementation As Array in c language in hindi , queue ko arrey ki tarah implement kaise kare

By  
queue ko arrey ki tarah implement kaise kare , Queues : Implementation As Array in c language in hindi :-
Stack और  Queues एक linear struture जो की एक particular order को फॉलो करता है |इस order को FIFO कहते है |Queues का एक्सम्प्ले है किसी ticket के लिए लगी line |इस line मे जो लोग पहले आते है उसे ticket पहले मिलती है |stack और Queues  मे केवल एक difference होता है की stack मे recently add element डिलीट होता है लेकिन Queues  मे जो element पहले आता है वो डिलीट होता है |

Queues  के operation
1.EnQueues
इस operation मे Queues  मे data को add किया जाता है |अगर Queues  full होते है तब overfull condition आ जाती है |
2.DeQueues
इस operation मे ,Queues  से data को डिलीट किया जाता है |जिस order मे data enter होता है उसी order मे data डिलीट होता है |
3. Front
इस operation मे , Queues  के front position पर स्थित element को return किया जाता है |
4.Rear
इस operation मे , Queues  के rear position पर स्थित element को return किया जाता है |
Queues के Application
Queues का इस्तेमाल उस condition मे किया जाता है जहा पर प्रोसेस को immediately नहीं करना होता है |सबसे famous application होता है breadth first serach |Queues का property के कारन ,Queues को कई condition मे use कर सकते है |
1.जब किसी एक resource ( keyboard ,printer ,mouse ) आदि को बहुत operation मे shared होताहै |जैसे डिस्क scheduling ,disk scheduling |
2.जब किसी data को asynchronously transfer होता है |इसका मतलब है जब data को input फॉर्म मे त्रंफेर करना complusly नहीं होती है |जैसे buffers , pipes , file IO आदि
Queues का array implementation
Souce Code
#include <stdio.h>
#define size 50
int array[size];
int rear = – 1;
int front = – 1;
main()
{
    char ch;
    while (1)
    {
        printf(“‘I’.Insert element to queue \n”);
        printf(” ‘D’.Delete element from queue \n”);
        printf(” “V’.View all elements of queue \n”);
        printf(” ‘Q’.Quit \n”);
        printf(“Enter your ch : “);
        scanf(“%c”, &ch);
        switch (ch)
        {
            case I:
            insertinqueue();
            break;
            case D:
            deleteinqueue();
            break;
            case V
            viewqueue();
            break;
            case Q:
            exit(1);
            default:
            printf(“Wrong ch \n”);
        }
    }
}
insertinqueue()
{
    int new_item;
    if (rear == size – 1)
    printf(“Queue Overflow \n”);
    else
    {
        if (front == – 1)
        front = 0;
        printf(“Enter new element : “);
        scanf(“%d”, &new_item);
        rear = rear + 1;
        array[rear] = new_item;
    }
}
deleteinqueue()
{
    if (front == – 1 || front > rear)
    {
        printf(“Queue Underflow \n”);
        return ;
    }
    else
    {
        printf(” Delete element : %d\n”, array[front]);
        front = front + 1;
    }
}
display()
{
    int i;
    if (front == – 1)
        printf(” Empty Queues \n”);
    else
    {
        printf(“Queue is : \n”);
        for (i = front; i <= rear; i++)
            printf(“%d “, array[i]);
        printf(“\n”);
    }
}
Explantion
इस प्रोग्राम चार function है :-
1.main() : इस function मे यूजर द्वारा perform function  के लिए choice को input करते है |इसके लिए
I for insert के लिए
D for डिलीट के लिए
V for view के लिए
E for exit operation के लिए
इसके अलावा तीन यूजर define function को declare किया जाता है :-
1.deleteinqueue() : इस function का use ,queue मे से data को डिलीट करने के लिए किया जाता है |
2.viewqueue() : इस function का use ,queue के सभी element को display करने के लिए किया जाता  है |
3.insertinqueue() : इस function का use ,queue मे data को insert करने के लिए किया जाता है |
insertinqueue()  मे ,
1.सबसे पहले एक नए variable को declare किया गया है जो की new element को hold करता है जिसे insert करना है |
2.फिर condition को check किया जाता है |
3.अगर rear की value , size-1 बके सामान होती है तब
3.i-overfull की condition आ जाती है |
3.ii- अब rear की rear+1 से set हो जाता है |और array की rear position पर new_data की value assign हो जाती है |
deleteinqueue()
1.सबसे पहले condition को check की जाती है |
2.अगर front की value ‘-1’ से check  होती है और front की value को rear से check  होती है |दोनों compression मे and operation होता है |
3.अगर front की value ‘-1’ है या front की value, rear की value से बड़ी होती है तब
3.i-underflow की condition आ जाती है |
3.ii- डिलीट element print होता है और front ,front-1 से रिसेट हो जाता है |
display()
1.सबसे पहले condition को check किया जाता है |
2.front ‘-1’ है तब
2.i-queue empty का message हो जाता है |
2.ii-अन्यथा ,queue के element को display किया जाता ही |queue के element को display करने का logic array के element को display की तरह है |
इसमें loop चलाया जाता है |और एक एक करके सभी element को print किया जाता है |