C++ : General Information , what is c++ language in hindi , c++ computer programming language

By  
c++ computer programming language , C++ : General Information , what is c++ language in hindi :-
इस article मे c++ जो की programming laguage का second step है को पढेगे | c++ मे object oriented language है जो की वतर्मान मे सबसे ज्यादा चलने वाली language का base है |सभी complier c++ को support करता है |अब age आने वाले articles c++ के सभी concept को पढेगे |ये concept निन्म है :

  1. class और objects

2. function overloading

3. ploymorphism

4. Inheritance

5. reference variable

6. namespace

7. and many more .

Why C++ (सी प्लस प्लस क्यों पढ़ते है ?)

c++ को सीखना बहुत ही सरल है इसके साथ c++ को सीखना किसी propgramer का दूसरा step होता है प्रोग्रामिंग को सिखने मे |एस क्यों होता है

1.C++ सबसे सरल object oriented language है |

2.इसमें किसी भी प्राइमरी knowlege की जरुरत नहीं है | अगर आपने C सीखी है तब आपके pass एक plus point है |

3.इस language मे object oriented language के सभी प्राइमरी concept include है |

हमारे c++ Course मे हम आपको c++ के सभी basic concept को सीखना की कोशिश करेगे |इसलिय हमारे इस कोर्स को लगातार फॉलो करते रहे |जिससे की आपएक अच्छे प्रोग्रामर या high academic marks के target को achieve कर सके |

System Need

C++ के लिए अलग से कोई कोम्प्लिएर की जरुरत नहीं होती |इसके लिए c complier को use लिया जा सकता है |Complier एक प्रोग्राम होता है जो programming language में लिखे सोडे को machine code मे change कर देता है | machine language का use कंप्यूटर मे task perform करने के लिए किया जाता है | जैसे

1.Turbo c++

ये complier windows 7,8.1 and 10 के लिए use किया जाता है |इसके लिए window7, विस्टा , और XP के लिए .net framework की आवश्कता होती है |लेकिन वतमान window के लिए कोई prereqired सॉफ्टवेर की जरुरत नहीं होती है |

2. GCC

ये एक classic सॉफ्टवेर है जिसका use linux या cygin , Ming ( Window ) के लिए किया जाता है |ये open source क्वालिटी सॉफ्टवेर होते है |

3. Microsoft Windows SDK

ये एक free software development kit है जो की window के लिए use किया जाता है |इसमें complier , tools libariers , code sample होते है जो की developer के लिए helpfull होता है |

4. Xcode

ये भी software development kit है जो की apple ‘s mac operating system के लिए use किया जाता है ये GCC का ही version होता है |अगर आपके पास macbook है तब आप इसे use कर सकते है |

5. failsafe C

japenese research center for information technology के द्वारा सॉफ्टवेर security के सॉफ्टवेर के लिए बनाया जाता है |इस version का use c के लिए किया जाता है C99 और whachar के लिए नहीं होता है |

6. Pelles C

ये software का use windows phone के लिए किया जाता है इससे निन्म operation successfully हो सकते है |(i) macro assembler (ii) Linker (iii) installer Builder और (iv) complier आदि |

आपके पास उपलब्द सिस्टम के आधार आप पर in मे से कोई भी complier को डाउनलोड करके use कर सकते है |

इस course मे लिखे गये सभी code turbo c++ environment मे लिखे गये |इसलिए इस में कुछ additional class को add किया गया होगा जो की advance complier मे already include होगी |लेकिन इससे कोई प्रॉब्लम नहीं होगी |

इस कोर्स के starting c++ के general introduce से करेगे |बाद मे ,

-कुछ मतवपूर्ण function (main() ) को discuss करेगे |बाद मे , c++ मे आपे जनि वाली प्रोग्राम methodology को discuss करेगे |

-c++ के data types को discuss करेगे |

-looping और dicision making statement को पढेगे |

-compond data type (array , ,structure और memory allocation ) को पढेगे |

-function (c modual ) को discuss करेगे |

-Branching statement और logical operator को discuss करेगे |

-new feature-name space को पढेगे |

-memory models भी discuss होगा |

-Do not forget classes

-Inheritance- the most important feature of c++

-string class को भी discuss करना है |

-file management

इनके अलावा काफी और topic भी discuss होगे | कभी कभी इन concept पर based exmples को भी discuss करेगे |

इअलिये तेयार हो जाओ C++ की adventure भरी trip पर जाने के लिए |