ठोसों के विधुतीय गुण electrical properties of solids in hindi

electrical properties of solids in hindi  ठोसों के विधुतीय गुण :

चालकता के मान के आधार पर ठोस तीन प्रकार के होते है।

(1) कुचालकता या विधुत रोधी : इनकी चालकता का मान 10-20 से 10-10 ओम-1 मीटर-1 होता  है। इनमे स्वतंत्र इलेक्ट्रॉन या आयनों का अभाव होता हैं।

उदाहरण : लकड़ी , प्लास्टिक , रबड़ , हीरा आदि।

(2) चालक : इनकी चालकता का मान 10से 10 ओम-1 मीटर-1 होता  है। इनमे स्वतंत्र इलेक्ट्रॉन आयन या छिद्र होते है।  ये दो प्रकार के होते है।

(A) इलेक्ट्रॉनिक चालक :

इनमे स्वतंत्र इलेक्ट्रॉन होते है।

ताप बढ़ाने से चालकता कम हो जाती हैं।

उदाहरण : सभी धातुयें तथा ग्रेफाइट।

(B) विधुत अपघटनी चालक :

ये पिघली हुई अवस्था या विलयन अवस्था में विधुत के चालक होते हैं।

उदाहरण : NaCl , KCl , KOH , NaOH, H2SOआदि।

(3) अर्धचालक : इनकी चालकता का मान 10-6 से 10 ओम-1 मीटर-1 होता  है। ये परम शून्य ताप पर विधुत के कुचालक होते है परन्तु ताप बढ़ाने से इनकी चालकता बढ़ जाती है।

उदाहरण : शुद्ध सिलिकॉन (Si) , शुद्ध जर्मेनियम (Ge) .

One thought on “ठोसों के विधुतीय गुण electrical properties of solids in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!