रसायन विज्ञान शिक्षण के उद्देश्य क्या है ? aims and objectives of teaching chemistry in secondary school in hindi

By  
सब्सक्राइब करे youtube चैनल

aims and objectives of teaching chemistry in secondary school in hindi रसायन विज्ञान शिक्षण के उद्देश्य क्या है ?

प्रश्न : रसायन विज्ञान शिक्षण के सामान्य और विशिष्ट उद्देश्यों में अन्तर बताइए। माध्यमिक स्तर पर रसायन विज्ञान शिक्षण के पाँच सामान्य उद्देश्यों का उल्लेख कीजिये। 

उत्तर : रसायन विज्ञान शिक्षण के उद्देश्य – रसायन विज्ञान शिक्षण में हम निम्नलिखित उद्देश्य निर्धारित करते है –

  • छात्र को रसायन विज्ञान की भाषा , शब्दावली , संकेत आदि से परिचित कराना ताकि वे इसके अध्ययन के समय इसे सावधानी से समझ सके।
  • छात्रों को रसायन विज्ञान के विभिन्न सिद्धान्तों , नियम और सूत्रों को उनके मूल रूप से समझना ताकि छात्रों को उनके प्रति किसी भी प्रकार की शंका न रहे।
  • छात्रों को प्रयोगशाला में प्रयोग कराकर विज्ञान प्रयोग से सम्बन्धित उपकरणों की जानकारी देना।
  • छात्रों को उच्च अध्ययन के लिए तैयार करना ताकि वे उच्च कक्षाओं में जाकर रसायन विज्ञान के प्रति रूचि बनाये रखे।
  • छात्रों में एक दूसरे के विचारों का आदान प्रदान करना ताकि वे सत्य की जाँच कर सके। इसके लिए छात्रों में वाद विवाद , विज्ञान के भाषण आदि प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाए।
  • छात्रों में अनुशासन की भावना का विकास किया जाए।
 शिक्षण उद्देश्य विशिष्ट उद्देश्य
 1. नए नए शब्द , संकेतों आदि की जानकारी प्राप्त करना। प्राप्त जानकारियों से नियम , सिद्धान्त , सूत्र का ज्ञान प्राप्त करना।
 2. छात्रों को वैज्ञानिक जानकारी से अवगत कराना और समाज पर इनके प्रभाव की जानकारी देना। प्राप्त ज्ञान से स्वयं की समस्याओं , समाज की समस्याओं को समझने और हल करने की योग्यता आना।
 3. परिभाषा , तथ्यों , आंकड़ों को विश्लेषित कर स्पष्ट रूप से समझना। प्राप्त ज्ञान के आधार पर उनका उपयोग समाज में कर सकने की योग्यता आना।
 4. वैज्ञानिक विधि , प्रणाली का ज्ञान प्राप्त करना। प्राप्त ज्ञान का उपयोग क्षेत्र विशेष में कर उसकी क्रियाविधि समझना।
 5. प्रकृति वातावरण की जानकारी प्राप्त करना। प्रकृति , वातावरण की विशेष जानकारी प्राप्त करना।