पादपों एवं जन्तुओ के आर्थिक महत्व कक्षा 10 वीं , अध्याय 14 , economic importance of plants and animals class 10 notes in hindi

By   May 26, 2019

economic importance of plants and animals class 10 notes in hindi , पादपों एवं जन्तुओ के आर्थिक महत्व कक्षा 10 वीं , अध्याय 14 : यह पाठ कक्षा 10 वीं का 14 वाँ पाठ है इस पाठ में हम पढेंगे की पादपो और जन्तुओं का का हमारे जीवन में आर्थिक महत्व क्या होता है अर्थात पादप और जंतु आर्थिक रूप से किस प्रकार महत्वपूर्ण होते है।

टॉपिक

  • पादपो के आर्थिक महत्व
  • खाद्य सम्बन्धी महत्व के पादप
  • अनाज
  • दालें
  • तेल उत्पादक पौधे
  • महत्वपूर्ण मसाले
  • पेय पदार्थ
  • सब्जियाँ
  • फल
  • औषधीय पादप
  • निर्माण सम्बन्धी महत्व के पादप
  • रेशे उत्पादक पौधे
  • इमारती काष्ठ
  • जन्तुओं के आर्थिक महत्व
  • मधुमक्खी पालन
  • रेशमकीट पालन
  • लाख कीट संवर्धन
  • मछलीपालन
  • पशुपालन
  • डेयरी उद्योग
  • कुक्कुट पालन या मुर्गीपालन
  • ऊन उद्योग
  • प्रवाल एवं प्रवाल भित्तियाँ
  • मोती या मुक्ता संवर्धन
  • जंतुओं के अन्य महत्व

बहुचयनात्मक प्रश्न और उत्तर

प्रश्न 1 : निम्न में से कौनसा पादप अनाज नहीं है ?

प्रश्न 2 : इमारती लकड़ी (काष्ट) पादप का कौनसा भाग है ?

प्रश्न 3 : अफीम का कौनसा भाग औषधीय महत्व का है ?

प्रश्न 4 : राजस्थान का राज्य वृक्ष है ?

प्रश्न 5 : पुष्पक्रम से प्राप्त सब्जी है ?

प्रश्न 6 : मधुमक्खी पालन कहलाता है ?

प्रश्न 7 : मधुमक्खी के छत्ते में कितने प्रकार की मक्खियाँ पायी जाती है ?

प्रश्न 8 : रेशम प्राप्त किया जाता है ?

प्रश्न 9 : मुर्गीपालन का प्रमुख उत्पाद है ?

अतिलघुरात्मक प्रश्न और उत्तर

प्रश्न 10 : रबी फसलो के रूप में बोये जाने वाले एक अनाज का नाम लिखिए।

प्रश्न 11 : गेहूँ की दो उन्नत किस्मों के नाम लिखिए।

प्रश्न 12 : सर्वाधिक प्रोटीन युक्त दाल का नाम लिखिए।

प्रश्न 13 : जड़ व तने से प्राप्त दो दो सब्जियों के नाम लिखिए।

प्रश्न 14 : इमारती काष्ठ किसे कहते है ?

प्रश्न 15 : दो औषधीय पादपो के वैज्ञानिक नाम लिखिए।

प्रश्न 16 : राजस्थान का राज्य पुष्प कौनसा है ?

प्रश्न 17 : भैंस की दो देशी अच्छी नस्लों के नाम लिखिए।

प्रश्न 18 : मधुमक्खी पालन के दो उत्पाद कौनसे है ?

प्रश्न 19 : रेशमकीट किस वृक्ष की पत्तियों पर पाले जाते है ?

प्रश्न 20 : मछली पालन के लिए कौनसा जल अधिक उपयुक्त माना जाता है ?

प्रश्न 21 : मुर्गीपालन को क्या कहते है ?

प्रश्न 22 : भेड़ की एक देशी अच्छी नस्ल का नाम लिखिए।

लघुरात्मक प्रश्न और उत्तर

प्रश्न 23 : अनाज उत्पादक दो पादपो के वानस्पतिक नाम लिखिए।

प्रश्न 24 : चार मसाला उत्पादक पादपों का नाम लिखिए।

प्रश्न 25 : काष्ठ किसे कहते है ? एक इमारती काष्ठ उत्पादक पादक का नाम लिखिए।

प्रश्न 26 : औषधीय महत्व के दो पादपों के वैज्ञानिक नाम लिखिए।

प्रश्न 27 : तेल उत्पादक दो पौधों के नाम लिखिए ?

प्रश्न 28 : पशुपालन क्यों आवश्यक है ?

प्रश्न 29 : रेशम प्राप्त करने की विधि समझाइये।

प्रश्न 30 : मुर्गियों में होने वाले रोगों के नाम लिखिए।

प्रश्न 31 : भैंस एवं गाय की दो दो देशी नस्लों के नाम लिखिए।

प्रश्न 32 : मधुमक्खी के छत्ते में पायी जाने वाली मक्खियों के नाम लिखिए।

निबंधात्मक प्रश्न व उनके उत्तर

प्रश्न 33 : भोज्य सम्बन्धी पादपों पर एक लेख लिखिए।

प्रश्न 34 : औषधीय पादपों का वर्णन कीजिये।

प्रश्न 35 : रेशे उत्पादक व इमारती काष्ठ उत्पादक पादपो का वर्णन कीजिये।

प्रश्न 36 : डेयरी उद्योग पर लेख लिखिए।

प्रश्न 37 : मधुमक्खी पालन में मक्खियों के म विभाजन को समझाइए तथा इसका महत्व लिखिए।

प्रश्न 38 : रेशमकीट की विभिन्न अवस्थाओ के बारे में बताते हुए समझाइये की रेशम कैसे बनता है ?

प्रश्न 39 : मछली पालन तथा मुर्गीपालन के महत्व को समझाइये।

महत्वपूर्ण बिंदु या पादपों एवं जन्तुओ के आर्थिक महत्व पाठ सारांश

  • जैसा कि हम जानते है कि विभिन्न प्रकार के पादप और जंतु हमारे लिए आर्थिक रूप से महत्वपूर्ण है , यहाँ हम आर्थिक रूप से उपयोगी पादपो और जंतुओं का अध्ययन करेंगे , अपयोगी पादपो का अध्ययन करना वनस्पति विज्ञान कहलाता है।
  • मानव की तीन मूलभूत आवश्यकता होती है जो कि रोटी , कपडा और मकान होती है ये तीनो आवश्यकता ही पादपो का उपयोग करके पूर्ण की जाती है , अर्थात पादपो से मानव रोटी , कपड़ा और मकान तीनो आवश्यकता को पूरी करता है इसलिए पादपो का मानव के जीवन में बहुत अधिक योगदान होता है .
  • मानव अपनी आर्थिक आवश्यकता पूर्ण करने के लिए जंतुओं की मदद लेता है जैसे आर्थिक मजबूती के लिए मानव मधुमक्खी पालन , मुर्गीपालन , पशुपालन आदि करता है जिससे मानव को विभिन्न प्रकार की वस्तु प्राप्त होती है जैसे मधुमक्खी पालन से शहद , पशु पालन से ऊन , दूध आदि प्राप्त होते है।
  • उत्तरी भारत में कई प्रकार की देशी नस्ले पायी जाती है जिनसे उन बनाया जाता है अर्थात उन को प्राप्त करने के लिए उत्तरी भारत में विभिन्न प्रकार की देशी नस्ले पाली जाती है।
  • जन्तुओं के द्वारा भोजन प्राप्ति के लिए अर्थात अंडा और मांस प्राप्त करने के लिए भारत देश में विभिन्न प्रकार की देशी या विदेशी नस्लों की मुर्गियों का पालन किया जाता है जिनके द्वारा मांस और अंडे प्राप्त किये जा सकते है।
  • इसी प्रकार शाकाहारी मनुष्यों के लिए दूध आदि प्राप्त करने के लिए भारत देश में विभिन्न प्रकार की नस्लों के जानवरों का पालन किया जाता है इन जानवरों में मुख्य रूप से भैंस और गाय पाली जाती है।