पार्ट्स प्रति मिलियन , पीपीएम की परिभाषा , सूत्र , फुल फॉर्म (parts per million in hindi) (PPM full form and formula)

By  
(parts per million in hindi) (PPM full form and formula) पार्ट्स प्रति मिलियन , पीपीएम की परिभाषा , सूत्र , फुल फॉर्म : यह भी किसी विलयन की सांद्रता को व्यक्त करने के लिए एक विधि है , यह तब उपयोग किया जाता है जब किसी विलयन में विलेय की मात्रा बहुत कम हो या सांद्रता बहुत निम्न हो।
परिभाषा : “किसी विलयन के 10 लाख भाग में उपस्थित विलेय के भागों की संख्या को पार्ट्स प्रति मिलियन या पीपीएम कहते है। ”
अर्थात किसी विलेय पदार्थ के भार भागों की वह संख्या जो विलयन के 10 लाख भार भागों में उपस्थित हो , उसे पीपीएम या पार्ट्स प्रति मिलियन कहा जाता है।
इसका सूत्र निम्न होता है –
पार्ट्स प्रति मिलियन (पीपीएम) = (विलेय का द्रव्यमान/विलयन का द्रव्यमान) x 106

पीपीएम सांद्रता विधि तब उपयोग की जाती है जब किसी विलयन में विलेय की मात्रा बहुत कम उपस्थित रहती है। अर्थात जब विलयन में किसी पदार्थ की मात्रा बहुत कम घुली हुई रहती है उस स्थिति में विलयन की सान्द्रता को निम्न विधि द्वारा प्रदर्शित किया जाता है। 
इसे मिली ग्राम प्रति लीटर की फॉर्म में भी व्यक्त किया जा सकता है अर्थात जब एक लीटर विलयन में एक मिली ग्राम किसी पदार्थ की मात्रा घुली हुई हो तो विलयन की सांद्रता को 1 पीपीएम कहा जा सकता है।
जब 55 गैलन बैरल पानी के अन्दर यदि चार बूंद श्याही की दाल कर इसे हिलाकर विलयन बना दिया जाए तो इस विलयन की सान्द्रता का मान एक पीपीएम के बराबर होती है , आप इस उदाहरण द्वारा अनुमान लगा सकते है कि सांद्रता की यह विधि तब उपयोग की जाती है जब विलेय की मात्रा विलयन में बहुत कम उपस्थित हो।
या समझने के लिए 11.5 दिन के अन्दर एक सेकंड को एक पीपीएम द्वारा व्यक्त किया जा सकता है।
उदाहरण : जल की कठोरता को पीपीएम के रूप में व्यक्त किया जाता है , पानी की कठोरता Ca(HCO3)2 के कारण होती है , माना किसी पानी की कठोरता 16.7 ppm है तो इसका तात्पर्य है कि 10 लाख ग्राम कठोर पानी में उपस्थित 16.7 ग्राम Ca(HCO3)2 उपस्थित है।
हमारे वायुमंडल में उपस्थित विभिन्न प्रकार विषैली गैसों की मात्रा को भी पीपीएम के रूप में ही व्यक्त किया जाता है क्यूंकि वायुमंडल में उपस्थित विषैली गैसों की मात्रा बहुत कम होती है जैसे 10 पीपीएम NO गैस का तात्पर्य है कि दस लाख ग्राम वायु के अन्दर 10 ग्राम NO गैस घिली हुई है।
प्रश्न : मान लीजिये Pb(NO3)2 का 0.025 gram , पानी के 100 ग्राम में घुला हुआ है तो इस विलयन की सांद्रता को पीपीएम में कैसे व्यक्त कर सकते है या इस विलयन की सान्द्रता को पीपीएम के रूप में प्रदर्शित कीजिये।
उत्तर : विलेय = 0.025 gram
विलायक = 100 ग्राम पानी
विलयन = विलेय + विलायक
विलयन  = 0.025 + 100
पार्ट्स प्रति मिलियन (पीपीएम) = (विलेय का द्रव्यमान/विलयन का द्रव्यमान) x 106