विद्युत धारा कक्षा 10 नोट्स और प्रश्न उत्तर अध्याय 10 , electric current class 10 notes in hindi

By   May 23, 2019

electric current class 10 notes in hindi , विद्युत धारा कक्षा 10 नोट्स और प्रश्न उत्तर अध्याय 10 : इस पाठ में हम विद्युत धारा के बारे में विस्तार पूर्वक अध्ययन करेंगे और उसके बाद इस चैप्टर के सभी प्रश्न और उनके उत्तरों को पढेंगे।

टॉपिक

  • विद्युत धारा
  • विद्युत धारा का मात्रक
  • विभव विभवान्तर
  • विद्युत परिपथ में उपयोगी उपकरणों के प्रचलित संकेत
  • ओम का नियम
  • प्रतिरोध
  • प्रतिरोध की निर्भरता
  • प्रतिरोधकता
  • प्रतिरोध की ताप पर निर्भरता
  • प्रतिरोध की पदार्थ पर निर्भरता
  • प्रतिरोधो का संयोजन
  • श्रेणी क्रम संयोजन
  • समान्तर क्रम संयोजन
  • विद्युत धारा का तापीय प्रभाव
  • विद्युत शक्ति
  • विद्युत धारा का चुम्बकीय प्रभाव
  • चुम्बकीय क्षेत्र की दिशा
  • चुम्बकीय क्षेत्र और क्षेत्र रेखाएं
  • विद्युत चुम्बकीय प्रेरण
  • चुम्बकीय फ्लक्स
  • विद्युतधारा जनित्र
  • प्रत्यावर्ती धारा जनित्र
  • दिष्ट धारा जनित्र

बहुचयनात्मक प्रश्न और उत्तर

प्रश्न 1 : 5 वोल्ट की बैटरी से यदि किसी चालक में 2 एम्पीयर की धारा प्रवाहित की जाती है तो चालक का प्रतिरोध होगा ?

प्रश्न 2 : प्रतिरोधकता निम्न में से किस पर निर्भर करती है ?

प्रश्न 3 : वोल्ट किसका मात्रक है ?

प्रश्न 4 : एक विद्युत परिपथ में 1 Ω , 2Ω व 3Ω के तीन चालक तार श्रेणीक्रम में लगे है , इसका तुल्य प्रतिरोध होगा ?

प्रश्न 5 : भारत में प्रत्यावर्ती धारा की आवृत्ति है ?

प्रश्न 6 : विभिन्न मान के प्रतिरोधों को समान्तर क्रम में जोड़कर उन्हें विद्युत स्त्रोत से जोड़ने पर प्रत्येक प्रतिरोध तार में ?

प्रश्न 7 : किसी विद्युत परिपथ में 0.5 सेकंड में 2 कुलाम आवेश प्रवाहित होता है , विद्युत धारा का मान एम्पियर में होगा ?

प्रश्न 8 : विद्युत के ऊष्मीय प्रभाव पर आधारित युक्ति नहीं है ?

अतिलघुरात्मक प्रश्न और उत्तर

प्रश्न 9 : विशिष्ट प्रतिरोध अथवा प्रतिरोधकता का मात्रक क्या होता है ?

प्रश्न 10 : विद्युत धारा की परिभाषा दीजिये।

प्रश्न 11 : विद्युत विभव किसे कहते है।

प्रश्न 12 : 1 ओम प्रतिरोध किसे कहते है ?

प्रश्न 13 : प्रतिरोध अनुप्रस्थ काट पर कैसे निर्भर करता है ?

प्रश्न 14 : प्रतिरोधकता की परिभाषा दीजिये।

प्रश्न 15 : विद्युत शक्ति किसे कहते है ?

प्रश्न 16 : एक विद्युत बल्ब पर 100w-220V लिखा है इसका क्या अभिप्राय है ?

प्रश्न 17 : घरो में विद्युत का संयोजन किस प्रकार किया जाता है ?

लघुरात्मक प्रश्न और उत्तर

प्रश्न 18 : प्रतिरोधो के श्रेणीक्रम संयोजन व समान्तर क्रम संयोजन में क्या अंतर है ?

प्रश्न 19 : विद्युत शक्ति किसे कहते है ? इसके लिए आवश्यक सूत्र लिखिए।

प्रश्न 20 : दो प्रतिरोध तार एक ही पदार्थ के बने हुए है इनकी लम्बाईयां समान है यदि इनके अनुप्रस्थ काटो के क्षेत्रफल का अनुपात 2:11 है तो इनके प्रतिरोधो का अनुपात ज्ञात करो ?

प्रश्न 21 : विद्युत विभव व विभवान्तर को परिभाषित करो।

प्रश्न 22 : प्रत्यावर्ती धारा जनित्र एवं दिष्ट धारा जनित्र में क्या अंतर है ?

प्रश्न 23 : दक्षिणावर्त हस्त का नियम लिखो।

प्रश्न 24 : 1 किलोवाट घंटा में जूल की संख्या ज्ञात करो।

प्रश्न 25 : जूल के तापन के नियम लिखो।

प्रश्न 26 : ओम के नियम का प्रायोगिक सत्यापन का परिपथ का नामांकित चित्र बनाओ।

निबंधात्मक प्रश्न और उत्तर

प्रश्न 27 : प्रत्यावर्ती धारा जनित्र की बनावट एवं कार्य विधि समझाइये।  आवश्यक नामांकित चित्र बनाओ।

प्रश्न 28 : श्रेणीक्रम संयोजन का परिपथ चित्र बनाते हुए तुल्य प्रतिरोध का आवश्यक सूत्र स्थापित करो।

प्रश्न 29 : समान्तर क्रम संयोजन का आवश्यक परिपथ बनाते हुए तुल्य प्रतिरोध का सूत्र ज्ञात करो।

आंकिक प्रश्न तथा उनका हल

प्रश्न 30 : 1 Ω , 2Ω व 3Ω के तीन प्रतिरोधों के संयोजन से प्राप्त अधिकतम व न्यूनतम प्रतिरोध ज्ञात करो।

प्रश्न 31 : यदि किसी चालक तार में 10 मिली एम्पियर की धारा प्रवाहित करने पर इसके सिरों पर 2.5 वोल्ट का विभवान्तर उत्पन्न होता है तो चालक तार का प्रतिरोध ज्ञात करो।

प्रश्न 32 : निम्न परिपथो में A व B के मध्य तुल्य प्रतिरोध ज्ञात करो।

प्रश्न 33 : एक 1500 वाट की निमज्जन छड प्रतिदिन 3 घंटे पानी गर्म करने में काम में आती है।  यदि एक यूनिट विद्युत ऊर्जा का मूल्य 5 रुपये है तो 30 दिन में उपयोग हुई विद्युत का मूल्य कितना होगा ?

महत्वपूर्ण बिंदु या विद्युत धारा पाठ का सारांश

  • विद्युत धारा : किसी चालक में आवेश प्रवाह की दर को विद्युत धारा कहते है , विद्युत धारा उच्च विभव बिंदु से निम्न विभव बिंदु की तरह प्रवाहित होती है।  यह ऊष्मा की तरह ही होती है जैसे ऊष्मा भी उच्च ताप से निम्न ताप की वस्तु की तरफ बहती है।
  • विद्युत धारा को अमीटर नामक यन्त्र की सहायता से मापा जाता है। किसी परिपथ में धारा के मापन के लिए अमीटर को परिपथ में श्रेणीक्रम में लगाया जाता है।
  • विभवान्तर : किसी भी विद्युत परिपथ में एकांक धन आवेश को एक बिंदु से दुसरे बिंदु तक ले जाने में किया गया कार्य उन दोनों बिन्दुओ के मध्य विभवान्तर कहलाता है।
  • विभव : एकांक धन आवेश को अन्नत से किसी बिंदु तक लाने में किया गया कार्य उस बिंदु पर विभव कहलाता है।
  • वोल्टमीटर : किसी विद्युत परिपथ में विभवान्तर के मान का मापन करने के लिए जिस यन्त्र का उपयोग किया जाता है उसे वोल्टमीटर कहते है।
  • ओम का नियम : यदि किसी चालक की भौतिक अवस्थाएं स्थिर राखी जाए तो चालक के सिरों पर उत्पन्न विभवान्तर उसमे प्रवाहित विद्युत धारा के समानुपाती होता है।
  • प्रतिरोध : किसी विद्युत परिपथ में इलेक्ट्रॉन के प्रवाह के उत्पन्न बाधा को प्रतिरोध कहते है , प्रतिरोध कुछ कारको पर निर्भर करता है जैसे पहला उस चालक की लम्बाई , दूसरा उस चालक के अनुप्रस्थ काट के क्षेत्रफल।
  • विद्युत ऊर्जा : किसी विद्युत स्रोत के द्वारा किसी परिपथ में विद्युत धारा के मान को बनाये रखने में किये गए कार्य के मान को विद्युत ऊर्जा कहलाती है।
  • प्रत्यावर्ती धारा : ऐसी धारा जो समान काल अंतरालो के पश्चात् अपनी दिशा में परिवर्तन कर लेती है उसे प्रत्यावर्ती धारा कहते है।
  • दिष्ट धारा : ऐसी धारा जो समय के साथ परिवर्तित नहीं होती है उसे दिष्ट धारा कहते है।