जीवाणु की खोज सर्वप्रथम किसने की | सबसे पहले बैक्टीरिया की खोज कब हुई bacteria invented by in hindi

By  

bacteria invented by in hindi whom who discovered bacteria when जीवाणु की खोज सर्वप्रथम किसने की | सबसे पहले बैक्टीरिया की खोज कब हुई ?

46. किसी बेकरी में ब्रेड बनाने के लिए खमीर (यीस्ट) का इस्तेमाल क्यों किया जाता है?
(अ) ब्रेड को कठोर बनाने के लिए
(ब) द्रेड को मुलायम और लचीला बनाने के लिए
(स) ब्रेड की आहार मूल्यता बढ़ाने के लिए
(द) ब्रेड को ताजा रखने के लिए
R.R.B. रांची (A.S.M./G.G.) परीक्षा, 2004
उत्तर-(ब)
व्याख्या-ब्रेड बनाने के लिए खमीर यीस्ट) का प्रयोग ब्रेड को मुलायम और लचीला बनाने के लिए किया जाता है। डबलरोटी बनाने में प्रयोग किए जाने वाले प्रमुख यीस्ट है- सेकेरोमासीज सेरीविसी।
47. सर्वप्रथम ‘जीवाणु‘ का पता किसने लगाया?
(अ) लुई पाश्चर (ब) ल्यूवेन हॉक
(स) एडवर्ड जेनर (द) जोन्स साल्क
R.R.B. रांची (T-A-) परीक्षा, 2005
उत्तर-(ब)
व्याख्या- जीवाणु की खोज हालैण्ड के वैज्ञानिक एण्टोनीवान ल्यूवेन हॉक (Antone Von Leeuwenhock) ने 1676 में की थी। जीवाणु को वनस्पति कहा जाता है, क्योंकि इसमें कोशिका भित्ति (Cell Wall) पायी जाती है जो म्यूकोपेप्टाइड की बनी होती है। जीवाणु (Bacteria) शब्द का प्रयोग सबसे पहले 1838 में एहरेनबर्ग (Ehrenberg) ने किया था।
48. नदियों, तालाबों आदि में पाए जाने वाले जलीय हरे पौधों को कहा जाता है-
(अ) प्रवाल (ब) शैवाल
(स) फंगस (द) अमीबा
(इ) इनमें से कोई नहीं
R.R.B. कोलकाता (G.G.) परीक्षा, 2005
उत्तर-(ब)
व्याख्या-नदियों, तालाबों आदि में पाये जाने वाले जलीय हरे पौधों को शैवाल (Algae) कहा जाता है। शैवालों में हरित लवक पाया जाता है। अतः यह अपना भोजन स्वयं बना लेते हैं।
49. निम्नलिखित में से कौन सा रोग विषाणु के कारण होता है?
(अ) चेचक (ब) यक्ष्मा
(स) मलेरिया (द) हैजा
R.R.B. चेन्नई (T.C.) परीक्षा, 2005
उत्तर-(अ)
व्याख्या-चेचक या ‘स्मालपॉक्स‘ रोग विषाणु के कारण होता है। मलेरिया प्रोटोजोआ के कारण तथा यक्ष्मा व हैजा जीवाणु के कारण होते हैं।
50. एपीकल्चर किससे सम्बन्धित है?
(अ) मधुमक्खी (ब) मछली
(स) लाख का कीट (द) रेशम का कीड़ा
R.R.B. सिकंदराबाद (G.G.) परीक्षा, 2001
उत्तर-(अ)
व्याख्या-शहद के व्यापारिक उत्पादन या मधुमक्खी पालन को एपीकल्चर (Apiculture) कहा जाता है। रेशम के कीड़ा पालन को सेरीकल्चर (Sericulture) कहा जाता है। मछली के पालन को पिसीकल्चर (Pisciculture) कहते हैं।

51. निम्न में कौन-सा परजीवी नहीं है?
(अ) जूं (ब) मच्छर
(स) किलनी (द) घरेलू मक्खी
R.R.B. कोलकाता (A.S.M.) परीक्षा, 2006
उत्तर-(द)
व्याख्या-घरेलू मक्खी परजीवी नहीं है जबकि जूं, मच्छर तथा किलनी परजीवी जन्तु हैं।
52. कीट निम्नलिखित से सम्बन्धित है-
(अ) पोरीफेरा (ब) सीलनट्रेटा
(स) एनिलिडा (द) आर्थोपोडा
RRB ण्महेन्द्रूघाट, पटना (A.S.M.) परीक्षा, 2004
उत्तर-(द)
व्याख्या-कीट आर्थोपोडा संघ के कीटवर्ग से सम्बन्धित है। जिन जन्तुओं के जुड़ी हुई टांगें पायी जाती हैं उन्हें आर्थोपोडा संघ में रखा गया है। तीन जोड़ी टांगें, संयुक्त नेत्र तथा ट्रैकिया कीट वर्ग की प्रमुख विशेषताएं हैं।
53. कौन-सा जीव मिट्टी की उर्वरकता को बनाए रखता है?
(अ) चूहा (ब) केंचुआ
(स) फंजाई (द) बैक्टीरिया
R.R.B. सिकंदराबाद (A.S.M.) परीक्षा, 2004
उत्तर-(ब)
व्याख्या-केंचुआ को श्किसान का मित्रश् कहा जाता है। यह भूमि की उर्वरकता को बनाए रखने में मदद देता है। केंचुआ एनिलिडा संघ का एक प्रमुख जन्तु है।
54. प्रायः किस जीव को किसान का अच्छा मित्र कहा जाता है?
(अ) केंचुआ (ब) टिड्डा
(स) मधुमक्खी (द) चींटी
R.R.B. कोलकाता (G.G.) परीक्षा, 2006
उत्तर-(अ)
व्याख्या-उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
55. भूमि के अपमार्जन में योगदान देने वाला जीव निम्नलिखित में
कौन-सा है?
(अ) केचुआ (ब) कुछ प्रकार के जीवाणु
(स) कवक (द) सुअर
RRB ण्सिकंदराबाद (E.C.R.C.) परीक्षा, 2006
उत्तर-(द)
व्याख्या-भूमि के अपमार्जन में योगदान देने वाला जीव सुअर है। सुअर मनुष्यों के मल को खाकर जमीन को साफ रखते हैं।
56. निम्नलिखित में कौन विषाणु के द्वारा होने वाली बीमारी है-
(अ) हैजा (ब) टिटनेस
(स) पोलियो (द) गोनेरिया
R.R.B. सिकंदराबाद (A.S.M.) परीक्षा, 2004
उत्तर-(स)
व्याख्या-पोलियो (Poliomyelitis) अथवा शिशु अंगघात, विषाणु (Poliavirus) से होने वाली बीमारी है। प्रायः छोटे बच्चे इस बीमारी से संक्रमित होते हैं। यह पोलियोमिलिटिस नामक विषाणु से होता है। टिटनेस, क्लोस्ट्रीडियम टिटानी नामक जीवाणु से, गोनोरिया, निसेरिया गोनोरिया नामक जीवाणु तथा हैजा ‘वीब्रोयो कॉलेरी‘ नामक जीवाणु से होता है।
57. निम्नलिखित में से कौन सा अम्ल पेट के जीवाणुओं का नाश करता है?
(अ)H2SO4 (ब) HCl
(स) HNO3 (द) H3PO4
R.R.B. चेन्नई (T.C./C.C.) परीक्षा, 2001
R.R.B. इलाहाबाद (A.S.M.) परीक्षा, 2007
उत्तर-(ब)
व्याख्या-हाइड्रोक्लोरिक एसिड (HcI) पेट के जीवाणुओं का नाश करता हैं। मानव शरीर में यह आमाशय में पायी जाने वाली छोटी-छोटी ग्रन्थियों से सावित होता है। इन ग्रन्थियों को आक्जिन्टिक कोशिका (Oxyntic Cells) कहते हैं।
58. शाकनाशी ऐसे रासायनिक द्रव्य हैं जो………….का नियंत्रण करते हैं-
(अ) कवक (ब) अपतृण
(स) सूत्रकृमि (द) कीट
R.R.B. बंगलौर(A.S.M.) परीक्षा, 2004
उत्तर-(ब)
व्याख्या-शाकनाशी ऐसे रासायनिक द्रव्य है जो अपतृण या खरपतवार का नाश करते हैं तथा उनके फैलाव को नियन्त्रित करते हैं। जैसे-2, 4-क्
59. समुद्री ककड़ी (सी-कुकम्बर) निम्नलिखित में से किसे इंगित करता है?
(अ) एक समुद्री शैवाल
(ब) एक समुद्री अकशेरुकी (इन्वर्टीब्रेट)
(स) सलाद के लिए एक सब्जी
(द) एक मछली
R.R.B. सिकंदराबाद (T.A.) परीक्षा, 2004
उत्तर-(ब)
व्याख्या-समुद्री ककड़ी एक समुद्री अकशेरुकी है। यह संघ ‘इकाइनोडर्मेटा संघ‘ का एक जन्तु है। इस जन्तु में श्वसन वृक्ष पाया जाता है।
60. चीटी के कितने पैर होते हैं?
(अ)6 (ब) 4
(स) 8 (द) 2
R.R.B. सिकंदराबाद (A.S.M.) परीक्षा, 2004
उत्तर-(अ)
व्याख्या-चींटी के तीन जोड़ी अर्थात 6 पैर होते हैं। यह आर्थोपोडा संघ का एक जन्तु है। चींटी को फार्मिका भी कहा जाता है।