मानव शरीर में सर्वाधिक पाया जाने वाला तत्व | मनुष्य के शरीर में सबसे ज्यादा पाया जाने वाला प्रोटीन

By  

most element in human body in hindi मानव शरीर में सर्वाधिक पाया जाने वाला तत्व | मनुष्य के शरीर में सबसे ज्यादा पाया जाने वाला प्रोटीन ? मानव शरीर में सबसे प्रचुर मात्रा में पाया जाने वाला खनिज कौन-सा है ?

261. मानव शरीर में सर्वाधिक मात्रा में पाया जाता है-
(अ) प्रोटीन (स) जल
(स) वसा (द) प्लाज्मा
Ans- (स) मानव शरीर में सर्वाधिक मात्रा में पाये जानेवाला तत्व जल है।
ऽ प्रोटीन को Body Building Material कहा जाता है। इससे कोशिका का निर्माण होता है। 1 gm प्रोटीन से 4-2 cal ऊर्जा की प्राप्ति होती है।
ऽ 1 gm वसा से 9.3 Cal ऊर्जा की प्राप्ति होती है।
ऽ Blood में Blood plsama 55% होता है। इसका रंग हल्का पीला होता है इसमें 90% पानी तथा 10% में Carbohydrate, Protein, Fat minerales इत्यादि पाये जाते है।
262. निम्न में से क्या एक मिश्रण नहीं है ?
(अ) काँच (स) पीतल
(स) स्टील (द) ग्रेफाइट
Ans- (द) ग्रेफाइट एक मिश्रण नहीं है।
263. जल की स्थाई कठोरता दूर करने के लिए यह विधि नहीं अपनाई जा सकती-
(अ) सोडियम कार्बोनेट मिलाना
(स) आसवन
(स) कॉस्टिक सोडा मिलाना
(द) उबालना
Ans- (स) आसवन विधि द्वारा जल की स्थायी कठोरता दूर की जाती है।
ऽ आसवन विधि द्वारा जल का शुद्धिकरण किया जाता है।
ऽ आसवन विधि द्वारा मुख्यतः द्रवों के मिश्रण को पृथक किया जाता है।
ऽ जल को उबालकर जल की अस्थायी कठोरता दूर की जाती है।
264. विद्युत चुम्बकों में निम्नलिखित धातु काम आती है-
(अ) नर्म लोहा (स) क्रोमियम
(स) निकेल (द) तांबा
Ans- (अ) नर्म लोहा का उपयोग विद्युत चुम्बकों के निर्माण में उपयोग होता है।
265. विटामिन सी क्या है?
(अ) ऐसीटिक अम्ल (स) सिट्रिक अम्ल
(स) लैक्टिक अम्ल (द) ऐस्कॉर्बिक अम्ल
Ans- (द) Vita C को ऐस्कॉर्बिक अम्ल कहा जाता है।
ऽ साइट्रिक अम्ल खट्टे रसदार फलों जैसे संतरा, नींबू ऑवला, मौसमी में पाया जाता है।
266. स्टेनलैस इस्पात बनाने के काम आने वाले धातुओं का युग्म है-
(अ) क्रोमियम तथा इस्पात (स) जस्ता तथा लोहा
(स) तांबा तथा लोहा (द) लोहा तथा क्रोमियम
Ans- (अ) स्टेनलेस इस्पात में क्रोमियम तथा इस्पात होता है।
267. किस 100 मी.ली. जलीय विलयन में सर्वाधिक संख्या में कण पाये जाएगें?
(अ) 0.5 मोल Nacl (स) 0.8 मोल KBr
(स) 1 मोल एथिल ऐल्कोहॉल (द) 0.4 मोल MgBr2
Ans- (द) 0-4 मोल Mg Bra के 100 मी० ली० जलीय विलयन में सर्वाधिक संख्या में कण पाये जाते हैं।
268. लोहा का एक ग्राम परमाणु का अर्थ है-
(अ) 1.0 ग्राम लोहा
(स) 55.8 ग्राम लोहा
(स) 55.8 परमाणु द्रव्यमान इकाई (amu)
(द) 111.6 ग्राम लोहा
Ans- (स) लोहा के एक ग्राम परमाणु (एक मोल) का अर्थ 55.8 ग्राम लोहा होता है।
269. भोजन में विटामिन डी की कमी से होने वाला रोग है-
(अ) स्कर्वी (स) बेरी-बेरी
(स) रिकेट्स (द) रतौंधी
Ans- (स) Vita D की कमी से रिकेट्स होता है ।
Vita C की कमी से स्कर्वी होता है।
Vita A की कमी से रतौंधी होता है ।
Vita B1 की कमी से बेरी-बेरी होता है।
270. किसी तत्व के समस्थानिकों में भिन्नता का कारण है उनमें निम्नलिखित को संख्या का भिन्न होना-
(अ) प्रोटॉन (स) न्यूट्रॉन
(स) इलेक्ट्रॉन (द) फोटॉन
Ans- (स) किसी तत्व के समस्थानिकों में भिन्नता का कारण उसमें न्यूट्रॉन की संख्या भिन्न-भिन्न होता है।
ऽ ऐसे तत्व जिनका परमाणु संख्या समान किन्तु द्रव्यमान संख्या भिन्न-भिन्न हो समस्थानिक कहलाता है। या ऐसे तत्व जिनमें प्रोटॉन की संख्या समान लेकिन न्यूट्रॉन की संख्या भिन्न-भिन्न हो समस्थानिक कहलाता है।
271. तापमान को 0°C से कम करने के लिए बर्फ में मिलाया जाने वाला
पदार्थ है-
(अ) सोडियम क्लोराइड (स) सोडियम कार्बोनेट
(स) मैग्नीशियम सल्फेट (द) चूना….
Ans- (अ) तापमान को 0°C से कम करने के लिए बर्फ में सोडियम क्लोराइड मिलाया जाता है । NaCl को मिलाने से तापमान 21°C तक हो जाता है जिसके कारण कुल्फी जमता है।
272. संक्रामक रोगों को रोकने के लिए दी जाने वाली औषधि का नाम है-
(अ) सल्फाथियाजॉल (स) इन्सुलिन
(स) एस्पिरिन (द) रिसर्पिन
Ans- (अ) सल्फानियाजॉल संक्रामक रोगों को रोकने के लिए दी जाने वाली औषधि है।
ऽ इन्सुलिन की कमी से डायबिटिज नामक रोग होता है।
273. मधुमेह से ग्रस्त रोगियों के मूत्र के नमूने में होता है-
(अ) सूक्रोज (स) ग्लूकोज
(स) लेक्टाज (द) माल्टोज
Ans- (स) मधुमेह से ग्रस्त रोगियों के मूत्र के नमूने में ग्लूकोज होता है।
274. ऊष्मा तथा दाब से हमेशा के लिए विरूपित किया जा सकने वाला पदार्थ कहलाता है-
(अ) ताप-सुनम्य (thermoplsatic)
(स) तापस्थापी (thermostat)
(स) रासायनिक यौगिक
(द) बहुलक
Ans- (अ) उष्मा तथा दाब से हमेशा के लिए विरूपित किया जा सकने वाला पदार्थ ताप-सुनम्य (Thermo Plsatic) कहलाता है।
ऽ वैसे प्लास्टिक जिसे कई बार गर्म एवं ठंडा करके मनोवांछित आकार में ढाला जा सकता है उष्मीय प्लास्टिक (Thermo Plsatic) कहलाता है।
म्ग. पॉलिथिन, टेफ्लॉन, च्टब् इत्यादि ।
275. ‘तिर्यक्बद्ध बहुलक‘ (croslinked polymer) का उदाहरण है-
(अ) पॉलिथीन (स) नायलॉन
(स) बैकेलाइट (द) पी.वी.सी.
Ans- (स) तिर्यक बद्ध बहुलक (Croslinked Polymer) का उदाहरण बैकलाइट है।
ऽ बैकेलाइड (Backelite) : इसका निर्माण फिनॉल एवं फॉर्मल्डिहाइड (HCHO) के मिलाने से होता है इसका उपयोग रेडियो एवं टेलिविजन के कैबिनेट बनाने में टेलीफोन के रिसीवर बनाने में होता है । यह उष्मा दृढ़ प्लास्टिक (Ther mosetting Plsatic) है।
ऽ उष्मा वृष्ढ़ प्लास्टिक (Thermo Setting Plsatic) : वैसे प्लास्टिक जिसका निर्माण गर्म एवं ठंडा करके एक ही बार होता है किन्तु इसे दुबारा अन्य रूपों में नहीं ढाला जा सकता है।
म्ग. बैकलाइट, ग्लिप्टल, रबर इत्यादि।
276. प्रकाश ऑक्सीकरण (photooxidation) प्रक्रम निम्नलिखित द्वारा .प्रारम्भ होता है-
(अ) गर्मी (स) प्रकाश
(स) उत्प्रेरक (द) ऑक्सीजन
Ans- (स) प्रकाश ऑक्सीकरण (Photo Oxidation) प्रक्रिया प्रकाश के द्वारा प्रारम्भ किया जाता है ।
277. एफ.बी.ए. रंजक निम्नलिखित को रंगने के काम में आता है-
(अ) नायलॉन (स) कपास
(स) टेरिलीन (द) ऊन
Ans- (स) एफ० बी० ए० रंजक कपास को रंगने के काम में आता है।
278. नील निम्नलिखित रंजक है-
(अ) वैट (टंज) (स) क्षारकीय
(स) अम्लीय (द) अंतर्जनित (ingrain)
Ans- (अ) नील वैट (Vat) रंजक है।
279. नाइट्रिक आल (95%) को इसके तनु विलयन (dilute solution) से निम्नलिखित विधि से प्राप्त किया जा सकता है-
(अ) वाष्पीकरण
(स) आसवन
(स) हिमीकरण
(द) मैग्नीशियम नाइट्रेट के द्वारा निर्जलीकरण
Ans- (द) मैग्नीशियम नाइट्रेट के द्वारा निर्जलीकरण विधि से नाइट्रिक अम्ल (95ः% को इसके तनु विलयन (dilute solution) से प्राप्त
किया जाता है।
280. कॉनटेक्ट प्रक्रिया (contact proces) में सल्फर डाइऑक्साइड को सल्फर ट्राइऑक्साइड में परिवर्तित करने की अभिक्रिया कहलाती है-
(अ) ऊष्माशोषी (स) अनुत्क्रमणीय
(स) ऊष्माक्षेपी (द) अपचयन
Ans- (स) कॉनटेक्ट प्रक्रिया (Contact Proces) से सल्फर डाइऑक्साइड को सल्फर ट्राइऑक्साइड में परिवर्तित करने की अभिक्रिया उष्मा क्षेपी कहलाती है।
281. निम्नलिखित एक संश्लिष्ट दवा है-
(अ) मॉर्फीन (स) रिसीन
(स) एस्पिरिन (द) टैक्सॉल
Ans- (स) एस्पिरिन एक संश्लिष्ट दवा है।
282. वायुमंडलीय हवा का सबसे बड़ा घटक है-
(अ) ऑक्सीजन (स) नाइट्रोजन
(स) कार्बन डाईआक्साइड (द) इनमें से कोई नहीं
Ans- (स) वायुमंडलीय हवा का सबसे बड़ा घटक नाइट्रोजन है। यह हवा
में 78ः%पाया जाता है।
283. वाहिका-विस्तारक (vsaodilator) नामक दवा को निम्न रोग के उपचार में उपयोग करते हैं-
(अ) कैंसर (स) एड्स
(स) व्रण (अलसर) (द) अति रक्तदाब
Ans- (द) वाहिका-विस्तारक (Vsaodilator) नामक दबा को अतिरक्त दाब रोग के उपचार से काम लाते हैं।
284. निम्नलिखित के ऐसीटिलीकरण (acetylation) से हेरोइन बनाई जा सकती है-
(अ) रिसीन (स) मॉर्फीन
(स) सेलिसिलिक अम्ल (द) कुनैन (क्वीनीन)
Ans- (स) मॉर्फीन के ऐसीटिलीकरण (Acetylation) से हेरोइन बनायी जाती है।
ऽ मार्फीन अफीम से तैयार किया जाता है। इसका उपयोग दर्द निवारक एवं निश्चेतक के रूप में किया जाता है । डाइएसिटाइल मार्फीन को हेरोइन (Heroin) के नाम से जाना जाता है।
285. एम्पीसिलिन निम्नलिखित की तरह काम आती है-
(अ) प्रतिजैविक
(स) हमतजेपज (anti&inflammatory)
(स) मलेरियारोधी
(द) कैंसररोधी
Ans- (अ) एम्पीसिलिन (Ampicilline) प्रतिजैविक (Antibiotics) की तरह कार्य करता है।
286. निम्नलिखित सबसे महत्वपूर्ण हृदय उद्दीपक (stimulant) है।
(अ) डिगोग्जिन (digoxin) (स) सिमेटिडीन
(स) पैरासीटामॉल (द) पेनिसिलिन
Ans- (अ) डिगोग्जिन (Digoxin) सबसे महत्वपूर्ण हृदय उद्दीपक (Stimulant) है।
287. आलू की चित्ती (potato blight) के लिए सबसे महत्वपूर्ण कवक
नाशक (fungicide) है-
(अ) कैप्टेन (स) मेनैब
(स) थाइरैम (द) बेनोमिल
Ans- (अ) आलू की चित्ती (Potato Blight) के लिए सबसे महत्वपूर्ण कवक नाशक (Fungicide) कैप्टेन है।
288. प्राकृतिक कवक नाशक का एक उदाहरण है-
(अ) फ्यूरेलक्सिल (स) व्येरॉन
(स) फोल्पेट (द) कार्बोक्सिन
Ans- (स) प्राकृतिक कवक नाशक का उदाहरण प्लेरौन है।
289. पादप वृद्धि नियामक का उदाहरण है-
(अ), इन्डोलऐटीक अम्ल (स) प्रोपेक्लोर
(स) एमिटसोल (द) पैराक्वैट
Ans- (अ) पादप वृद्धि नियामक का उदाहरण इन्डोलऐसिटिक अम्ल है ।
ऽ ऑक्सिन (AuÛins) का खोज डार्विन (1880) ने किया इसके उदाहरण है।
– Indole acetic acid (IAA)
– Indole Buteric acid (IBA)
2.4.D. (2.4 Dichloro Phenoxy Acetic Acid)
ऽ यह पौधे के वृद्धि में सहायक होता है । फूलों एवं फलों को झड़ने से बचाता है बीज हीन फल के उत्पादन में सहायक होता है। यह खर पतवार पर नियंत्रण रखता है।
290. सबसे पुराना पीडकनाशी है-
(अ) पर्मेथ्रिन (स) डी.डी.टी.
(स) नीकोटीन (द) जिएटिन
Ans- (स) सबसे पुराना पीड़क नाशी निकोटीन है।