Structure : Operation or Memory Representation in hindi स्ट्रक्चर : ऑपरेशन या मेमोरी रिप्रजेंटेशन हिंदी में c कंप्यूटर भाषा

By  
स्ट्रक्चर : ऑपरेशन या मेमोरी रिप्रजेंटेशन हिंदी में c कंप्यूटर भाषा Structure : Operation or Memory Representation in hindi :-
Structure initialization : Structure data type को initial करने के लिए निम्न syntax को फॉलो करता है :-
struct address
{
int house ;
int floor;
char street[20];
char city ;
};
void main(){
struct address add 1={ 203 , 1, Sita ram ki gali ,jaipur };
printf(“%d”,add 1.house);
printf(“%d”,add 1.floor);
printf(“[. .]”,add 1.street);
printf(“%s”,add 1.city);
getch();
}Structure initialization मे निन्म syntax होते है :-
struct : struct keyword है |
Structure_name : ये Structure का नाम है |
variable _name : ये variable का नाम है जिसके members मे values को assign करना है |
Assignment operator : इसका use value को Structure में member मे assign करने के लिए किया जाता है |
values : इसमें declare Structureके सभी members के लिए values को {} मे क्लोज करते है |

Structure initialization के कुछ rules :
1.Structure के केवल एक member को initialization नहीं कर सकते है |
2.type और order of values और type और order of Structure member same होनी चाहिए |
3.Structure के कुछ members को  initialization कर सकते है लेकिन Non initialization members Structure के last members होने चाहिए |
4. जब तक Structure को  initialization नहीं करते है तब  तक इसमें default values assign होती है |जैसे
integer के लिए zero
और character or string के लिए null (‘/0’)

Operation :

1.Copying और Comparing
Copying operation :
जब किसी एक Structure को दुसरे Structure मे copy करना होता है ,tab इसे assignment operator से किया जा सकता है |अगर S1 और S2 दो Structure है तब S1=S2 होने पर Structure ‘S2’ की value Structure ‘S1’ मे copy हो जाती है अगर ‘S1’ और ‘S2’ same Structure के variable होते है |

उदहारण के लिए ;
struct address
{
int house ;
int floor;
char street[20];
char city ;
};
void main()
{struct address add1={ 203 , 1, Sita ram ki gali ,jaipur };
struct address add2;
add2=add2;
printf(“%d”,add 2.house);
printf(“%d”,add 2.floor);
printf(“[. .]”,add 2.street);
printf(“%s”,add 2.city);
getch();
}

Comparing
Comparing  operation, copying operation के तरह नहीं होती है |Comparing  operation किसी
Structure के members मे होता है |इसके उदहारण है :-
#include<conio.h>
#include<stdio.h>
#include<string.h>
struct address
{
int house ;
int floor;
char street[20];
char city ;
};
void main()
{struct address add1={ 203 , 1, Sita ram ki gali ,jaipur };
struct address add2={ 34 , 2,Shri ram ki gali ,jaipur };
if(add1.city==add2.city)
{
printf(“A और B are same city %s.”,add1.city);
}
getch();
}

Airthmatic Operation  :
Airthmatic operation किसी Structure के members मे होता है | इसके उदहारण है :-

struct address
{
int house ;
int floor;
char street[20];
char city ;
};
void main()
{struct address add1={ 203 , 1, Sita ram ki gali ,jaipur };
struct address add2={ 34 , 2,Shri ram ki gali ,jaipur };
struct address add3;
add3.street=strcat(add1.street,add2.street);
add3.house=add1.house+add2.house;
add3.city=add2.city;
printf(“%s”,add3.city);
printf(“%d”,add3.floor);
printf(“%[. .]”,add3.street);
getch();
}

Typedef :
Typedef C language का यो keyword है जिससे किसी user define function को नया नाम दे सकते है|typedef  keyword का use Structure के साथ भी कर सकते है |इसका syntax है:-
typedef struct
{
member 1;
member 2;
…………….;
…………….;
member n;
}type_name ;

यह पर type_name का use किसी variable को declare करने के लिए किया जाता है
(i)|typedef के साथ ,हम variable को Structure definition मे define नहीं कर सकते है |
(ii)और type name, type definition name है variable का नहीं |
उदहारण के लिए :
#include<stdio.h>
#include<conio.h>
typedef struct
{
long int mobile ;
char name [15];
int age ;
char sex[5];
}person;
void main()
person person_1;
printf(“Enter name”);
person1.name=gets();
printf(“Enter mobile “);
scanf(“%l”,&person1.mobile);
printf(“Enter age “);
scanf(“dl”,&person1.age);
printf(“Enter sex “);
scanf(“%s”,&person1.sex);
printf(“Profile of %[..]”,person1.name );
printf(“%d”,person1.age);
printf(“%l”,person1.floor);
printf(“%s”,person1.sex);
getch();
}

Memory Representation :
computer, Structure को “word boundaries” के concept से memory allocate करता है |word boundaries की size कंप्यूटर पर निर्भर करती है |
अगर कंप्यूटर जो 2 bytes का है तब Structure की members,word boundaries के left aligned मे store हो जाता है |character data, 1 bytes occupy करता है और integer data, 2 bytes occupy करेगा | इन दोनों के बीच एक empty बिट होती है जिसे slack बाइट कहते है |