supercomputer in hindi सुपर कंप्यूटर की परिभाषा क्या है तथा उपयोग

सुपर कंप्यूटर (supercomputer in hindi) एक प्रकार का  कंप्यूटर है जिसकी ऑपरेशन रेट सभी कंप्यूटरों की तुलना में सबसे अधिक होती है , सामान्यतया सुपर कंप्यूटरों का उपयोग वैज्ञानिक तथा इंजीनियरिंग एप्लीकेशन जैसे कामों के लिए किया जाता है जहां बहुत अधिक डेटाबेस या गणना पर या दोनों पर कार्य करने की आवश्यकता होती है हालांकि आजकल ऐसे पावरफुल मशीन आ चुके हैं जिनका उपयोग पर्सनल काम में किया जाता है जैसे डेस्कटॉप सुपर कंप्यूटर तथा GPU सुपर कंप्यूटर इस प्रकार के कंप्यूटरों में मल्टी कोर प्रोसेसर अथवा GPGPU (General-purpose computing on graphics processing units) आदि उपलब्ध होते हैं  जो मशीन को इतना पावरफुल बनाते हैं कि वह सुपर कंप्यूटर की भांति काम करें |

सुपर कंप्यूटर(super computer) की सबसे बड़ी खासियत यह होती है कि इन की स्पीड अन्य कंप्यूटरों की तुलना में बहुत अधिक होती है , सबसे बड़े तथा पावरफुल सुपर कंप्यूटर में एक से अधिक कंप्यूटर समांतर में प्रोसेस करते हैं अर्थार्थ इस प्रकार के कंप्यूटर में एक से अधिक कंप्यूटर काम करते हैं  |

जून 2016 में दुनिया का सबसे फास्ट सुपर कंप्यूटर the sunway taihulight था यह है  चीन के wixu शहर में था इस कंप्यूटर की खासियत निम्न प्रकार है

4096064 bit

RISC processors

260 cores इत्यादि

 यह सुपर कंप्यूटर (super computer) linux based sunway raised ऑपरेटिंग सिस्टम पर आधारित था

सुपर कंप्यूटर अन्य कंप्यूटरों की तुलना में बहुत महंगे होते हैं इनको किसी खास एप्लीकेशन के लिए ही काम में लाया जाता है जहां पर एक बहुत बड़ी गणना या गणितीय जटिल समस्याओं पर कार्य करना होता है जैसे मौसम फोरकास्टिंग के लिए सुपर कंप्यूटर की आवश्यकता होती है इसके अलावा न्यूक्लियर एनर्जी रिसर्च ,  फ्लूड डायनामिक गणना इत्यादि में भी सुपर कंप्यूटर का उपयोग किया जाता है |

सुपर कंप्यूटर और मेनफ्रेम कंप्यूटर में यह फर्क होता है कि सुपर कंप्यूटर अपनी पूरी क्षमता एक प्रोग्राम को शीघ्रातिशीघ्र exicute करने में लगाता है जबकि मेनफ्रेम कंप्यूटर अपनी पूरी क्षमता सभी प्रोग्राम को एक साथ execute करने में लगाता है अर्थार्थ मेनफ्रेम कंप्यूटर की स्पीड कम होती है या दूसरे शब्दों में कहें तो मेनफ्रेम कंप्यूटर स्पीड के लिए काम में नहीं लिया जाता मेनफ्रेम कंप्यूटर एक से अधिक प्रोग्राम को एक साथ execute  कराने के उद्देश्य से काम में लिया जाता है |

सुपर कंप्यूटर का आकार इस बात पर निर्भर करता है कि वह सुपर कंप्यूटर कितने कंप्यूटरों से मिलकर बना है एक सुपर कंप्यूटर 10 , 100 , या 1000 या इससे भी अधिक कंप्यूटरों से मिलकर बना हो सकता है और यह सभी कंप्यूटर एक साथ काम करते हैं |

वर्तमान में कई ऐसे डेस्कटॉप कंप्यूटर है जो प्रारंभिक सुपर कंप्यूटर की तुलना में फास्ट है जैसे Cray-1 1970 के मध्य मेंCray रिसर्च मे डेवलप की गई जिसमें वेक्टर प्रोसेसिंग का उपयोग किया गया था और यह 167  मेगाflops पर compute कर सकता था बाद मेंcontemporary वेक्टर प्रोसेसिंग सुपर कंप्यूटर cray-1 सुपर कंप्यूटर से अधिक फास्ट हाय उसके बाद 1980 में बैरल प्रोसेसिंग वाले सुपर कंप्यूटर का निजात हुआ जिनकी स्पीड बहुत ही अधिक थी |

सुपर कंप्यूटर के उपयोग (applications of super computers)

रिसर्च में किसी घटना को अध्ययन करने के लिए किया जाता है चाहे यह बहुत छोटी, बहुत बड़ी , या बहुत फास्ट हो या बहुत धीमी हो लेकिन प्रयोगशालाओं में ऐसी घटनाओं का उपयोग सुपर कंप्यूटर की सहायता से किया जाता है |

खगोलिकी द्वारा सुपर कंप्यूटर का उपयोग टाइम मशीन के रुप में किया जाता है जिसकी सहायता से  ब्रह्मांड के भूतकाल तथा भविष्य का पता लगाने की कोशिश की जाती है , सुपर कंप्यूटर का उपयोग अणु की गतिशीलता को अध्ययन करने के लिए भी काम में लिया जाता है इसकी सहायता से अनु के मध्य इंटरेक्शन तथा उनके आकार का अध्ययन भी किया जाता है इसके साथ ही उनके व्यवहार का पता लगाया जाता है |

सुपर कंप्यूटर का उपयोग जैविक तंत्र को समझने के लिए भी किया जा सकता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *