भारतीय संविधान में कितने मौलिक कर्तव्य हैं , उल्लिखित हैं दिए गए हैं लिया गया है how many fundamental duties are there in indian constitution in hindi

By   June 12, 2021

how many fundamental duties are there in indian constitution in hindi भारतीय संविधान में कितने मौलिक कर्तव्य हैं , उल्लिखित हैं दिए गए हैं लिया गया है ?

1. संविधान में (मौलिक कर्तव्य किस संशोधन द्वारा जोड़े गए थे?
(अ) 40वां संशोधन (ब) 42वां संशोधन
(स) 44वां संशोधन (द) 45वां संशोधन
S.S.C. स्नातक स्तरीय परीक्षा, 2008
उत्तर-(ब)
उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
2. रिक्त स्थान की पूर्ति करें –
‘अधिकार कर्त्तव्यों…………
(अ) को बाधित करता है। (ब) को अनुदेशित करता है।
(स) में निहित है। (द) का विरोध करता है।
S.S.C. मल्टी टास्किंग परीक्षा, 2014
उत्तर-(ब)
संविधान और विधि द्वारा प्रदत्त अधिकारों की सीमा में ही हमें अपने कर्तव्यों का पालन करना पड़ता है, इसीलिए कहा जा सकता है कि ‘अधिकार कर्तव्यों‘ को अनुदेशित करते हैं।
3. मौलिक कर्तव्यों के अध्याय में शामिल हैं-
(अ) उन उदात्त आदर्शों को संजोने तथा अपनाने का कर्तव्य जिन्होंने हमारे स्वतंत्रता आंदोलन को प्रेरित किया।
(ब) आम चुनाव में मत देने का कर्तव्य।
(स) लोगों में भ्रातृत्व भाव पैदा करने का कर्त्तव्य।
(द) उस राजनीतिक दल के साथ बने रहने का कर्तव्य जिसकी टिकट पर किसी ने चुनाव लड़ा हो।
S.S.C.Section off. परीक्षा, 2007
उत्तर-(अ)
मौलिक कर्तव्यों के अध्याय में कुल 10 (वर्तमान में 11) मूल कर्तव्यों को शामिल किया गया है। इसमें उन उदात्त आदर्शों को संजोने तथा अपनाने का कर्तव्य शामिल है जिन्होंने हमारे स्वतंत्रता
आंदोलन को प्रेरित किया। ये मूल कर्तव्य संविधान के भाग 4 क में अनुच्छेद-51 (क) के रूप में शामिल हैं।
4. भारतीय संविधान में कितने मौलिक कर्तव्य शामिल किए गए है?
(अ) नौ (ब) दस
(स) ग्यारह (द) बारह
S.S.C.C.P.O परीक्षा, 2006
उत्तर-(स)
उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
5. संविधान का निम्नलिखित में से कौन-सा अनुच्छेद मौलिक कर्तव्यों से संबंधित है?
(अ) अनुच्छेद 39 ग (ब) अनुच्छेद 51 क
(स) अनुच्छेद 29 ख (द) उपर्युक्त में से कोई भी नहीं
S.S.C.C.P.O. परीक्षा, 2010
उत्तर-(ब)
उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
6. मौलिक अधिकारों को भोगने को सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी निम्नलिखित में से किसको सौंपी गई है?
(अ) उच्च न्यायालय को
(ब) उच्चतम न्यायालय को
(स) सभी न्यायालयों को
;द) उपर्युक्त (अ) और (ब) दोनों को
S.S.C. मैट्रिक स्तरीय परीक्षा, 2006
उत्तर-(द)
मौलिक अधिकारों का प्रवर्तन सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी संविधान में उच्चतम न्यायालय एवं उच्च न्यायालयों को सौंपी गई है जो कि इस संदर्भ में क्रमशः अनु. 32 एवं अनु. 226 के तहत अपनी रिट अधिकारिता के अंतर्गत कार्यवाही कर सकते हैं।
7. मौलिक अधिकार निलंबित किए जा सकते हैंै-
(अ) राज्यपाल द्वारा (ब) राष्ट्रपति द्वारा
(स) विधि मंत्री द्वारा (द) प्रधानमंत्री द्वारा
S.S.C. संयुक्त स्नातक स्तरीय (ज्पमत-प्) परीक्षा, 2012
उत्तर-(ब)
राष्ट्रपति द्वारा मौलिक अधिकारों को निलंबित किया जा सकता है, परंतु मौलिक अधिकारों को राष्ट्रपति स्वेच्छा से निलंबित नहीं कर सकता क्योंकि राष्ट्रीय आपातकालीन शक्तियां (अनु. 352) संसद के अधीन हैं।
8. भारतीय नागरिकों के मौलिक अधिकारों को निलंबित किया जा सकता है –
(अ) राष्ट्रीय आपातकाल के दौरान
(ब) वित्तीय आपातकाल के दौरान
(स) कभी भी
(द) किसी भी दशा में
S.S.C. मैट्रिक स्तरीय परीक्षा, 2008
उत्तर-(अ)
उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
9. मौलिक अधिकारों पर यथोचित प्रतिबंध कौन लगा सकता है?
(अ) मंत्रिपरिषद (ब) संसद
(स) जनता (द) मंत्रिमंडल
उत्तर-(ब)
भारतीय संविधान के तहत मौलिक अधिकारों पर यथोचित युक्तियुक्त निर्बधन या प्रतिबंध संसद द्वारा विधि बनाकर लगाए जा सकते हैं।
10. निम्नलिखित में से कौन-से अनुच्छेद में ‘समता का अधिकार‘ का प्रावधान है?
(अं) अनुच्छेद-14 (ब) अनुच्छेद-19
(स) अनुच्छेद-20 (द) अनुच्छेद-21
S.S.C. मैट्रिक स्तरीय परीक्षा, 2008
उत्तर-(अ)
भारतीय संविधान में ‘समता का अधिकार‘ मौलिक अधिकारों के अंतर्गत अनु. 14-18 के मध्य प्रावधानित है जिसमें से ‘विधि के समक्ष साता का अधिकार‘ अनु. 14 के अंतर्गत प्रावधानित है।
11. नागरिकों और विदेशियों दोनों को प्राप्त हैं-
(अ) राजनीतिक अधिकार (ब) मौलिक अधिकार
(स) सिविल अधिकार (द) विधिक अधिकार
S.S.C. मैट्रिक स्तरीय परीक्षा, 2008
उत्तर-(द)
भारत में विधिक अधिकार नागरिकों एवं विदेशियों दोनों को ही प्राप्त हैं। राजनीतिक एवं सिविल अधिकार जहां केवल नागरिकों को ही प्राप्त हैं, वहीं कतिपय मौलिक अधिकार ही (सभी नहीं) नागरिकों एवं विदेशियों दोनों को ही प्राप्त हैं।
12. निम्न में से कौन-सा मूल अधिकार केवल भारत के नागरिकों के लिए है?
(अ) जीवन और स्वतंत्रता का अधिकार
(ब) धर्म की स्वतंत्रता का अधिकार
(स) समानता का अधिकार
(द) अभिव्यक्ति का अधिकार
S.S.C. संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2012
उत्तर-(द)
भारतीय संविधान में कुछ ‘मूल अधिकार‘ केवल भारत के नागरिकों को अनु.15, अनु.16, अनु. 19, अनु. 29 एवं अनु. 30 में प्राप्त हैं। विकल्प (द) में जो अभिव्यक्ति का अधिकार दिया गया है वह अनु.19 में वर्णित है।
13. किसी धर्म-विशेष के संवर्धन के लिए करों के भुगतान की अनिवार्यता से मुक्ति की गारंटी दी गई है-
(अ) अनुच्छेद 25 द्वारा (ब) अनुच्छेद 26 द्वारा
(स) अनुच्छेद 27 द्वारा (द) अनुच्छेद 28 द्वारा
S.S.C. मैट्रिक स्तरीय परीक्षा, 2006
उत्तर-(स)
संविधान के अनुच्छेद 27 के अंतर्गत किसी भी व्यक्ति को किसी विशिष्ट धर्म की अभिवृद्धि के लिए अथवा संवर्द्धन के लिए करों की अनिवार्यता से मुक्ति की गारंटी दी गई है अर्थात् उसे इस उद्देश्य के लिए कर देने के लिए बाध्य नहीं किया जा सकता।
14. अल्पसंख्यकों के हितों की सुरक्षा पर किस अनुच्छेद में विचार किया गया है?
(अ) 14 (ब) 19
(स) 29 (द) 32
S.S.C.संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2012
उत्तर-(स)
संविधान के अनुच्छेद 29 के खंड (1) और (2) के अंतर्गत अल्पसंख्यक वर्गों के हितों की सुरक्षा पर विचार तथा प्रावधान किए गए हैं।
15. भारतीय संविधान का कौन-सा अनुच्छेद ‘अस्पृश्यता‘ का
उन्मूलन करता है?
(अ) 14 (ब) 15
(स) 16 (द) 17
S.S.C.C.P.O. परीक्षा, 2008
उत्तर-(द)
संविधान के अनुच्छेद 17 के अनुसार, अस्पृश्यता का अंत किया गया है तथा किसी भी रूप में उससे उपजी निर्योग्यता को लागू करना अपराध माना गया जो विधि के अनुसार दंडनीय भी होगा। इसी अनुच्छेद के अनुसरण में संसद ने अस्पृश्यता (अपराध) अधिनियम, 1955 अधिनियमित किया। 1976 में संशोधन के उपरांत यह अब सिविल अधिकार संशोधन अधिनियम, 1955 के नाम से जाना जाता है।
16. निम्न में से कौन-सा मौलिक अधिकार नहीं है?
(अ) समता का अधिकार
(ब) शोषण के प्रति अधिकार
(स) हड़ताल का अधिकार
(द) धर्म की स्वतंत्रता का अधिकार
S.S.C. F.C.I. परीक्षा, 2012
उत्तर-(स)
भारतीय संविधान में समता का अधिकार अनु. 14-18, शोषण के विरुद्ध अधिकार अनु. 23-24 तथा धर्म की स्वतंत्रता का अधिकार
25-28 के तहत मौलिक अधिकारों में शामिल हैं जबकि हड़ताल का अधिकार मौलिक अधिकार नहीं है।
17. कतिपय मौलिक अधिकार नहीं दिए जाते –
(अ) दिवालिया व्यक्तियों को
(ब) विदेशियों को
(स) असाध्य रोगों से ग्रस्त व्यक्तियों को
(द) राजनीतिक पीड़ितों को
S.S.C.Tax Asst.  परीक्षा, 2009
उत्तर-(ब)
भारतीय संविधान में उल्लिखित मौलिक अधिकारों (अनुच्छेद 1435) में कतिपय मौलिक अधिकार यथा वाक््-स्वातंत्र्य आदि विषयक कुछ अधिकारों का संरक्षण (अनु. 19), लोक नियोजन के विषय में अवसर की समता (अनु. 16), विभेद का प्रतिषेध (अनु. 15), अल्पसंख्यक वर्गों के हितों का संरक्षण (अनु. 29) आदि अधिकार भारत के नागरिकों को ही प्राप्त हैं, विदेशियों को नहीं।
18. भारतीय संविधान के अनुसार, निम्न में से कौन-सा मूल अधिकार नहीं है?
(अ) शिक्षा का अधिकार
(ब) सूचना का अधिकार
(स) भाषण का अधिकार
(द) जीवन का अधिकार
S.S.C.  संयुक्त स्नातक स्तरीय (Tier-I) परीक्षा, 2013
उत्तर-(ब)
भारतीय संविधान के अनुसार ‘सूचना का अधिकार‘ मूल अधिकार नहीं है। अन्य विकल्पों में दिए गए अधिकार मूल अधिकार है। सूचना का अधिकार एक कानूनी अधिकार है। हालांकि कुछ न्यायिक व्याख्याओं में संविधान के अनुच्छेद 19 (1) (क) के अंतर्गत सूचना के अधिकार को निहित माना गया है।
19. मत देने का अधिकार किस कोटि से संबंधित है?
(अ) मानवाधिकार (ब) नागरिक अधिकार
(स) प्राकृतिक अधिकार (द) राजनीतिक अधिकार
S.S.C. संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2013
उत्तर-(द)
भारत में वयस्क मताधिकार प्रणाली अपनाई गई है जिसके तहत 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी नागरिकों को अपने जन प्रतिनिधियों को चुनने का वैधानिक अधिकार प्राप्त है। अनुकूल चंद्र प्रधान बनाम भारत संघ के वाद (1997) में सर्वोच्च न्यायालय ने मतदान करने के अधिकार को मौलिक अधिकार नहीं बल्कि विधान द्वारा अध्यारोपित सीमाओं के अधीन वैधानिक अधिकार माना है। मत देने के अधिकार को ‘राजनीतिक अधिकार‘ भी माना जाता है, क्योंकि इसका प्रयोग वयस्क मतदाता द्वारा अपनी राजनीतिक इच्छापूर्ति हेतु किया जाता है।