आद्रता क्या है , परिभाषा , किसे कहते है , प्रकार , किससे कैसे मापी जाती है (humidity in hindi)

(humidity in hindi) आद्रता क्या है , परिभाषा , किसे कहते है , प्रकार , किससे कैसे मापी जाती है : वायु में हमेशा जल वाष्प उपस्थित रहती है , वायु में उपस्थित जल वाष्प की मात्रा को आद्रता कहते है।
आद्रता की परिभाषा : वातावरण में वायु के प्रति एकांक आयतन में उपस्थित जल वाष्प की मात्रा को आद्रता कहते है।
यहाँ ध्यान रखे कि जल वाष्प , जल की गैस अवस्था है जो सामान्यतया हमारी आँखों द्वार देखी नहीं जा सकती , इसका अध्ययन इसलिए आवश्यक है क्योंकि यह कई प्रकार से हमारे मौसम और जलवायु को प्रभावित करता है , इसी के कारण कई प्रकार की घटना हमें देखने को मिलती है जैसे ओस , धुंध , वर्षा।
अलग अलग आद्रता को अलग अलग तरीकों से ज्ञात करते है , इसे या तो आपेक्षिक रूप में या पूर्ण रूप (ओस बिंदु तापमान) के रूप में मापा जाता है। इसके अध्ययन के बाद आपको यह पता चल जाता है कि ऐसी स्थिति में आपको अपनी जरुरत की चीजे जैसे किताब इत्यादि को घर में किस जगह रखनी चाहिए जिससे वे अधिक सुरक्षित रहे।
चूँकि जल वाष्प भी अन्य गैसों की तरह पूर्ण रूप से पारदर्शी होती है , यही कारण होता है कि हम इसे हमारी आँखों से देख नहीं पाते लेकिन इसके प्रभाव को अनुभव कर सकते है जैसे वातावरण में उपस्थित इस जल वाष्प का पानी की बूंदों के रूप में किसी चीज के के ऊपर संग्रहित हो जाना इत्यादि।

 

आपेक्षिक आद्रता (Relative Humidity)

वातावरण की वायु में दिए गए आयतन में जल वाष्प की वास्तविक मात्रा m जो वास्तविक रूप से उपस्थित है तथा वायु की वह क्षमता जितनी वायु जल वाष्प की मात्रा M जिसे वह संतृप्त रूप से रख सकता है के अनुपात को आपेक्षिक आद्रता कहते है।
आपेक्षिक आद्रता प्रतिशत =(m/M ) x 100
यहाँ
m = उस आयतन में उपस्थित जल वाष्प की मात्रा
M = उस आयतन की वायु द्वारा अधिकतम जल वाष्प रखने की मात्रा जिससे वह संतृप्त अवस्था में पहुच जाए।
आपेक्षिक आद्रता को दाब के रूप में भी व्यक्त किया जा सकता है
परिभाषा : जल का वास्तविक वाष्प दाब p तथा अधिकतम वाष्प दाब अर्थात संतृप्त वाष्प दाब P के अनुपात को भी आपेक्षिक आद्रता कहते है।
आपेक्षिक आद्रताप्रतिशत = (p/P)x 100
यहाँ
p = उस आयतन में उपस्थित जल वाष्प का वाष्प दाब का मान
P = उस आयतन की वाष्प द्वारा अधिकतम हो सकने वाला वाष्प दाब का मान अर्थात उस वायु में संतृप्त स्थिति में जल वाष्प दाब का मान।
हम जब मौसम की खबर पढ़ते है तो उसमे आपेक्षिक आद्रता का मान ही देखते है , यह बताता है कि वायु में कितनी वाष्प उपस्थित है और वायु कितनी वाष्प को रखने की क्षमता रखता है।
100 आपेक्षिक आद्रता का अभिप्राय है कि वायु में संतृप्त रूप से जल वाष्प उपस्थित है और 0% आपेक्षिक आद्रता का मतलब है कि वायु में किसी प्रकार की जल वाष्प उपस्थित नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *