एबेनेज़ेर कॉब मोर्ली (Ebenezer Cobb Morley in hindi)

एबेनेज़ेर कॉब मोर्ली

(Ebenezer Cobb Morley in hindi) एबेनेज़ेर कॉब मोर्ली फुटबॉल के जनक इसलिए ही कहे जाते है क्योंकि इन्होने ही फुटबॉल की नीव रखी थी और आज फुटबॉल एक सबसे लोकप्रिय खेलो में से एक है , इस खेल को हमें देने वाले मोर्ली का जन्म 16 August 1831 को हुआ था अर्थात आज मोर्ली का जन्म दिन है , उनके जन्म दिन को ही गूगल ने अपने डूडल पर इसलिए लगाया है ताकि लोग समझे की फुटबॉल के जनक का आज जन्म दिन है।

Ebenezer Cobb Morley का १८३१ (1831) में हुल (hull) में हुआ था इसके बाद we लन्दन में चले गये थे जहाँ उन्होंने काम किया , लन्दन में वे एक वकील थे जहाँ उन्होंने वकालत की थी। वकालत के अलावा उनमें एक खिलाडी के रूप में भी एक अलग ही जूनून था , और इसी जूनून के चलते उन्होंने 1858 में उन्होंने बार्नेस (barnes) नाम की फुटबॉल की टीम बनाई।

वे एक इंग्लिश खिलाडी के रूप में जाने जाते है और उनको ही मॉडर्न फुटबॉल और फूटबाल एसोसिएशन के पिता या जनक कहा जाता है , क्योंकि उन्होंने ही फुटबॉल के प्रति एक उत्साह लोगो में जगाया और लोगो का ध्यान फुटबॉल की तरफ खींचा।

एबेनेज़ेर कॉब मोर्ली अपने जन्म स्थान हुल में तब तक रहे जब तक वे 22 साल के हुए , और 22 साल की उम्र के बाद 1858 में बार्नेस नाम की जगह पर वे चले गये थे और वहाँ बार्नेस नाम के क्लब की स्थापना की जैसा हमने ऊपर बताया।

इसके बाद 1862 में वे FA के संस्थापक के सदस्य के रूप में रहे , इसके बाद वे 1863 में क्लब के कप्तान बन गये।

इसके अलावा वे FA (फुटबॉल एसोसिएशन) के पहले सचिव के रूप में रहे , वे फुटबॉल एसोसिएशन के सचिव 1863 से 1866 यानी तीन साल तक रहे और उसके बाद 1867 से 1874 तक फुटबॉल एसोसिएशन के द्वितीय प्रेसिडेंट रहे।

मोर्ली ने बार्नेस यानी होम फुटबॉल के लिए 23 नियमो का एक सेट बनाया और उसे फुटबॉल के लिए प्रथम नियम के रूप में माना जाने लगा।

1863 में सबसे प्रथम match में खेले थे , याद रखिये यह फुटबॉल का पहला मैच था जो 1863 में खेला गया था यह मैच रिचमंड टीम के खिलाफ खेला गया था।

2 thoughts on “एबेनेज़ेर कॉब मोर्ली (Ebenezer Cobb Morley in hindi)”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *