AIDS ka full form in hindi | एड्स का पूरा नाम क्या है हिंदी में | एड्स कौनसे वायरस के कारण होता है ?

By  

एड्स का पूरा नाम क्या है हिंदी में | AIDS ka full form in hindi एड्स कौनसे वायरस के कारण होता है ? फुल फॉर्म क्या है ?

21. सूक्ष्म जीवाणुओं युक्त पदार्थ का शीतिकरण एक प्रक्रिया है, जिसका कार्य है-
(अ) जीवाणु का नाश करना
(ब) जीवाणुओं के विकास की गति घटाना
(स) जीवाणुओं को निष्क्रिय करना
(द) जीवाणु के जीवद्रव्य का संकुचन करना
R-R-B .चेन्नई (T.C./C.C.), परीक्षा, 2001, 2002
उत्तर-(स)
व्याख्या-सूक्ष्म जीवाणु युक्त पदार्थ का शीतिकरण एक प्रक्रिया है, जिसका कार्य है जीवाणुओं को निष्क्रिय करना। क्योंक्ति न्यून ताप (-10°ब् से -18 °C) पर जीवाणुओं की वृद्धि तथा उपापचयी क्रियाएं कम हो जाने से ये निष्क्रिय हो जाते हैं।
22. उस रोग का चयन करें, जो कि एक मनुष्य से दूसरे मनुष्य में सीधे नहीं फैलता है-
(अ) रोहिणी (डिप्थीरिया) (ब) धनुर्वात (टिटेनस)
(स) खसरा (द) फुफ्फुस-क्षय
(इ) इनमें से कोई नहीं
R-R-B-  कोलकाता (GG.) परीक्षा, 2002
उत्तर-(ब)
व्याख्या-टिटनेस (धनुर्वात), क्लास्ट्रिडीयम टिटेनी (Clostridium tetani) नामक जीवाणु के कारण होता है जिसके परिणामस्वरूप पेशियों में संकुचन एवं प्रसारण नहीं हो पाता है। यह एक असंक्रामक रोग है। शेष सभी रोहिणी (डिप्थीरिया) खसरा एवं फुफ्फुस-क्षय संक्रामक रोग होते हैं और एक मनुष्य से सीधे दूसरे मनुष्य में फैल जाते हैं।
23. AIDS  फैलता है-
(अ) हाथ मिलाने से (ब) श्वास सम्पर्क से
(स) कीटों से (द) शारीरिक सम्पर्क से
R-R-B- बंगलौर (G.G.) परीक्षा, 2003
उत्तर-(द)
व्याख्या- एड्स (Acquired Immune Deficiency Syndrome& AIDS) वायरस (HIV&Human Immuno Deficiency Virus) का हमारे शरीर में संक्रमण, एड्स से संक्रमित व्यक्तियों से कई तरीकों से होता है। जब संक्रमित व्यक्ति का रक्त या अन्य शारीरिक द्रव स्वस्थ्य व्यक्तियों के कटी-फटी त्वचा के सम्पर्क में आता है तो AIDS का संक्रमण हो जाता है। संक्रमित व्यक्ति से यौन सम्बन्ध एड्स फैलने का सबसे बड़ा कारण है।
24. “एड्स वाले को आवश्यक रूप से HIV संक्रमण होगा ही से क्या तात्पर्य है?
(अ) यदि आपको एइस है, तो आपको HIV होगा ही
(ब) यदि आपको HIV है, तो आपको एड्स है ही
(स) यदि आपको एड्स नहीं है, तो आपको HIV नहीं है
(द) या तो आपको HIV है या एड्स है ।
(इ) इनमें से कोई नहीं
R-R-B-  कोलकाता (डी./इले./अ.लोको असि./पी.बी.टी.) परीक्षा, 2004
R-R-B. कोलकाता (डी./इले./अ.लोको पायलट) परीक्षा, 2005
उत्तर-(अ)
व्याख्या-एड्स, HIV संक्रमण की अन्तिम अवस्था है। अतः यदि एइस होगा तो भ्प्ट निश्चित होगा, किन्तु यह आवश्यक नहीं है कि भ्प्ट
संक्रमित व्यक्ति को एड्स हो।
25. HIV संबन्धित हैः
(अ) कैंसर (ब) प्लेग
(स) हेपेटाइटिस (द) एड्स
R-R-B- अहमदाबाद (A.S.M.) परीक्षा, 2004
उत्तर-(द)
व्याख्या-भ्प्ट अर्थात हामन इम्यूनो वायरस, एड्स अर्थात एक्वायर्ड इम्यूनो डिफिसिएन्सी सिन्ड्रोम का वायरस है। असुरक्षित यौन सम्बन्ध इस रोग का सबसे बड़ा कारण है। इसके अलावा संक्रमित सुइयों तथा रक्ताधान से भी यह रोग बड़ी तेजी के साथ फैल रहा है।
26. AIDS बीमारी में श्क्श् का क्या तात्पर्य है?
(अ) डिसीज (ब) डिफार्मिटी
(स) डिफिसियेन्सी (द) डिसएबिलिटी
R-R-B-  कोलकाता (G-G.) परीक्षा, 2006
उत्तर-(स)
व्याख्या-AIDS  = Acquired Immune Deficiency Syndrome.
– AIDS रोग का विषाणु (Virus) HIV है।
– समलैंगिक यौन सम्बन्ध इस रोग का प्रमुख कारण है।
– इस रोग के कारण मनुष्य में प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है।
– इस रोग की जांच के लिए म्सपें जमेज तथा Western blot किया जाता है।
-1 दिसम्बर को विश्व एड्स दिवस के रूप में मनाते हैं।
27. AIDS का अर्थ है-
(अ) अक्वायर्ड इम्यून डिसीज सिन्ड्रोम
(ब) अक्वायर्ड इम्यूनिटी डिफिशियंट सिन्ड्रोम
(स) अक्वायर्ड इम्यून डिफिशियंसी सिन्ड्रोम
(द) अक्वायर्ड इन्फेक्शन डिफिशियंसी सिन्ड्रोम
R-R-B- मालदा (T.C./C.C.) परीक्षा, 2008
उत्तर-(स)
व्याख्या-AIDS का अर्थ है-अक्वायर्ड इम्यून डिफिशियंसी सिन्ड्रोम। यह भ्प्ट विषाणु जनित रोग है। एलिसा परीक्षण AIDS से सम्बन्धित है।
28. एलिसा परीक्षण किसके लिए निर्देशित है?
(अ) AIDS (ब) टाइफाइड
(स) पोलियो (द) कैंसर
R-R-B. गोरखपुर (G.G.) परीक्षा, 2003
R-R-B. महेन्दूघाट (T.C./C.C./J.C.) परीक्षा, 2007
उत्तर-(अ)
व्याख्या-उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
29. एड्स बीमारी फैलती है-
(अ) बैक्टीरिया से (ब) प्रोटोजोआ से
(स) वायरस से (द) इनमें से कोई नहीं
R-R-B- जयपुर (E.C.R.C.) परीक्षा, 2008
उत्तर-(स)
व्याख्या-उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
30. एड्स वायरस के प्रति सबसे अधिक व्यापक रूप से परीक्षित औषधि है।
(अ) र्पकवअनकपदब (azodothymidine)
(ब) Miconozole
(स) Nonoxynol 9
(द) Virazole
R-R-B- इलाहाबाद (C-C.) परीक्षा, 2008
उत्तर-(अ)
व्याख्या-एड्स वायरस के प्रति सबसे अधिक व्यापक रूप से परीक्षित औषधि ्रपकव तनकपदम (azodothy midine) है।
31. ‘पैरासिटामॉल‘ उपयोग में लाया जाता है-
(अ) शरीर के दर्द निवारण में
(ब) प्रतिजैविक के रूप में
(स) बाम की तरह
(द) नासल ड्रॉप के रूप में
(इ) एनेस्थेटिक एजेण्ट की तरह
R-R-B- कोलकाता, भुवनेश्वर (T-A-) परीक्षा, 2002
उत्तर-(अ)
व्याख्या-पैरासिटामॉल (Peracetamol) का उपयोग शरीर के दर्द निवारक तथा बुखार को कम करने के लिए किया जाता है। इसे ।दजपचलतमजपब (ज्वर नाशक) दवा के रूप में भी प्रयोग किया जाता है।
32. निम्नलिखित में कौन-सी दवा एण्टीबायोटिक है?
(अ) एस्पिरिन (ब) पैरासिटामॉल
(स) पेनसिलीन (द) एन्टेरो-कबीनोल
R-R-B- चेन्नई (T.A./C.A./E.C.R.C.) परीक्षा, 2006
उत्तर-(स)
व्याख्या-पेनसिलीन प्रथम एण्टीबायोटिक है। इसकी खोज Alexender Flemming ने 1928 में Penicillium notatum and Penicillium chrysogenum नामक कवक से की थी।
33. डायलिसिस का प्रयोग किया जाता है-
(अ) फेफड़ों का कार्य करने के लिए
(ब) दिल का कार्य करने के लिए
(स) यकृत का कार्य करने के लिए
(द) गुर्दे का कार्य करने के लिए।
R-R-B-  रांची (Ast.k~ äiv.) परीक्षा, 2003
उत्तर-(द)
व्याख्या- कृत्रिम तरीके के द्वारा रक्त से हानिकारक पदार्थों को छानकर अलग करना ही डायलिसिस (Dialysis) की क्रिया कहलाती है। किसी व्यक्ति का गुर्दा (Kidney) यदि ठीक ढंग से कार्य नहीं करता तो हानिकारक पदार्थों की मात्रा रुधिर में बढ़ती जाती है, फलस्वरूप रक्त जहरीला हो जाता है। अतः रक्त को शुद्ध करने के लिए डायलिसिस किया जाता है।
34. कृत्रिम डायलिसिस का प्रयोग किसके खराब होने पर होता है?
(अ) यकृत के प्रतिस्थापन
(ब) आंत के प्रतिस्थापन
(स) वृक्क के
(द) पित्ताशय के .
R-R-B. कोलकाता (T-A-) परीक्षा, 2008
उत्तर-(स)
व्याख्या-उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
35. निर्जलीकरण के दौरान शरीर में से कौन से पदार्थ का सामान्यतः क्षय होता है?
(अ) शर्करा (ब) सोडियम क्लोराइड
(स) कैल्शियम फॉस्फेट (द) पोटैशियम क्लोराइड
(इ) कोई नहीं
R-R-B- कोलकाता (G-G.) परीक्षा, 2002
उत्तर-(ब)
व्याख्या-निर्जलीकरण (Dehydration) के दौरान शरीर से सोडियमक्लोराइड (Sodium Chloride) का सामान्यतः क्षय जल के साथ होता है।
36. प्लाज्मोडियम जर्स (Plsamodium Germs) किसकी उत्पत्ति करते हैं?
(अ) मलेरिया
(ब) सोने की बीमारी (Sleeping Sicknes)
(स) हैजा
(द) उपर्युक्त में से कोई नहीं
R-R-B- चेन्नई, बंगलौर (Ast.k~ äiv.) परीक्षा, 2002
उत्तर-(अ)
व्याख्या-प्लाज्मोडियम जर्स, मलेरिया (Malaria) बुखार उत्पन्न करते हैं। हैजा, जीवाणु द्वारा तथा सोने की बीमारी (Sleeping Sicknes) ट्रिपैनोसोमा नामक जन्तु द्वारा होता है।
37. जो मच्छर शीत ज्वर के परजीवी को सम्प्रेषित करता है, वह है-
(अ) क्यूलेस (ब) पुरुष एनोफिलीज
(स) स्त्री एनोफिलीज (द) ईडस ईजिप्ती
R-R-B. भोपाल (S.C./E.C.R.C.) परीक्षा, 2006
उत्तर-(स)
व्याख्या-मादा एनोफिलीज (Female Anopheles) मच्छर शीत ज्वर अर्थात् मलेरिया के परजीवी को सम्प्रेषित करता है। मलेरिया प्लाज्मोडियम नामक प्रोटोजोआ के कारण होता है। इसमें लाल रक्त कणिकाओं की कमी हो जाती है। प्लाज्मोडियम की चार प्रजातियां पायी जाती हैं-
प्लाज्मोडियम वाइवैक्स, (P- vivax)
प्लाज्मोडियम ओवेली, (P- ovale)
प्लाज्मोडियम मलेरी (p- malariae) एवं
प्लाज्मोडियम फैल्सीफेरम (P-f alciparum)
38. मलेरिया होता है-
(अ) मादा एनाफिलीज द्वारा (ब) नर एनाफिलीज द्वारा
(स) एड्स एजिप्टी द्वारा (द) क्यूलेक्स द्वारा
R-R-B-  चेन्नई (T.A./C.A./E.C.R.C.) परीक्षा, 2006
उत्तर-(अ).
व्याख्या-उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
39. मलेरिया से ग्रसित व्यक्ति के रक्त में किस रक्त-कणिका की कमी हो जाती है?
(अ) प्लेटलेट्स (ब) श्वेत रक्त कणिकाएं
(स) लाल रक्त कणिकाएं (द) रक्त प्लाज्मा
R.R.B. भोपाल(;S.C./E.C.R.C.) परीक्षा, 2006
उत्तर-(स)
व्याख्या-उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
40. मलेरिया रोग प्रभावित करता है
(अ) हृदय को (ब) फेफड़ों को
(स) प्लीहा को (द) वृक्क को
R-R-B- इलाहाबाद (A.S.M.) परीक्षा, 2005
R.R.B. भुवनेश्वर (C.C./T.C./E.C.A.) परीक्षा, 2006
उत्तर-(स)
व्याख्या-मलेरिया रोग मादा एनोफेलिज मच्छर के द्वारा फैलता है। यह रोग प्लीहा (Spleen) को प्रभावित करता है।
41. मलेरिया कौन से मच्छर के काटने से होता है?
(अ) एडीस (ब) सी-सी
(स) क्यूलेक्स (द) मादा एनोफेलिज
R-R-B. रांची (A.S.M.) परीक्षा, 2007
उत्तर-(द)
व्याख्या-उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
42. इनमें से कौन जीश्ती परीक्षा (Biopsy) को स्पष्ट करता है?
(अ) कृत्रिम वातावरण में जीवन का एक मनोवैज्ञानिक अध्ययन
(ब) वातावरण में जीवन के प्रकारों का मूल्यांकन करना
(स) मृत्यु के कारण जानने के लिए मृत्यु के बाद शरीर की परीक्षा करना
(द) एक डॉक्टरी परीक्षण की तकनीकी, जिसमें कोष तथा तन्तुओं की सहायता ली जाती है
R-R-B- रांची (A.S.M./G.G.) परीक्षा, 2004
उत्तर-(द)
व्याख्या-जीश्ती परीक्षा या बायोप्सी, डॉक्टरी परीक्षण की एक तकनीक है, जिसमें कोष तथा तन्तुओं की सहायता ली जाती है। इस विधि द्वारा शरीर के जिस भाग की जांच करनी है वहां से छोटा टुकड़ा काटकर निकाल लिया जाता है तत्पश्चात् उसकी जांच की जाती है।
43. नाइट्रोजन स्थिरीकरण में लेंगहीमोग्लोभिन्न का मुख्य कार्य क्या है?
(अ) ऑक्सीजन का अवशोषण
(ब) जीवाणुओं का पोषण
(स) जड़ों को लाल रखना
(द) प्रकाश का अवशोषण
R-R-B. अहमदाबाद (A.S.M.) परीक्षा, 2004
उत्तर-(अ)
व्याख्या-नाइट्रोजन स्थिरीकरण में लेंगहीमोग्लोभिन्न का मुख्य कार्य ऑक्सीजन का अवशोषण करना है। क्योंकि राइजोबियम जीवाणु ऑक्सीजन की अनुपस्थिति में कार्य करता है। लैंगहीमोग्लोभिन्न पौधों में ऑक्सीजन के वाहक के रूप में भी कार्य करता है।
44. किण्वक है-
(अ) हार्मोन (ब) प्रोटीन
(स) कार्बोहाइड्रेट (द) जैविक उत्प्रेरक
R.R.B. त्रिवेन्द्रम (Ast- äiv.) परीक्षा, 2004
उत्तर-(द)
व्याख्या-किण्वक एक जैविक उत्प्रेरक है। किण्वन की क्रिया, कवक तथा जीवाणुओं द्वारा संपन्न की जाती है। किण्वन की क्रिया मीठे पदार्थों के घोल में होती है।
45. पनीर (Cheese) बनाने में किस किण्वक का प्रयोग होता है?
(अ) रेनिन (ब) पेप्सीन
(स) ट्रिप्सिन (द) एमाइलेज
R.R.B. सिकंदराबाद (A.S.M./G.G.) परीक्षा, 2004
R.R.B. चेन्नई (A.S.M./T.A./C.A./G.G.) परीक्षा, 2007
उत्तर-(अ)
व्याख्या-पनीर बनाने में रेनिन एन्जाइम किण्वक का प्रयोग होता है।