पाचन किसे कहते हैं , digestion meaning in hindi , पाचन की परिभाषा क्या है , प्रकार , अंत: , बाह्य कोशिकीय

By  

पाचन की परिभाषा क्या है , प्रकार , अंत: , बाह्य कोशिकीय , digestion meaning in hindi , पाचन किसे कहते हैं ?

जन्तु अपने भोजन का संश्लेषण नहीं कर पाते है इसलिए वे अपनी पोषण आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए तैयार भोजन पर निर्भर रहते है।

पोषण” शब्द उन सभी क्रियाओं के कुल योग को प्रदर्शित करता है जिसमे कच्चे भोज्य पदार्थो को शरीर के उपयोगी पदार्थो में बदला जाता है। इसमें प्राप्त ऊर्जा का उपयोग विभिन्न उपापचयी क्रियाओ और मरम्मत तथा वृद्धि के लिए किया जाता है।

दुसरे शब्दों में पोषण वह क्रिया है जिसके द्वारा एक जन्तु कार्य करने के लिए एवं वृद्धि करने के लिए आवश्यक अन्य पदार्थो और जीवन की विभिन्न क्रियाओं के रखरखाव के लिए ऊर्जा प्राप्त करता है।

भोजन अन्तर्ग्रहण

विभिन्न जन्तु अलग अलग तरह से भोजन को ग्रहण करते है परन्तु उनके उपयोग करने की रासायनिक गतिविधियाँ समान होती है। उदाहरण के लिए भोजन ग्रहण करने के लिए प्रोटोजोआ स्यूडोपोडिया , फैलेजिला और सिलिया का उपयोग करते है। स्पंज और मसल्स जल धारा के द्वारा , हाइड्रा निमैटोसिस्ट युक्त फ्लैजिला द्वारा , प्लैनेरिया तथा केंचुआ मस्कुलर फैरिक्स के द्वारा , फ्लूक्स और लीच मुख चूषक के द्वारा , आर्थ्रोपोड्स विभिन्न प्रकार के मुख अंगो द्वारा , सी स्टार तथा सी अर्चिन ट्यूबफीट के द्वारा , शार्क अपने शिकार को जबड़े के द्वारा , मेंढक और छिपकली जीभ के द्वारा , चिड़ियाँ चोंच के द्वारा , खरगोश एवं पशु अग्र पंजे , होंठ तथा दाँतो द्वारा , माँसाहारी जंतु नाख़ून तथा दांतों द्वारा , जिराफ जीभ द्वारा , हाथी सुन्ड द्वारा तथा मनुष्य , बन्दर तथा कपि हाथों द्वारा भोजन को ग्रहण करते है।

पाचन (digestion)

वह प्रक्रिया , जिसमे पाचक एंजाइम (हाइड्रोलिटिक एंजाइम्स) की सहायता से भोजन को जटिल से सरल रूप में परिवर्तित किया जाता है , पाचन कहलाती है। अत: पाचन की क्रिया हाइड्रोलिटिक प्रक्रिया होती है।
पाचन के प्रकार :-
1. अंत: कोशिकीय पाचन : जब पाचन की क्रिया कोशिका के अन्दर खाद्य रिक्तिका (Food vacuole) में होती है। उदाहरण : प्रोटोजोआ , पोरीफेरा , सिलेन्टेट्रा और मुक्त जीवी प्लेटिहेल्मिन्थिस।
2. बाह्य कोशिकीय पाचन : जब पाचन की क्रिया कोशिका के बाहर होती है। उदाहरण : सीलेन्टेट्रा , प्लेटिहेल्मिन्थिस से कोर्डेटा तक सीलेन्टेट्रा और मुक्त जीवी प्लेटिहेल्मिन्थिस में बाह्य और अंत: कोशिकीय दोनों प्रकार का पाचन होता है।