ल्यूमेन किसका मात्रक है | ल्यूमेन किसकी इकाई होती है ज्योति फ्लक्स का मात्रक क्या है lumen is the unit of in hindi

By  

lumen is the unit of in hindi ल्यूमेन किसका मात्रक है | ल्यूमेन किसकी इकाई होती है ज्योति फ्लक्स का मात्रक क्या है ?

ल्यूमेन किसका मात्रक है? -ज्योति फ्लक्स का
 ‘क्यूरी‘ (Curie) किसकी इकाई है? -रेडियोधर्मिता की
 दाब का मात्रक क्या है? -पास्कल
 कैण्डेला किसका मात्रक है? -ज्योति तीव्रता
 जूल किसकी इकाई है? -ऊर्जा
 मानकों की अन्तर्राष्ट्रीय पद्धति कब लागू की गई? -1971 में
 खाद्य ऊर्जा को हम किस इकाई में माप सकते हैं ? -कैलोरी
 विद्युत् धारा मापने की इकाई क्या है? -एम्पियर
 SI पद्धति में लैंस की शक्ति की इकाई क्या है? -डायोप्टर
 डेसीबल किसे नापने के लिए प्रयोग में लाया जाता है?
-वातावरण में ध्वनि की तीव्रता
 यंग प्रत्यास्थता गुणांक का SI मात्रक क्या है? -न्यूटन/मी2

 बल, चाल, ऊर्जा तथा तापमान में से कौनी सी वेक्टर राशि (Vector Quantity) है? -बल
 न्यूटन के गति के तीसरे नियम के अनुसार क्रिया तथा प्रतिक्रिया से सम्बद्ध बल कहाँ लगे होने चाहिए? -हमेशा भिन्न-भिन्न वस्तुओं
पर ही लगे होने चाहिए
 ‘‘प्रत्येक क्रिया के बराबर व विपरीत दिशा में एक प्रतिक्रिया होती है।‘‘ यह किसका नियम है? -न्यूटन का गति विषयक तृतीय नियम
 जल में तैरना न्यूटन की गति के किस नियम के कारण सम्भव है?
-तृतीय नियम
 ‘‘कोई पिण्ड तब तक विरामावस्था में ही बना रहेगा जब तक उस पर कोई बाह्य बल कार्य नहीं करता है।‘‘ यह कथन किसका है? -न्यूटन
7 न्यूटन के गति विषयक तृतीय नियम
अथवा
संवेग के नियम का प्रदर्शन
(1) बंदूक से गोली छोड़ने की अवस्था में, बंदूक द्वारा गोली पर आगे की ओर एक बल आरोपित होता है। गोली भी बंदक पर एकसमान परंतु विपरीत दिशा में प्रतिक्रिया बल लगाती है। इससे बंदूक पीछे की ओर प्रतिक्षेपित होती है।

गोली पर लगने वाला त्वरित बल तथा बंदूक का प्रतिक्षेपण
(2) एक नाविक द्वारा नाव से आगे की ओर कूदने की स्थिति में भी, गति के तीसरे नियम को प्रदर्शित किया जाता है। नाविक आगे की ओर कूदता है तो नाव पर लगने वाला प्रतिक्रिया बल नाव को पीछे की ओर धकेलता है।

नाविक के आगे की ओर कूदने की स्थिति में नाव पीछे की ओर गति करती है।
 किसी पिण्ड के उस गुणधर्म को क्या कहते हैं जिससे वह सीधी रेखा में विराम या एकसमान गति की स्थिति में किसी भी परिवर्तन का विरोध करता है? -जड़त्व
 न्यूटन के पहले नियम को क्या कहते हैं? -जड़त्व का नियम
 गाड़ी खींचता हुआ घोड़ा किस बल के कारण आगे बढ़ता है?
-पृथ्वी द्वारा घोड़े के पैरों पर आरोपित बल से
 चलती हुई बस जब अचानक ब्रेक लगाती है, तो उसमें बैठे हुए यात्री आगे की दिशा में गिरते हैं। इसको किसके द्वारा समझाया जा सकता है? -न्यूटन का पहला नियम
 रॉकेट की कार्य-प्रणाली किस सिद्धान्त पर आधारित होती है?
-संवेग संरक्षण
 अश्व यदि एकाएक चलना प्रारम्भ कर दे तो अश्वारोही के गिरने की आशंका का क्या कारण है? -विश्राम जड़त्व

यूटन के गति विषयक प्रथम नियम
अथवा
जडत्व के नियम का प्रदर्शन
(1) अंगुली से ताश के पत्ते पर झटका देने पर पते के ऊपर रखा सिक्का नीचे
की ओर गिलास में गिर जाता है।
(2) किसी तीव्र गति की कैरग की गोटी (या स्ट्राइकर) से टकरा कर देरी के
सबसे नीचे वाली गोटी ही देरी से बाहर आती है।

न्यूटन के गति के द्वितीय नियम का अनुप्रयोग
गति के द्वितीय नियम का प्रयोग हम अपने दैनिक जीवन में प्रायः देखते हैं। क्रिकेट मैच के दौरान मैदान में क्षेत्र रक्षक तेज गति से आ रही गेंद को लपकते समय हाथ को पीछे की ओर खींचता है। इस प्रकार से क्षेत्ररक्षक गेंद के वेग को शून्य करने में अधिक समय लगाता है। इस प्रकार गेंद में सवेग परिवर्तन की दर कम हो जाती है। इस कारण तेज गति से आ रही गेंद का प्रभाव हाथ पर कम पड़ता है। अगर गेंद को अचानक रोका जाता है तो तीव्र गति से आ रही गेंद का वेग बहुत कम समय में शून्य होता है अर्थात् गेंद के संवेग में परिवर्तन की दर अधिक होगी, इसलिए कैच लपकने में अधिक बल लगाना होगा जिससे हो सकता है कि खिलाड़ी की हथेली में चोट लग जाए।

क्रिकेट के खेल में कैच लपकने के लिए क्षेत्ररक्षक गेंद के साथ अपने हाथों को धीरे-धीरे पीछे की ओर खींचता है।

 क्रिकेट का खिलाडी तेजी से आती हुई बॉल को क्यों अपने हाथ में खींचकर पकड़ता है? -बॉल के संवेग में परिवर्तन की दर को कर
करने के लिए जिससे हथेली पर चोट न लगे।
 बल किसका गुणनफल है? -दव्यमान और त्वरण का
 जब कोई व्यक्ति चन्द्रमा पर उतरता है तो उसके शरीर में उपस्थित भार तथा मात्रा पर क्या प्रभाव पड़ता है?
-भार घट जाता है तथा मात्रा अपरिवर्तित रहती है
गुरुत्वाकर्षण बल (9)

न्यूटन ने यह दिखाया कि ग्रहों की गति का कारण गुरुत्वाकर्षण का वह बल है जो सूर्य उन पर लगाता है। न्यूटन ने बताया कि पृथ्वी का गुरुत्वाकर्षण बल दूरी के साथ घटता जाता है।
 यदि हम भूमध्य रेखा से ध्रुवों की ओर जाते हैं, तो ह का मान पर क्या फर्क पड़ता है? -बढ़ता है
 शरीर का वजन कहाँ अधिकतम होता है? – ध्रुवों पर
व्युत्क्रम-वर्ग का नियम
यदि यह कहा जाता है कि थ्एक के वर्ग के व्युत्क्रमानुपाती है, तो इस कथन का अर्थ है कि यदि क को 6 गुणा कर दिया जाए, तो थ् का मान 36वाँ भाग रह जाएगा। जहाँ, थ् किन्हीं भी दो पिण्डों (या ग्रहो) के मध्य लगने वाला आकर्षण बल तथा क उनके मध्य दूरी है।
 एक अन्तरिक्ष यात्री पृथ्वी तल की तुलना में चन्द्र तल पर अधिक ऊँची छलाँग लगा सकता है, क्योंकि -चन्द्र तल पर गुरुत्वाकर्षण बल
पृथ्वी तल की तुलना में अत्यल्प है
 20kg के वजन को जमीन के ऊपर 1 मी की ऊँचाई पर पकड़े रखने के लिए किया गया कार्य कितना है? -शून्य जूल
 एक व्यक्ति एक दीवार को धक्का देता है, पर उसे विस्थापित करने में
असफल रहता है, तो वह कितना कार्य करता है-कोई भी कार्य नहीं
 पहाड़ी पर चढ़ता एक व्यक्ति आगे की ओर क्यों झुक जाता है?
-स्थायित्व बढ़ाने के लिए
 पीसा की ऐतिहासिक मीनार तिरछी होते हुए भी क्यों नहीं गिरती है?
-क्योंकि इसके गुरुत्व केन्द्र से जाने वाली ऊर्ध्वाधर रेखा आधार से होकर जाती है।
 जाड़े की रातों में अत्यधिक ठंड पड़ने पर पानी की पाइप क्यों फट जाती है?
-क्योंकि जमने के बाद पानी का आयतन बढ़ जाता है
 पानी से भरी डाट लगी बोतल जमने पर क्यों टूट जाती है?
-क्योंकि जमने पर जल का आयतन बढ़ जाता है
 जल के आयतन में क्या परिवर्तन होगा यदि तापमान 9°ब् से गिराकर 3°ब् कर दिया जाता है?-आयतन पहले घटेगा और बाद में बढ़ेग

कुछ महत्वपूर्ण मात्रक
ऽ 1 खगोलीय इकाई = 1.495×1011 मीटर
ऽ 1 प्रकाश वर्ष = 9.45×1015 मीटर
ऽ 1 पारसेक = 3.08×1016 मीटर
ऽ 1 मीटर = 1.60934 किमी
ऽ 1 मीट्रिक टन = 1,000 किग्रा
ऽ 1 एकड़ = 4,046.95 वर्ग मी
ऽ 1 हेक्टेयर = 2.5 एकड़

पूरक मात्रक
वे मात्रक जो न तो मूल हैं न ही व्युत्पन्न हैं पूरक मात्रक (Supplementary Units) कहलाते हैं।
राशि मात्रक संकेत
समतल कोण (Plane angle) रेडियन तंक
ठोस कोण (Solid angle) स्टेरेडियनSr

बल आघूर्ण
बल आघूर्ण (Torque) ऐसी भौतिक राशि है जो किसी वस्तु में घूर्णन गति उत्पन्न करती है। यह वस्तु पर लगने वाले बल तथा घूर्णन अक्ष से वस्तु की लम्बवत् दूरी के गुणनफल के बराबर होता है।

घूर्णन गतिज ऊर्जा
 किसी वस्तु में उसकी घूर्णन गति के कारण जो ऊर्जा निहित होती है, वस्तु की घूर्णन गतिज ऊर्जा (Kinetic energy of rotation) कहलाती है।
घूर्णन की गतिज ऊर्जा = 1/2 ग जड़त्व आघूर्ण x कोणीय वेग
 समान द्रव्यमान की वलय तथा ठोस गोले, जो कि समान चाल में गति कर रहे हैं, वलय की घूर्णन गतिज ऊर्जा अधिक होगी तथा ठोस गोले की कम होगी।
 जब एक चल वस्तु की गति दुगुनी हो जाती है तो उसकी गतिज ऊर्जा पर क्या प्रभाव पड़ता है ? -चैगुनी हो जाती है
 सीढ़ी पर चढ़ने में अधिक ऊर्जा क्यों खर्च होती है?
-क्योंकि व्यक्ति गुरुत्व के विरुद्ध कार्य करता है
 ऑटोमोबाइलों में प्रयुक्त द्रवचालित ब्रेक किसका एक प्रत्यक्ष अनुप्रयोग है?
-पास्कल के सिद्धान्त का
 रेल की पटरियाँ अपने वक्रों (Curves) पर किस कारण से बैंक (Bankedia) की गई होती हैं? -ताकि रेलगाड़ी के भार के क्षैतिज घटक से आवश्यक अभिकेन्द्रीय बल प्राप्त किया जा सके
 साइकिल चलाने वाला मोड़ लेते समय क्यों झुकता है? -ताकि गुरुत्व केन्द्र आधार के अंदर बना रहे, जो उसे गिरने से बचाएगा
 कोई साइकिल सवार किसी मोड़ में घूमता है, तो वह किस ओर झुकता है? -अंदर की ओर
 क्रीम सेपरेटर में दूध में से वसा किस बल के कारण पृथक हो जाती है? -अपकेन्द्रीय बल
 जब पानी की बाल्टी काफी तेजी से ऊर्ध्वाधर वृत्त में घुमायी जाती है, तब पानी बाल्टी से उसकी उच्चतम स्थिति में भी नहीं गिरता है, क्योंकि -अपकेन्द्र बल पानी के वजन से अधिक होता है
 वाशिंग मशीन (Washing Machine) का कार्य सिद्धान्त क्या है?
-अपकेन्द्रण बल
 सरौंता तथा चिमटा किस प्रकार के उत्तोलकों से सम्बन्धित हैं?
-क्रमशः द्वितीय तथा तृतीय प्रकार के उत्तोलकों से
 जेट इंजन किस सिद्धान्त पर कार्य करता है?
-रैखिक संवेग के संरक्षण का सिद्धान्त
 पृथ्वी तल से किस न्यूनतम वेग से प्रक्षेपित किये जाने पर कोई रॉकेट पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण को पार करके अन्तरिक्ष में चला जायेगा?
-11.2 किमी/से
 भूस्थिर उपग्रह (Geostationary Satellite) का आवर्त काल क्या होता है? -24 घण्टे
 यदि किसी पिण्ड को पृथ्वी से 11.2 किमी प्रति सेकण्ड के वेग से फेंका
जाए तो पिण्ड कितने समय बाद लौटेगा?
-पृथ्वी पर कभी नहीं लौटेगा
 जब एक पत्थर को चाँद को सतह से पृथ्वी पर लाया जाता है, तो क्या फर्क पड़ता है? -इसका भार बढ़ जाएगा, परन्तु द्रव्यमान नहीं
 किसी लिफ्ट में बैठे हुए व्यक्ति को अपना भार कब अधिक मालूम पड़ता है? -जब लिफ्ट त्वरित गति से ऊपर जा रही हो
 पृथ्वी के परितः घूमने वाले कृत्रिम उपग्रह से बाहर गिराई गई गेंद कहाँ गिरेगी? -पृथ्वी के परितः उपग्रह के समान आवर्त काल के
साथ उसी की कक्ष में घूमती रहेगी
 एक लिफ्ट में किसी व्यक्ति का प्रत्यक्ष भार वास्तविक भार से कब कम होता है? -त्वरण के साथ नीचे आने पर
 भूस्थिर उपग्रहों की ऊँचाई होती है? -36,000 किमी
 टेनिस की गेंद मैदान की अपेक्षा किसी पहाड़ी पर अधिक ऊँची क्यों उछलती है?
-क्योंकि पर्वतों पर पृथ्वी का गुरुत्वीय त्वरण कम हो जाता है
 पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण का कितना भाग चन्द्रमा के गुरुत्वाकर्षण के सबसे नजदीक है? -1/6
कुल यान्त्रिक ऊर्जा
किसी वस्तु या व्यवस्था की कुल यान्त्रिक ऊर्जा इसकी गतिज ऊर्जा तथा स्थितिज ऊर्जा के योग के बराबर होती है।

 कौन-सा नियम इस कथन को वैध ठहराता है कि द्रव्य का न तो सृजन किया जा सकता है और न ही विनाश ?
-ऊर्जा संरक्षण का नियम
 लोलक का आवर्त (Time period) किस पर निर्भर करता है?
-धागे की लम्बाई के ऊपर
 लोलक घड़ियाँ गर्मियों में क्यों सुस्त हो जाती हैं?
-लोलक की लम्बाई बढ़ जाती है जिससे इकाई दोलन में लगा हुआ समय बढ़ जाता है
 किसी सरल लोलक की लम्बाई 4ः बढ़ा दी जाए तो उसका आवर्त का कितना बढ़ जायेगा?
-2ः बढ़ जाएगा