ऊष्मागतिकी क्या है , परिभाषा , प्रकार (thermodynamics in hindi) , खुला , बंद निकाय

(thermodynamics in hindi) ऊष्मागतिकी क्या है , परिभाषा , प्रकार : ऊष्मा गतिकी एक बहुत ही महत्वपूर्ण भौतिक विज्ञान की शाखा है और भौतिकी की इस शाखा में ताप और ऊष्मा तथा इनके मध्य ऊर्जा और कार्य सम्बन्ध का अध्ययन किया जाता है।

अत: सीधे शब्दों में कहे तो उष्मागतिकी शाखा के अंतर्गत हम ताप , ऊष्मा , कार्य और इनके के मध्य सम्बन्ध स्थापित करते है , जैसे कि हम जानते है की उष्मीय उर्जा का रूपांतरण अन्य रूपों में भी संभव है जैसे विद्युत , चुम्बकीय आदि , अर्थात विद्युत में ऊष्मा उत्पन्न होती है और ऊष्मा से विद्युत उत्पन्न की जा सकती है , ऊष्मा उर्जा के इस रूपांतरण का अध्ययन भी हम यहाँ इस शाखा में करते है।

ऊष्मा गतिकी में हम ऊर्जा के एक स्थान से दुसरे स्थान पर स्थानांतरण तथा एक फॉर्म से दूसरी फॉर्म में रूपांतरण का भी अध्ययन करते है।

ऊष्मा गतिकी दो शब्दों से मिलकर बना है पहले ऊष्मा = thermo और दूसरा गतिकी = dynamics , अर्थात ऊष्मा की गति।

कहने का तात्पर्य यह है कि इसमें ऊष्मा की गति का अध्ययन किया जाता है।

ऊष्मागतिकी निकाय (thermodynamics system in hindi )

सबसे पहले हम बात करते है कि निकाय क्या होता है , जब हम एक गाड़ी के इंजन को देखते है तो यह एक प्रकार का निकाय है , इसी प्रकार फ्रिज इत्यादि को भी निकाय कहा जाता है।
क्योंकि जरुरत पड़ने पर हम इनके बारे में इनकी क्षमता , कार्य दक्षता आदि का अध्ययन कर सकते है या पता लगा सकते है इसलिए इन्हें निकाय कहा जा सकता है। निकाय सीमाओं से घिरा रहता है और सीमाओं के बाहर के क्षेत्र को परिवेश या वातावरण कहा जाता है।
उष्मागतिक निकाय की परिभाषा “वह निकाय जिसकी अवस्था को दाब , ताप और आयतन के पदों के रूप में लिखा जा सके ऊष्मागतिक निकाय कहलाता है “
चूँकि ऊष्मा गतिक निकाय और परिवेश के मध्य उर्जा तथा द्रव्य का विनिमय होता है अत: इस आधार पर उष्मागतिक निकाय को तीन भागों में बांटा जाता है –
1. खुला निकाय (open system)
2. बंद निकाय (closed system)
3. विलगित निकाय (isolated system)
1. खुला निकाय (open system) : जब ऊष्मागतिक निकाय तथा इसके चारो ओर के परिवेश के मध्य ऊर्जा और द्रव्य दोनों का विनिमय अर्थात आदान प्रदान हो तो इस प्रकार के निकाय को खुला निकाय कहते है।
 2. बंद निकाय (closed system) : वह ऊष्मागतिक निकाय जिसमे निकाय और वातावरण (परिवेश) के मध्य सिर्फ ऊष्मा का आदान प्रदान हो द्रव्य का नहीं , बन्द निकाय कहलाता है।
3. विलगित निकाय (isolated system) : ऐसा ऊष्मागतिकी निकाय जिसमे निकाय तथा वातावरण के मध्य न तो ऊष्मा का आदान प्रदान हो और न ही द्रव्य का , विलगित निकाय कहलाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *