एक्जिम बैंक की स्थापना | एक्जिम बैंक के कार्य मुख्यालय कहाँ है exim bank in hindi भारतीय निर्यात आयात बैंक

By   March 3, 2021

exim bank in hindi एक्जिम बैंक की स्थापना | एक्जिम बैंक के कार्य मुख्यालय कहाँ है भारतीय निर्यात आयात बैंक ? what is full form ?

एक्जिम बैंक
भारतीय निर्यात आयात बैंक (एक्जिम बैंक) की स्थापना भारत में विदेश व्यापार के वित्त पोषण, इसे सुगम बनाने और इसके संवर्धन के उद्देश्य से संसद के एक अधिनियम द्वारा वर्ष 1981 में की गई थी। यह भारत में निर्यात और आयात के वित्तपोषण में संलग्न संस्थाओं के कार्यकरण में भी समन्वय करता है। इसका मुख्यालय मुम्बई में है और भारत में तथा विदेश में इसके 13 कार्यालय हैं। बैंक के प्रचालन को मोटे तौर पर निम्नवत् वर्गीकृत किया जा सकता है:
क) निर्यात ऋण उपलब्ध कराना,
ख) निर्यात क्षमता का सृजन करना,
ग) निर्यात सेवाएँ, और
घ) अनुसंधान और विकास ।

इन कार्यकलापों में (क) और (ख) श्रेणियां अधिक प्रत्यक्षतौर पर परियोजनाओं के वित्त पोषण से संबंधित हैं। बैंक भारतीय मशीनों, विनिर्मित वस्तुओं, परामर्श और प्रौद्योगिकी सेवाओं के निर्यात के लिए आस्थगित भुगतान शर्तों पर ऋण उपलब्ध कराता है। यह भारत से वस्तुओं और सेवाओं के निर्यात के वित्तपोषण के लिए विदेशी एजेन्सियों जैसे सरकारों केन्द्रीय बैंकों, वाणिज्यिक बैंको इत्यादि को ऋण सुविधाएँध्क्रेता की साख-उधार के माध्यम से भी सहायता प्रदान करता है।

बैंक निर्यात चक्र के विभिन्न चरणों, जिसमें निर्यात उत्पादन, निर्यात उत्पाद विकास, प्रौद्योगिकी आयात, विदेशों में निवेश, पोतलदानोंत्तर, पोतलदानपूर्व और निर्यात विपणन सम्मिलित है, पर प्रतिस्पर्धी वित्त भी उपलब्ध कराता है।

यह बैंक ग्लोबल और क्षेत्रीय विकास एजेन्सियों के साथ भारतीय निर्यातकों को ऐसी विदेशी परियोजनाओं में भागीदारी के प्रयासों में सहायता के लिए सह-वित्तपोषण करती है।

यह बैंक विदेशों में भारतीय संयुक्त उद्यमों में निवेश के बहिर्वाह और भारत में विदेशी प्रत्यक्ष निवेश प्रवाह के माध्यम से दोहरे प्रौद्योगिकी अंतरण के संवर्धन में संलिप्त है। एक्जिम बैंक यूरोपियन यूनियन के साथ साझीदार संस्था भी है और यूरोपियन यूनियन के मध्यम आकार के फर्मों के साथ तकनीकी और वित्तीय सहयोग के माध्यम से भारत में संयुक्त उद्यमों के संवर्धन को सुगम बनाने के लिए कार्यशील रहता है।