जीती मक्खी निगलना मुहावरे का अर्थ | jiti makkhi nigalna meaning in hindi तीन तेरह होना का अर्थ क्या है

By  

तीन तेरह होना का अर्थ क्या है jiti makkhi nigalna meaning in hindi जीती मक्खी निगलना मुहावरे का अर्थ वाक्य प्रयोग लिखिए 3 13 hona muhavare ka arth.

101. जमीन-आसमान एक करना = अत्यधिक प्रयास करना।
प्रयोग-प्रथम श्रेणी पाने के लिए मोहन को जमीन-आसमान एक करना पड़ा है, ऐसे ही प्रथम श्रेणी नहीं आ गई।
102. जान हथेली पर रखना = प्राणों की परवाह न करना।
प्रयोग-पर्वतारोही जान हथेली पर रखना पर्वतारोहण करते हैं।
103. जहर उगलना = अपमानपूर्ण कड़वी बातें कहना।।
प्रयोग-चुनाव जीतने के लिए प्रतिपक्षी नेता अपने विरोधियों के खिलाफ जहर उगलते रहते हैं।
104. जमीन आसमान का अन्तर होना = अत्यधिक अन्तर होना।
प्रयोग-कांग्रेस और भाजपा की कार्य-शैली में जमीन आसमान का अन्तर है।
105. जी खट्टा होना = मन फिर जाना।
प्रयोग-तुम्हारी ऐसी बातें सुनकर मेरा जी खट्टा हो जाता है। ।
106. जोड़-तोड़ मिलाना = अनेक उपाय करना ।
प्रयोग-बेटी की शादी करने के लिए आपको जोड़-तोड़ मिलाने पड़ेंगे तब काम बनेगा।
107. जवान लड़ाना = उत्तर-प्रत्युत्तर देना।
प्रयोग-बड़ों से जवान लड़ाना तुम्हें शोभा नहीं देता।
108. जीती मक्खी निगलना = जानकर धोखा खाना ।
प्रयोग-वदचलन लड़की से मैं अपने पुत्र का विवाह नहीं कर सकता। जान बूझकर जीती मक्खी नहीं निगली जाती।
109. टका-सा जवाब देना = स्पष्ट इन्कार कर देना।
प्रयोग-मैंने जब सोहन से रुपये उधार माँगे तो उसने टका-सा जवाब दे दिया।
110. टेढ़ी खीर होना = कठिन कार्य ।
प्रयोग-कश्मीर समस्या सुलझाना वास्तव में टेढ़ी खीर है।
111. टोपी उछालना = बेइज्जती करना।
प्रयोग-तुम्हारे बेटे ने भरी पंचायत में मुझे अपशब्द कहकर मेरी टोपी उछालने का काम किया है।
112. ठोकर लगना = हानि उठाना।
प्रयोग-ठोकर खाकर ही युवाओं को अक्ल आती है, उससे पहले नहीं।
113. डंके की चोट पर कहना = खुले आम कहना।
प्रयोग-मेरे बेटे ने डंके की चोट पर प्रेम विवाह किया है, क्योंकि यह कोई अपराध नहीं है।
114. ढोल में पोल होना = खोखला होना।
प्रयोग-मैं तो उन्हें बड़ा आदमी समझता था, पर वे तो भारी कंजूस निकले, धर्म के नाम पर भी चन्दा नहीं दिया । तब समझ में आया कि ढोल में भी पोल होती है।
115. ढिंढोरा पीटना = सबको बता देना।
प्रयोग-अच्छा है कि आपको खेत में गड़ी सम्पत्ति मिल गई, पर ढिंढोरा क्यों पीट रहे हो, कहीं पुलिस के कान में बात पड़ गई तो लेने के देने पड़ जाएँगे।
116. ढपोरशंख होना = डींग हाँकना।
प्रयोग-वह तो पूरा ढपोरशंख है, कहेगा कि दस हजार चंदा दूंगा, पर देगा एक रुपया भी नहीं।
117. तलवे चाटना = खुशामद करना।
प्रयोग-आज के विधायक मन्त्री बनने के लिए पार्टी मुखिया के तलवे चाटते रहते हैं।
118. तीन-तेरह होना = एकता नष्ट होना, बिखर जाना ।
प्रयोग-पिताजी के मरते ही उनका परिवार तीन-तेरह हो गया।
119. तिल का ताड़ बनाना = थोड़ी-सी (छोटी-सी) बात को बड़ा कर देना।
प्रयोग-बात बच्चों की लड़ाई से शुरू हुई, पर आपने तो तिल का ताड़ बनाकर परिवार से ही अलग होने का निश्चय कर लिया।
120. तूती बोलना = प्रभाव होना ।
प्रयोग-आजकल भाजपा में नरेन्द्र मोदी की तूती बोल रही है, क्योंकि उनमें चुनाव जितवा सकने की क्षमता है।
121. तलवार के घाट उतारना = मार डालना।
प्रयोग- युद्ध में सौ से अधिक सैनिक तलवार के घाट उतार दिये गये।
122. थाली का बैंगन होना = सिद्धान्तहीन होना।
प्रयोग-आप तो थाली के बैंगन हैं, कभी इस तरफ तो कभी उस तरफ। आपकी अपनी राय क्या है, इसका तो पता ही नहीं चल पाता।
123. दाँत खट्टे करना = पराजित करना।
प्रयोग-सीमा पर हमारे सैनिकों ने दुश्मन के दाँत खट्टे कर दिये।
124. दाँतों तले अंगुली दबाना = आश्चर्य-चकित होना।
प्रयोग- ताजमहल की सुन्दरता देखकर विदेशी सैलानी दाँतों तले अंगुली दबा लेते हैं।
125. दाँत तोड़ना = कड़ा दण्ड देना।
प्रयोग- देखो गाली मत दो, वरना दाँत तोड़ दूंगा।
126. दाल में काला होना = सन्देह होना ।
प्रयोग- सुबह-सुबह मोहल्ले में पुलिस को आया देखकर मैं सोचने लगा जरूर कुछ दाल में काला है, लगता है कोई अनहोनी हुई है।
127. दो टूक बात कहना = स्पष्टवादी होना।
प्रयोग-वकील ने गवाह से कहा-देखो दो टूक बात करो, तभी तुम्हारी गवाही का विश्वास जज साहब करेंगे।
128. दाल न गलना = काम न बनना।
प्रयोग-इस केन्द्र पर तुम्हारी दाल न गलेगी क्योंकि यहाँ नकल नहीं होती।
129. दाँत खट्टे करना = पराजित करना।
प्रयोग-बाबा रामदेव की संस्था पतंजलि द्वारा निर्मित दन्तकान्ति टूथपेस्ट ने सभी विदेशी दंतमंजनों (टूथपेस्टों) के दाँत खट्टे कर दिए।
130. दिन दूनी रात चैगुनी = बहुत शीघ्र उन्नति करना।
प्रयोग- माताजी ने आशीर्वाद देते हुए कहा-बेटा तुम दिन दूनी रात चैगुनी उन्नति करो।
131. दुम दबाकर भाग जाना = डर जाना ।
प्रयोग-कोतवाल साहब के आते ही जाम लगाने वाले लोग दुम दुबाकर भाग गए।
132. दिन चढ़ना = गर्भवती होना।
प्रयोग-बहू के दिन चढ़ गए हैं यह जानकर सासू माँ प्रसन्न हो गयीं।
133. दिल बाग-बाग होना = खुश होना।
प्रयोग-वर्षों से बिछड़े मित्र से मिलकर मेरा दिल बाग-बाग हो गया।
134. दाग लगाना = कलंकित होना।
प्रयोग- मेरे परिवार की लड़की भाग जाने से कुल में दाग लगा गया।
135. दूध का दूध पानी का पानी करना = सच्चा इंसाफ करना ।
प्रयोग-इलाहाबाद हाई कोर्ट ने तलवार दम्पति को बेटी की हत्या के जुर्म से बरी करके दूध का दूध और पानी का पानी कर दिया।