File Management In C : File Closing और Operation in hindi in c language फाइल बंद तथा ऑपरेशन हिंदी में

By  
फाइल बंद तथा ऑपरेशन हिंदी में File Management In C : File Closing और Operation in hindi in c language :-
इससे पहले हमने file को general introduction और file को open करने क प्रोसस को देखा |अब इस article मे file को close करना और input/output operation को देखगे |Closing of File
C language मे,
file को open किया जाता है |
बाद मे,इस file मे operation perform किया जाता है |
और last मे file को क्लोज करना पड़ता है |
File को क्लोज करना का मत्काब है की file की सभी basic information जैसे file name,address,mode आदि buffer मे से डिलीट करना ताकि उस file का कोई misuse ना हो सके |
अभी कंप्यूटर  मे file को open रखने की एक limit होती|इसलिए unwanted file को close रखने से wanted file को open कर सकते है |
कभी – कभी किसी file को दुसरे mode के साथ open करने के लिए file को close करना पड़ता है |और उस file को दुसरे mode के साथ open किया जाता है |
इसका syntax होता है :-

fclose ( file _pointer name );

यह पर
fclose() : एक pre define function है जिसे file को क्लोज करने के लिए किया जाता है |
file _pointer name: ये एक file pointer है जिसमे की किसी file का address store होता है |इअक अत्य्पे “FILE” होता है |

fclose ( file _pointer name ); execute होता है तब file pointer से associate file close हो जाती है |

अगर किसी प्रोग्राम मे दो या दो से अधिक files open की जाती है तो उन सभी files close करना पड़ता है |

जब कभी किसी file को close किया जाता है तब उससे associate file pointer फ्री हो जाता है |उस file pointer का use किसी दुसरे file को open करने के लिए किया जाता है |

उदहारण -1
main(0{
FILE *f;
f=fopen(“file_input”,”r”);
staements ;

fclose(f);
}

इस उदहारण मे ,’f ‘ एक file pointer है |और file_input एक file का नाम है जिसका mode ‘read’ है |operation statement को perform करनें के बाद file _input को क्लोज कर दिया गया है |

उदहारण -2
main()
{
FILE *f;
FILE *f1;
f=fopen(“file_input”,”w”);
f1=fopen(“file_output”,”r”);
staements ;

fclose(f);
fclose(f1);
}

इस उदाहरन मे , दो file है :-
file_input: इस file का mode write है जिसमे यूजर के द्वार दिए data को write किया जायेगा |
file_output:इस file का mode read है file मे save data को read किया जायेगा |
Input/Output Operation
जब किसी file को open किया जाता है उस मे data को read और write operation कराया जाता है | इन operation को standard I/O library मे save predefined function से किया जाता है |इसमें तीन प्रकार के input और output function है :-
1. getc() और putc()
जिस प्रकार,console screen के लिए getchar() और putchar() function होते है उसी प्रकार file hanadeling मे getc() और putc() function होते है |
getc() :
इस function का use किसी फाइल मे से character को read करने के लिए किया जाता है |इसका syntax है :-
variable_name =getc(file pointer name );
यहा पर :
variable_name : यह पर variable_name ,उस variable का नाम जिसमे file मे saved character assign होगा |
getc() : ये function है जिसे character को read करने के लिए किया जाता है
file pointer name: ये उस file का file pointer है जिसमे से character को read करना है |
putc()
इस function का use किसी फाइल मे से character को write करने के लिए किया जाता है |इसका syntax है :-
putc( character/variable ,file pointer name  );
यहा पर :
variable_name : variable_name ,उस variable का नाम जिसकी value , file मे write होगी |
character : ये single character है जिसे file मे write किया जाता है |
putc() : ये function है जिससे  character को write  किया जाता है
file pointer name: ये उस file का file pointer है जिसमे से character को read करना है |
उदहारण है :
#include<stdio.h>
#include<conio.h>
void main()
{
FILE *f;
char a;
f=fopen(“File1″,”w”);
pritnf(“Enter Your character”);
scanf(“%c”,&a);
putc(a,f);
fclose(f);
f=fopen(“File1″,”r”);
char b;
b=gets(f1);
printf(“Saved character in file = %c “,b);
fclose(f);
getch();
}
इस उदहारण मे , file का नाम है “File1”.
f=fopen(“File1″,”w”);statement से “File1” नाम जकी एक file create हो जायेगी जिसका mode ‘write ‘है |
उसके बाद यूजर से character को input करके ,variable ‘a’ मे assign करवा देते है |
फिर putc(a,f); statement सेvariable ‘a’ की value को file मे write कराया गया है |
fclose(f1) statement से file को क्लोज किया गया है |f=fopen(“File1″,”r”); statement से file को दुबारा open किया जाता है |इस बार file का mode read है |
b=gets(f1); statement से file मे saved character को variable ‘b’ मे सेव करा देते है |
printf(“Saved character is file = %c “,b); statement से variable ‘b’ की value screen पर print करा देते है |
आउटपुट होगा :
Enter Your character p
Saved character in file = p

2. getw() और putw()
ये दोनों ही function, getc() और putc() की तरह होते है ,लेकिन जहा getc() और putc() chrecter के लिएय इस्तेमाल होते है वहा getw() और putw() integer के लिए इस्तेमाल होते है |

getw() :
इस function का use किसी फाइल मे से integer value को read करने के लिए किया जाता है |इसका syntax है :-
variable_name =getw(file pointer name );
यहा पर :
variable_name : यह पर variable_name ,उस variable का नाम जिसमे file मे saved integer assign होगा |
getc() : ये function है जिसे integer value को read करने के लिए किया जाता है
file pointer name: ये उस file का file pointer है जिसमे से character को read करना है |
putw()
इस function का use किसी फाइल मे से integer value  को write करने के लिए किया जाता है |इसका syntax है :-
putc( integer value/variable ,file pointer name  );
यहा पर :
variable_name :  variable_name ,उस variable का नाम जिसकी value को , file मे write करना है |
character : ये single integer value है जिसे file मे write करना है|
putc() : ये function है जिससे integer value को write करने के लिए इस्तेमाल  किया जाता है
file pointer name: ये उस file का file pointer है जिसमे से integer value को read करना है |
उदहारण है :
#include<stdio.h>
#include<conio.h>
void main()
{
FILE *f;
int a,b;
f=fopen(“File1″,”w”);
pritnf(“Enter Your data”);
scanf(“%d”,&a);
putw(a,f);
fclose(f);
f=fopen(“File1″,”r”);
b=getw(f);
printf(“Saved integer value in file = %d “,b);
fclose(f);
getch();
}
इस उदहारण मे , file का नाम है “File1”.
f=fopen(“File1″,”w”);statement से “File1” नाम जकी एक file create हो जायेगी जिसका mode ‘write ‘है |
उसके बाद यूजर से integer value को input करके ,variable ‘a’ मे assign करवा देते है |
फिर putw(a,f); statement सेvariable ‘a’ की value को file मे write कराया गया है |
fclose(f1) statement से file को क्लोज किया गया है |f=fopen(“File1″,”r”); statement से file को दुबारा open किया जाता है |इस बार file का mode read है |
b=gets(f1); statement से file मे saved integer value को variable ‘b’ मे सेव करा देते है |
printf(“Saved character is file = %c “,b); statement से variable ‘b’ की value screen पर print करा देते है |
आउटपुट होगा :
Enter Your character 234
Saved integer value in file = 234

3.fprintf() और fscanf()
इससे पहले के दो function मे , हम या तो एक charecter या एक integer को read और write कर सकते है |लेकिन अगर किसी दो या दो से अधिक datas (जिनका data type अलग अलग हो) को read या write करना हो तब fprintf() और fscanf() function का use किया जाता है |
fprintf() :
इस function का use किसी फाइल मे से mixed data type को write करने के लिए किया जाता है |इसका syntax normal printf() statement की तरह होता है लेकिन इसका syntax है :-
fprintf(file pointer name , “data type specifier”, List of variables);
यहा पर :
data type specifier : ये variable के data type को define करता है|
List of variables: ये variable के नाम होते है जिसमे data saved होती है |ये list of variable, file मे store होती है |
file pointer name: ये उस file का file pointer है जिसमे data को write करना है |
fscanf()

 

 

इस function का use किसी फाइल मे से mixed  को read करने के लिए किया जाता है |इसका syntax है :-
fscanf(file pointer name, “data specifier”, variable );
यहा पर :
variable : इसमें file से read किये गये data को assign किया जाता है |
data specifier : इसमें file से read किये गये data के data type specifier होते है |
file pointer name: ये उस file का file pointer है जिसमे से integer value को read करना है |

उदाहरण के लिए:

#include<stdio.h>
#include<conio.h>
void main()
{
FILE *f;
int a,age;
char name [10],n[10];
int salary,s;
f=fopen(“File1″,”w”);
pritnf(“Enter Your data name : age : salary”);
scanf(“%s %d %d “,&name ,&a,&salary);
fprintf(f,”%s %d %d”,”name,age,salary);
fclose(f);
f=fopen(“File1″,”r”);
fscanf(f,”%s %d %d”,”n,age,s);
printf(“Data of Applicant name : %s ,age : %d , Salary : %d”,n,age,s);
fclose(f);
getch();
}
आउटपुट होगा :
Enter Your data name : age : salary Parth 21 2000
Data of Applicant name : Parth  ,age : 21 , Salary : 2000