Category Archives: physics

केन्द्रीय बल या केंद्रीय बल क्या है , परिभाषा , सूत्र , उदाहरण (central force in hindi physics)

(central force in hindi physics) केन्द्रीय बल या केंद्रीय बल क्या है , परिभाषा , सूत्र , उदाहरण : वह बल जिसकी क्रिया रेखा हमेशा किसी स्थिर बिंदु या केंद्र से होकर गुजरती है ऐसे बलों को केन्द्रीय बल कहते है।  इन बलों का का मान केवल केंद्र से या स्थिर बिंदु से दूरी पर… Continue reading »

संरक्षी बल और असंरक्षी बल की परिभाषा क्या है , किसे कहते है , उदाहरण (conservative and nonconservative forces in hindi)

(conservative and nonconservative forces in hindi) संरक्षी बल और असंरक्षी बल की परिभाषा क्या है , किसे कहते है , उदाहरण : बलों को उनके कुछ गुणों के आधार पर संरक्षी तथा असंरक्षी बल के रूप में बांटा गया है , यहाँ हम इन दोनों बलों को विस्तार से अध्ययन करते है। संरक्षी बल (conservative… Continue reading »

स्प्रिंग बल द्वारा किया गया कार्य (work done by a spring force in hindi)

(work done by a spring force in hindi) स्प्रिंग बल द्वारा किया गया कार्य : जब हम किसी स्प्रिंग को दबाते या खीचते है तो यह वापस अपनी मूल अवस्था में क्यों आ जाती है ? या दुसरे शब्दों में कहे तो हमें स्प्रिंग को दबाने व खींचने में बल की आवश्यकता क्यों होती है… Continue reading »

कार्य की परिभाषा क्या है , मात्रक , विमा , सूत्र , इकाई , कार्य किसे कहते है (what is work in hindi)

(what is work in hindi) कार्य की परिभाषा क्या है , मात्रक , विमा , सूत्र , इकाई , कार्य किसे कहते है : जब किसी पिण्ड पर बल आरोपित किया जाता है तो उसमे विस्थापन उत्पन्न हो जाता है , तो आरोपित बल व उत्पन्न विस्थापन के गुणनफल के मान को बल द्वारा पिण्ड पर… Continue reading »

अप्रत्यास्थ संघट्ट : पूर्णत: अप्रत्यास्थ टक्कर (inelastic collision in hindi)

(inelastic collision in hindi)  अप्रत्यास्थ संघट्ट : पूर्णत: अप्रत्यास्थ टक्कर : दो पिण्डों के मध्य होने वाली ऐसी टक्कर जिसमे रेखीय संवेग को संरक्षित रहता है लेकिन गतिज ऊर्जा का मान संरक्षित नहीं रहता है , इसी टक्कर को अप्रत्यास्थ टक्कर या संघट्ट कहते है। अर्थात इस प्रकार की टक्कर में पिण्ड का टक्कर से… Continue reading »

प्रत्यास्थ संघट्ट : पूर्ण प्रत्यास्थ टक्कर , प्रत्यक्ष व तिर्यक संघट्ट (elastic collision in hindi)

(elastic collision in hindi) प्रत्यास्थ संघट्ट : पूर्ण प्रत्यास्थ टक्कर , प्रत्यक्ष व तिर्यक संघट्ट : दो कणों के मध्य होने वाली ऐसी टक्कर जिसमें कणों की गतिज ऊर्जा और रेखीय संवेग की कोई हानि नहीं होती है अर्थात कणों का टक्कर से पहले और टक्कर के बाद रेखीय संवेग और गतिज ऊर्जा जा मान… Continue reading »

संघट्ट क्या है , परिभाषा , प्रकार , संघट्ट किसे कहते है (what is collision in hindi)

(what is collision in hindi) संघट्ट क्या है , परिभाषा , प्रकार , संघट्ट किसे कहते है : जब दो या दो से अधिक वस्तुएँ आपस में टकराती है या दोनों के मध्य अन्योन्य क्रिया होती है जिसमे में दो वस्तुएं आपस में एक दुसरे के सम्पर्क में बहुत अल्प समय के लिए आते है… Continue reading »

रेखीय संवेग संरक्षण का नियम (निकाय का) (law of conservation of linear momentum in hindi)

(law of conservation of linear momentum in hindi) रेखीय संवेग संरक्षण का नियम (निकाय का) : किसी भी क्षण किसी कण का रेखीय संवेग का मान उस कण के द्रव्यमान और उस क्षण पर उसके वेग के गुणनफल के बराबर होता है और रेखीय संवेग को p द्वारा व्यक्त किया जाता है। यहाँ p =… Continue reading »

द्रव्यमान केन्द्र की परिभाषा क्या है , उदाहरण , सूत्र , संहति केंद्र (center of mass in hindi)

(center of mass in hindi) द्रव्यमान केन्द्र की परिभाषा क्या है , उदाहरण , सूत्र , संहति केंद्र : किसी पिण्ड या पिण्डों के निकाय का वह वह बिंदु जहाँ उस पिंड या निकाय के सम्पूर्ण द्रव्यमान को केन्द्रित माना जा सकता है उस बिन्दु को द्रव्यमान केंद्र कहते है। अत: इस बिन्दु के सापेक्ष पिण्ड… Continue reading »

लोटनी गति : क्षैतिज तल व आनत तल पर लौटनी गति क्या है , किसे कहते है , सूत्र (rolling motion in hindi)

(rolling motion in hindi) लोटनी गति : क्षैतिज तल व आनत तल पर लौटनी गति क्या है , किसे कहते है , सूत्र : वाहन में लगे पहिये की गति हमने देखी है , वाहन का पहिया अपनी अक्ष के परित: घूमता रहता है और अपनी अक्ष के चारों तरफ घूमता हुआ आगे या पीछे… Continue reading »