Category Archives: physics

गतिमान आवेश की परिभाषा क्या है ? moving charge in hindi एक गतिमान आवेश उत्पन्न करता है

(moving charge in hindi ) गतिमान आवेश की परिभाषा क्या है ?  एक गतिमान आवेश उत्पन्न करता है moving electric charge produces magnetic field ? गतिमान आवेश की परिभाषा : जब कोई आवेश गति कर रहा होता है तो उस स्थिति में उस आवेश को गतिशील आवेश या गतिमान आवेश कहते है | जब आवेश… Continue reading »

थॉमसन प्रभाव क्या है (thomson effect in hindi) , थॉमसन प्रभाव किसे कहते है ? जुल थामसन इफ़ेक्ट को समझाइए

(thomson effect in hindi) थॉमसन प्रभाव क्या है थॉमसन प्रभाव किसे कहते है ? जुल थामसन इफ़ेक्ट को समझाइए परिभाषा , प्रश्न और उत्तर सहित लिखिए | थॉमसन प्रभाव (thomson effect) : (i) एक अकेली धातु के दो भागों के मध्य विद्युत वाहक बल उत्पन्न होता है , यदि ये भिन्न भिन्न तापमान पर है। यह… Continue reading »

पेल्टियर प्रभाव क्या है (peltier effect in hindi) पेल्टियर प्रभाव किसे कहते हैं परिभाषा , पल्टिएर इफ़ेक्ट क्या है

(peltier effect in hindi) पेल्टियर प्रभाव क्या है पेल्टियर प्रभाव किसे कहते हैं परिभाषा , पल्टिएर इफ़ेक्ट क्या है ? पेल्टियर प्रभाव (Peltier effect) : (1) यह सिबेक प्रभाव का प्रतिलोम रूप है। (2) यदि एक धारा दो असमान धातुओं के युग्म से गुजरती है तो संधि पर ऊष्मा अवशोषित होती है और विकसित होती है।… Continue reading »

gouy method in hindi गॉय विधि क्या है ? gouy’s method for magnetic susceptibility formula

gouy method in hindi गॉय विधि क्या है ? gouy’s method for magnetic susceptibility formula

gouy’s method for magnetic susceptibility formula , gouy method in hindi गॉय विधि क्या है ? चुम्बकीय प्रवृत्ति के निर्धारण की विधियाँ : पदार्थो की चुम्बकीय प्रवृति ज्ञात करने की कई विधियाँ उपलब्ध है जिनमें से दो प्रमुख है , क्रमशः गॉय विधि और फैराडे विधि , जिनका संक्षिप्त विवरण निम्नलिखित प्रकार है – गॉय विधि… Continue reading »

फेरोचुम्बकत्व अथवा लौहचुम्बकत्व (ferromagnetism in hindi) , फेरोचुम्बकीय किसे कहते है , उदाहरण

(ferromagnetism in hindi) फेरोचुम्बकत्व अथवा लौहचुम्बकत्व की परिभाषा क्या है , फेरोचुम्बकीय किसे कहते है , उदाहरण , गुण | फेरोचुम्बकत्व अथवा लौहचुम्बकत्व (ferromagnetism) पदार्थो का यह गुण अनुचुम्बकत्व का ही एक विस्तृत रूप है। कुछ पदार्थ ऐसे होते है जिनमे अनुचुम्बकत्व का गुण अत्यधिक होता है। ऐसे पदार्थो को चुम्बकीय क्षेत्र में रखने पर… Continue reading »

प्रतिजैविक औषधि का नाम क्या है ? प्रतिजैविक औषधि किसे कहते हैं antibiotics meaning in hindi

(antibiotics meaning in hindi) प्रतिजैविक औषधि का नाम क्या है ? प्रतिजैविक औषधि किसे कहते हैं ? औषधियाँ  औषधियाँ रोगों के इलाज में काम आती हैं। वे पदार्थ जो किसी रोग को रोकने, आराम पहुंचाने या उपचार के लिए उपयोग में आते हैं, औषधि कहलाते हैं। प्रारम्भ में औषधियाँ पेड़-पौधों तथा जीव-जन्तुओं से प्राप्त… Continue reading »

पराश्रव्य तरंगें क्या होती है | पराश्रव्य तरंगें किसे कहते हैं , अनुप्रयोग , गुण , उपयोग ultrasound in hindi

ultrasound in hindi , पराश्रव्य तरंगें क्या होती है | पराश्रव्य तरंगें किसे कहते हैं , अनुप्रयोग , गुण , उपयोग ? ध्वनि साधारणतया हमारे कानों को जो सुनाई देता है वह ध्वनि है। ध्वनि सदैव कम्पन से ही उत्पन्न होती है। अर्थात बिना कम्पन के ध्वनि उत्पन्न नहीं की जा सकती। किसी माध्यम में… Continue reading »

अपकेन्द्रिय बल के उदाहरण , अपकेन्द्रिय बल की परिभाषा क्या है , अपकेन्द्री बल किसे कहते है , centrifugal force in hindi

(centrifugal force in hindi) अपकेन्द्रिय बल के उदाहरण , अपकेन्द्रिय बल की परिभाषा क्या है , अपकेन्द्री बल किसे कहते है , इसको इंग्लिश में क्या कहा जाता है ? अपकेन्द्री बल– अजड़त्वीय फ्रेम में न्यूटन के नियमों को लागू करने के लिए कुछ ऐसे बलों की कल्पना करनी होती है, जिन्हें परिवेश में किसी… Continue reading »

अभिकेन्द्रीय बल का उदाहरण क्या है , अभिकेन्द्रीय बल किसे कहते है ? Centripetal force in hindi

(Centripetal force in hindi) अभिकेन्द्रीय बल का उदाहरण क्या है , अभिकेन्द्रीय बल किसे कहते है ? परिभाषा अभिकेन्द्री बल – जब कोई पिंड एक समान चाल से त्रिज्या के वृत्तीय मार्ग पर गति करता है, तो उस पर अभिकेन्द्री त्वरण लगता है, जिसका परिमाण होता है, परन्तु त्वरण की दिशा लगातार बदलती रहती है। त्वरण… Continue reading »

न्यूटन के गति के नियम newton’s laws of motion class 11 in hindi न्यूटन का गति का नियम क्या है ?

(newton’s laws of motion class 11 in hindi) न्यूटन के गति के नियम , न्यूटन का गति का नियम क्या है ? विषयक सीमाएँ लिखिए ? न्यूटन के गति के नियम गति के नियमों को सबसे पहले सर आइजक न्यूटन ने सन् 1687 ई. में अपनी पुस्तक प्रिसीपिया में प्रतिपादित किया। इसीलिए इस वैज्ञानिक क… Continue reading »