WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

भारत के रेखा मानचित्र में स्थानों को प्रदर्शित कीजिए। show historical places on the map of india in hindi

show historical places on the map of india in hindi भारत के रेखा मानचित्र में स्थानों को प्रदर्शित कीजिए। भारत के मानचित्र में निम्नलिखित ऐतिहासिक स्थलों को अंकित कीजिए

भारतीय इतिहास तथा संस्कृति के विभिन्न पहलुओं से संबद्ध अलग-अलग स्थलों को दर्शाते मानचित्र

इस भाग में भारतीय इतिहास तथा संस्कृति के विभिन्न पहलुओं से संबंधित स्थलों को दर्शाने हेतु मानचित्रों को शामिल किया गया है।

नोटः संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा हेतु इतिहास के वैकल्पिक प्रश्न-पत्र में मानचित्रों पर आधारित प्रश्नों के स्वरूप में बदलाव, विशेष रूप से 2011 के उपरांत, किए गए हैं; आगामी अभ्यास उसी स्वरूप को ध्यान में रखते हुए दिए गए हैं। प्रत्येक स्थल का विवरण भाग दो में दिया गया है।

प्राचीन गुहा चित्रकला केंद्र

1. अजंता
2. एलोरा
3. पितलखोड़ा गुफाएं, औरंगाबाद
4. बाघ
5. सित्तनवासल
6. अरममलई
7. लखुडियार
8. कुपगल्लु
9. पिकलीहल
10. भीमबेटका
11. जोगीमारा
12. बदामी
13. भाजा
14. एलिफैन्टा
15. कन्हेरी
16. कारसांबल गुफाएं
17. कुडा गुफाएं
18. लेनयाद्री गुफाएं, जुन्नार
19. मनमोद गुफाएं, जुन्नार
20. मलयदिपत्ति
21. रावण फदी एहोल
22. ससपोल गुफाएं
23. उदंवल्ली , गुफाएं
24. करला गुफाएं
25. बराबर गुफाएं

नोटः एक से अधिक ऐतिहासिक महत्व के स्थल जो बहुत निकट स्थित हैं, के लिए एक ही अंकन किया गया है।

भाग चार
अभ्यास सत्र
इस भाग में हमने भारत के रेखा मानचित्र में स्थानों को किस प्रकार चिन्हित किया जाए, इससे संबंधित निर्देश, कुछ अभ्यास प्रश्नावलियां तथा एक नमूना मानचित्र दिया है।

दिशा-निर्देश

किसी परीक्षा जैसे कि संघ लोक सेवा आयोग इत्यादि द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा के वैकल्पिक विषय इतिहास में आपको एक रेखा मानचित्र दिया जाता है, जिस पर कुछ नदियां दर्शायी जाती हैं। (अभ्यास प्रश्नावलियों के लिए दिया गया नमूना मानचित्र देखें। रेखा मानचित्र में नदियां न दर्शायी गई हों, ऐसा भी संभव है।)। स्थलों की एक सूची दी जाती है, जिनकी अवस्थिति आपको रेखा मानचित्र पर दर्शानी होती है तथा प्रत्येक स्थल से संबंधित एक संक्षिप्त विवरण देना होता है। प्रश्न-पत्र के नवीन स्वरूप के अनुरूप बिंदुओं द्वारा चिन्हित विभिन्न संख्याबद्ध स्थलों वाला एक मानचित्र प्रदान किया जाता है। आपको दिए गए विवरण- ‘एक नवपाषाण स्थल‘. ‘एक हडप्पा सभ्यता संबंधी उत्खनन‘. एवं ऐसे ही अन्य-के स्थलों को पहचानना होगा। यहां पर आपको सम्बद्ध स्थल का नाम स्मरण रखने की आवश्यकता है। इस स्थिति में विभिन्न मानचित्रों में चित्रित स्थलों को भी आपको याद रखना होगा और प्रदत्त विवरण के साथ उन्हें जोड़कर सही स्थल की पहचान करनी होगी। परीक्षा में दिया गया एक रिक्त मानचित्र आपको विक्षब्ध कर सकता है एवं आपको संदेह हो सकता है कि क्या आप दिए गए स्थलों की अवस्थिति को सही-सही दर्शा सकते हैं। ऐसी काफी सारी विधियां हैं जिससे आप इन स्थलों की अवस्थिति को काफी हद तक सही-सही चिन्हित कर सकते हैं।
पृष्ठ संख्या 57 पर दिए गए भारत की नदियों से संबंधित मानचित्र का ध्यानपूर्वक अध्ययन कीजिए तथा नदियों की अवस्थिति व उनके बहाव के मार्ग को याद करने का प्रयास कीजिए। मानचित्रों तथा उन पर अंकित स्थलों का अध्ययन करते समय तीन बातों को ध्यान में रखना आवश्यक है (ं) नदियां (इ) तटरेखा (ब) राष्ट्रीय सीमाएं। इस प्रकार आप स्पष्ट रूप से देखेंगे कि अधिकांश स्थल किसी न किसी प्रकार नदियों की स्थिति से संबंधित हैं। अब स्वयं से निम्नलिखित प्रश्न कीजिए तथा जो उत्तर आपको प्राप्त हों उन्हें नोट कीजिएः
– क्या दिया गया स्थल किसी विशेष नदी के उत्तर, दक्षिण, पूर्व अथवा पश्चिम में स्थित है? (यदि रेखा मानचित्र पर नदियां नहीं दी गई हों तो कुछ नदियों को अपनी स्मृति द्वारा हल्के ढंग से चित्रित कीजिए, जिससे उनको बाद में मिटाया जा सके)
– दिया गया स्थल पूर्वी तट अथवा पश्चिमी तट में से कहां पर स्थित है? अपने संदर्भ हेतु दोनों तटों पर स्थित स्थलों की ऊपर से नीचे अथवा नीचे से ऊपर के क्रम में एक सूची तैयार कीजिए।
– दिया गया स्थल किस राष्ट्रीय सीमा के कितना समीप है?
एक अन्य विधि यह है कि भारत के मानचित्र में अक्षांश तथा देशांतर रेखाओं के सदृश स्थूल रूप से कुछ रेखाएं खींचिए, जैसा कि पृष्ठ 179 तथा 180 पर दिए गए मानचित्र में दर्शाया गया है। (ये रेखाएं अक्षांशों तथा देशांतरों के सन्निकट रूप से ही सदृश हैं और ये मात्र स्थलों के समूहीकरण हेतु खींची जाती हैं। इनको सही-सही माप के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए।)
इस प्रकार आपको स्थलों के समूह की छोटी इकाइयां प्राप्त होती हैं। इस विधि का प्रयोग उस प्रत्येक मानचित्र में किया जा सकता है, जिसमें स्थानों को दर्शाया गया है। इससे तथ्यों को छोटी इकाइयों में विभाजित करके सरलता से आत्मसात किया जा सकता है। प्रत्येक छोटी इकाइयों के अंतर्गत आने वाले सभी स्थलों की एक सूची तैयार कीजिए। अब यदि आप इसी प्रकार की रेखाएं हल्के ढंग से पृष्ठ 181 पर दिए गए नमूना मानचित्र पर बनाएंगे तो संभवतः आपको स्थलों को चिन्हित करने में आसानी होगी। वास्तव में आप मानचित्र को खण्डों में विभाजित करने के लिए किसी भी प्रकार से रेखाओं का उपयोग कर सकते हैं। परंतु सभी मानचित्रों के लिए एक ही पद्धति अपनाना अति आवश्यक है।
पृष्ठ 183 पर दिए गए रिक्त मानचित्र पर अभ्यास कीजिए है तो इस कोरे मानचित्र की प्रतिलिपियां करा लीजिए)। इस प्रकार आप स्थलों की अवस्थिति को सही-सही दर्शाने में अधिक कुशलता प्राप्त कर सकेंगे। (यद्यपि इसमें संदेह है कि ऐतिहासिक मानचित्र के विषय में कोई शत-प्रतिशत परिशुद्धता से स्थलों को चिन्हित करने में कुशलता प्राप्त कर सकता है)। अन्य प्रकार के मानचित्र संबंधी प्रश्नों में, आप को स्थलों तथा उनकी अवस्थिति को याद करना होगा ताकि आप उन्हें पहचान सकें।

अभ्यास

अभ्यास ‘एक‘
निर्देशः दिए गए रेखा मानचित्र में निम्नलिखित स्थलों को चिन्हित कीजिए तथा प्रत्येक स्थल के बारे में एक संक्षिप्त विवरण दीजिए।
1. आमेर
2. आम्बेर
3. अरिकामेडू
4. बेलूर
5. बद्रीनाथ
6. भटकल
7. चिदांबरम्
8. धौलावीरा
9. एरण
10. गोली
11. हेलेबिड
12. जौगडा
13. कावेरीपत्तनम
14. लिपाक्षी
15. मुखलिंगम
अभ्यास ‘दो‘
निर्देशः दिए गए रेखा मानचित्र में निम्नलिखित स्थलों को चिन्हित कीजिए तथा प्रत्येक स्थल के बारे में एक संक्षिप्त विवरण दीजिए।
1. बुर्जहोम
2. चैल
3. देवल
4. लोथल
5. मोधेरा
6. नासिक
7. पंढारपुर
8. क्वीलोन
9. राज़िम
10. संघोल
11. सित्तनवासल
12. शहबाजगढ़ी
13. तिगवा
14. उरैयूर
15. वैशाली
अभ्यास ‘तीन‘
निर्देशः दिए गए रेखा मानचित्र में निम्नलिखित स्थलों को चिन्हित कीजिए तथा प्रत्येक स्थल के बारे में एक संक्षिप्त विवरण दीजिए।
1. अनेगोन्डी
2. भिलसा
3. बालासोर
4. चंदेरी
5. चंद्रगिरि
6. एलिफैन्टा
7. कण्टकशिला
8. लखनौती
9. जालौर
10. काल्पी
11. कोरकई
12. ललितगिरि
13. मांडू
14. नचना-कुठार
15. तिरुपति
अभ्यास ‘चार‘
निर्देशः दिए गए रेखा मानचित्र में निम्नलिखित स्थलों को चिन्हित कीजिए तथा प्रत्येक स्थल के बारे में एक संक्षिप्त विवरण दीजिए।
1. बारबरा
2. भगवतराव
3. धार
4. दाभोल
5. इलिचपुर
6. जिन्जी
7. कलाड़ी
8. मुजिरिस
9. महास्थान
10. मान्यखेत
11. नारनौल
12. ओरछा
13. राज़िम
14. रंगपुर
15. सिगिरिया
अभ्यास ‘पांच‘
निर्देशः दिए गए रेखा मानचित्र में निम्नलिखित स्थलों को चिन्हित कीजिए तथा प्रत्येक स्थल के बारे में एक संक्षिप्त विवरण दीजिए।
1. आमरी
2. अपरान्तक
3. बामियान
4. भारूकच्छ
5. भटनेर
6. चन्हुदड़ो
7. द्वारका
8. पुष्कर
9. रोपड़
10. सिरसा
11. श्रीरंगपट्नम
12. शत्रुजय
13. तराइन
14. उच्छ
15. वलभी

अभ्यास छह
(स्रोतः यूपीएससी सिविल सेवा मुख्य परीक्षा, 2016)
अफगानिस्तान, बांग्लादेश, भूटान नेपाल, म्यांमार (बर्मा), पाकिस्तान तथा श्रीलंका के साथ भारत
दिए गए मानचित्र पर अंकित निम्न स्थानों की पहचान कीजिए तथा प्रत्येक पर लगभग 30 शब्दों की संक्षिप्त टिप्पणी लिखिएः

1. एक मध्यपाषाणकालीन स्थल
2. एक नवपाषाणकालीन स्थल
3. एक महापाषाण-ताम्रपाषाणकालीन स्थल
4. एक नवपाषाणकालीन स्थल
5. एक नवपाषाणकालीन स्थल
6. एक महापाषाणकालीन स्थल
7. बौद्ध पुरावशेषों के लिए ज्ञात एक स्थल
8. एक हड़प्पाकालीन स्थल
9. एक हड़प्पाकालीन स्थल
10. एक हड़प्पाकालीन स्थल
11. एक नवपाषाणकालीन स्थल
12. एक हड़प्पाकालीन स्थल
13. एक राजधानी
14. एक शैलकृत गुहा स्थल
15. एक परवती हड़प्पाकालीन स्थल
16. एक शिक्षण केंद्र
17. एक मृण-कला केंद्र
18. एक बंदरगाह
19. एक राजधानी
20. एक राजधानी

अभ्यास सात
(स्रोतः यूपीएससी सिविल सेवा मुख्य परीक्षा, 2015)
अफगानिस्तान, बांग्लादेश, भूटान नेपाल, म्यांमार (बर्मा), पाकिस्तान तथा श्रीलंका के साथ भारत
दिए गए मानचित्र पर अंकित निम्न स्थानों की पहचान कीजिए तथा प्रत्येक पर लगभग 30 शब्दों की संक्षिप्त टिप्पणी लिखिएः

1. एक नवपाषाणकालीन स्थल
2. एक नवपाषाणकालीन स्थल
3. एक हड़प्पाकालीन स्थल
4. एक महापाषाणकालीन स्थल
5. एक हड़प्पाकालीन स्थल
6. एक चित्रित धूसर मृदभांड स्थल
7. एक शिलालेखीय स्थल
8. एक महत्वपूर्ण प्राचीन स्थल
9. एक प्राचीन बंदरगाह
10. एक प्राचीन गुफा-चित्र स्थल
11. एक बौद्ध स्थल
12. एक शिक्षण केंद्र
13. ब्रह्मदेय ग्राम
14. एक प्राचीन राजधानी
15. एक प्राचीन राजधानी
16. एक मंदिर स्थल
17. एक प्राचीन राजधानी
18. एक प्राचीन बंदरगाह
19. एक पुरातात्विक मंदिर स्थल
20. एक हड़प्पाकालीन स्थल

अभ्यास आठ
(स्रोतः यूपीएससी सिविल सेवा मुख्य परीक्षा, 2014)
अफगानिस्तान, बांग्लादेश, भूटान नेपाल, म्यांमार (बर्मा), पाकिस्तान तथा श्रीलंका के साथ भारत
दिए गए मानचित्र पर अंकित निम्न स्थानों की पहचान कीजिए तथा प्रत्येक पर लगभग 30 शब्दों की संक्षिप्त टिप्पणी लिखिएः
1. एक प्राचीन राजधानी
2. एक पुरापाषाणकालीन स्थल
3. एक सांस्कृतिक केंद्र
4. एक प्राचीन राजधानी
5. एक पुरापाषाणकालीन स्थ
6. एक ऐतिहासिक स्थल
7. एक हड़प्पाकालीन स्थल
8. एक प्राचीन राजधानी
9. एक राजनीतिक तथा सांस्कृतिक केंद्र
10. एक महापाषाणकालीन स्थल

11. एक मध्यपाषाणकालीन स्थल
12. एक ताम्रपाषाणकालीन स्थल
13. एक प्रागैतिहासिक स्थल
14. एक राजनीतिक तथा सांस्कृतिक केंद्र ल
15. एक प्राचीन राजधानी
16. एक लुप्त बंदरगाह
17. शैल-गुहा कला केंद्र
18. एक प्राचीन राजधानी
19. एक राजनीतिक तथा सांस्कृतिक केंद्र
20. एक प्राचीन नगर

अभ्यास नौ
(स्रोतः यूपीएससी सिविल सेवा मुख्य परीक्षा, 2013)
अफगानिस्तान, बांग्लादेश, भूटान नेपाल, म्यांमार (बमा), पाकिस्तान तथा श्रीलंका के साथ भारत
दिए गए मानचित्र पर अंकित निम्न स्थानों की पहचान कीजिए तथा प्रत्येक पर लगभग 30 शब्दों की संक्षिप्त टिप्पणी लिखिएः

1. एक पुरापाषाणकालीन तथा मध्यपाषाणकालीन स्थल
2. एक मध्यपाषाणकालीन स्थल
3. एक महत्वपूर्ण विश्राम स्थल
4. एक प्राक-हड़प्पन स्थल
5. एक महत्वपूर्ण हड़प्पा स्थल
6. महत्वपूर्ण जीवाश्मों का स्थल
7. एक बंदरगाह
8. एक पुरापाषाणकालीन स्थल
9. एक नवपाषाण, मध्यपाषाण तथा ताम्रपाषाणकालीन स्थल
10. एक हड़प्पा स्थल
11. एक पुरापाषाणकालीन स्थल
12. एक नवपाषाणकालीन स्थल
13. एक ताम्रपाषाणकालीन स्थल
14. एक ताम्रपाषाणकालीन स्थल
15. एक बौद्ध मठ स्थल ।
16. एक चित्रित धूसर मृदभांड स्थल
17. एक प्रसिद्ध भारतीय दार्शनिक से संबद्ध स्थल
18. ऐतिहासिक शैल-कर्त गुहा
19. प्रसिद्ध दुर्ग
20. प्रसिद्ध राज्य की राजधानी अभ्यास दस

अभ्यास दस
अफगानिस्तान, बांग्लादेश, भूटान नेपाल, म्यांमार (बर्मा), पाकिस्तान तथा श्रीलंका के साथ भारत
दिए गए मानचित्र पर अंकित निम्न स्थानों की पहचान कीजिए तथा प्रत्येक पर लगभग 40 शब्दों की संक्षिप्त टिप्पणी लिखिएः

1. एक प्राचीन राजधानी
2. एक चित्रित धूसर मृदभांड स्थल
3. लघु पाषाण को काटकर तराशी गई अशोक की राजाज्ञा
4. प्रारंभिक मध्यकालीन भारत में एक दुर्ग-नगर
5. जैन मंदिरों के लिए प्रसिद्ध एक स्थल
6. एक प्रसिद्ध बौद्ध मठ
7. एक प्राचीन शैक्षिक केंद्र
8. प्राचीन शिलालेखीय स्थल
9. एक प्राचीन पत्तन-नगर
10. एक बंदरगाह
11. प्राचीन भारत में एक राजधानी
12. प्रसिद्ध शैल-कर्त गुहा
13. चित्रकला शैली हेतु एक प्रसिद्ध स्थल संबंधी स्थल
14. एक महापाषाणकालीन स्थल
15. एक उत्तरी काले चमकदार मृदभांड स्थल
16. एक ओसीपी स्थल
17. एक ताम्रपाषाणकालीन स्थल
18. हड्डी के औजारों के लिए प्रसिद्ध एक नवपाषाणकालीन स्थल
19. एक प्राचीन शिक्षण केंद्र
20. एक हड़प्पाकालीन बंदरगाह अभ्यास ग्यारह

अभ्यास ग्यारह
अफगानिस्तान, बांग्लादेश, भूटान नेपाल, म्यांमार (बर्मा), पाकिस्तान तथा श्रीलंका के साथ भारत
दिए गए मानचित्र पर अंकित निम्न स्थानों की पहचान कीजिए तथा प्रत्येक पर लगभग 40 शब्दों की संक्षिप्त टिप्पणी लिखिएः

1. एक ब्रह्मदेय ग्राम
2. एक धर्म प्रस्तोता से संबद्ध एक स्थल
3. एक हड़प्पाकालीन स्थल
4. एक प्राचीन राजधानी
5. एक प्राचीन जलाशय का स्थल
6. एक प्राचीन राजधानी
7. एक नवपाषाणकालीन स्थल
8. एक मध्यपाषाणकालीन स्थल
9. अशोक का एक वृहद शिलालेख
10. एक मंदिर-नगर
11. एक अभिलेख स्थल
12. एक आईवीसी स्थल
13. एक ताम्रपाषाणकालीन स्थल
14. एक नवपाषाणकालीन स्थल
15. एक महापाषाणकालीन स्थल
16. एक एनबीपीडब्ल्यू स्थल
17. अशोक द्वारा स्थापित एक नगर
18. एक प्रसिद्ध राजनैतिक चिंतक से संबद्ध नगर
19. ताम्र भंडार संस्कृति तथा ओसीपी संस्कृति का स्थल
20. एक प्राचीन पत्तन नगर

अभ्यास छह हेतु उत्तर

1. सराय नाहर राय (संभवतः अन्य विकल्प-महादहा, चोपानी-मांडो)
2. दाओजलि हडिंग
3. अदिचनाल्लुर
4. कुचई
5. मास्की (‘ब्रह्मगिरि‘ भी हो सकता है)
6. जूनापानी
7. संघोल
8. बनवाली
9. कालीबंगा
10. हड़प्पा
11. मेहरगढ़
12. रोजड़ी
13. उज्जैन
14. बाघ गुफाएं
15. मांडा (अख्लूर)
16. नालंदा
17. चंद्रकेतुगढ़
18. मुजिरिस
19. अमरावती (वेंगी भी पास में है)
20. नागरकोट/त्रिगर्त/भीमागर (आधुनिक कांगड़ा)

अभ्यास सात हेतु उत्तर

1. बुर्जहोम
2. मेहरगढ़
3. बनावली/बनवाली
4. अदिचनाल्लुर
5. सुरकोटदा
6. हस्तिनापुर
7. जूनागढ़
8. सांची विदिशा (बेसनगर)
9. ताम्रलिप्ति
10. मलयदिपत्ति
11. अमरावती
12. नालंदा
13. उत्तरमेरूर
14. वतापी (आधुनिक बदामी)
15. कन्नौज
16. भुवनेश्वर
17. बनवासी
18. मुजिरिस
19. प्रागज्योतिष्पुर
20. रोपड़

अभ्यास आठ हेतु उत्तर

1. थानेश्वर थानेसर
2. भीमबेटका
3. नालन्दा या विक्रमशिला
4. पुरुषपुर/पेशावर
5. अतिरमपक्कम
6. मास्की
7. रोपड़
8. प्रागज्योतिष्पुर, कामरूप की राजधानी
9. प्रतिष्ठान (पैठन)
10. जदिगेनहल्ली
11. सराय-नाहर-राय
12. आलमगीरपुर
13. आदमगढ़
14. तक्षशिला
15. परिहासपुर(आधुनिक श्रीनगर)
16. पुहार कावेरीपट्टिनम
17. जुन्नार
18. तिलौर कोट (कपिलवस्तु), शाक्य गणराज्य की राजधानी
19. वल्लभी
20. मथुरा

अभ्यास नौ हेतु उत्तर

1. बमदोरा, पूर्वी सिंहभूम झारखंड का जिला
2. बागोर, राजस्थान
3. काबुल, अफगानिस्तान
4. आमरी
5. देसलपुर
6. मन्डला
7. कोरकई
8. हुन्सगी हुनासगी
9. हल्लूर
10. आलमगीरपुर
11. नागौर
12. चिरांद
13. चंदोली
14. पांडु राजर धिबि
15. थिकसे गोम्पा/अल्ची गोम्पा
16. अहिच्छत्र
17. कलाड़/कलटी, श्री आदिशंकर का जन्म स्थान
18. उदयगिरि गुफाएं
19. सेंट जॉर्ज किला आलमपराई शैल दुर्ग
20. वारंगल

अभ्यास दस हेतु उत्तर

1. गंगैकोण्डचोलपुरम
2. इंद्रप्रस्थ
3. जटिंग रामेश्वर
4. काल्पी
5. कुम्भरिया
6. कन्हेरी
7. विक्रमशिला
8. उदयगिरि
9. कोरकई
10. चैल
11. बनवासी
12. बारबरा
13. बसोहली
14. जूनापानी
15. अमरावती
16. हस्तिनापुर
17. प्रभासपाटन
18. चिरांद
19. कांचीपुरम
20. लोथल

अभ्यास ग्यारह हेतु उत्तर

1. उत्तरमेरूर
2. लुम्बिनीग्राम
3. कालीबंगा
4. कांगड़ा, चांद वंश की राजधानी
5. गिरनार, चंद्रगुप्त मौर्य के गवर्नर द्वारा
बनवाया गया जलाशय
6. गौड़/लखनौती
7. चोपानी-मांडो
8. आदमगढ़
9. सोपारा
10. कोणार्क
11. मानसहेरा
12. हड़प्पा
13. हनुमानगढ़
14. दाओजली हडिंग
15. नागार्जुनकोंडा
16. तामलुक
17. ललितपाटन, काठमांडू का प्राचीननाम
18. पाटलिपुत्र
19. कल्लुर
20. मुजिरिस या क्विलोन