Category Archives: physics

चल कुंडली धारामापी या गेल्वेनोमीटर , Galvanometer in hindi , सिद्धांत , चल कुण्डली धारामापी चित्र , अर्थ

Galvanometer in hindi , चल कुंडली धारामापी या गेल्वेनोमीटर , सिद्धांत , चल कुण्डली धारामापी चित्र , अर्थ :- चल कुण्डली गैल्वेनोमीटर : इसमें ताम्बे के तारों की बनी कई फेरो वाली कुण्डली दो चूलों की सहायता से शक्तिशाली चुम्बकीय ध्रुवों M व S के मध्य रखी हुई है , इस कुण्डली के मीटर एक… Continue reading »

विद्युत चुंबकीय बल की परिभाषा क्या है ? उदाहरण , मात्रक , इकाई , electromagnetic force in hindi

electromagnetic force in hindi , विद्युत चुंबकीय बल की परिभाषा क्या है ? उदाहरण , मात्रक , इकाई :- परिनालिका एवं टोराइड : परिनालिका और टोरोइड ऐसे उपकरण है जिनकी सहायता से चुम्बकीय क्षेत्र उत्पन्न किया जा सकता है | परिनालिका से उत्पन्न चुम्बकीय क्षेत्र का उपयोग टेलीविजन में किया जाता है जबकि सिक्रोटोन में चुम्बकीय क्षेत्र… Continue reading »

एम्पियर का परिपथीय नियम , एंपीयर का परिपथ नियम बताइए क्या है , ampere circuital law in hindi

एम्पियर का परिपथीय नियम , एंपीयर का परिपथ नियम बताइए क्या है , ampere circuital law in hindi

ampere circuital law in hindi , एम्पियर का परिपथीय नियम , एंपीयर का परिपथ नियम बताइए क्या है :- साइक्लोट्रॉन : प्रत्यावर्ती धारा :- उस धारा को कहते है जिसका आधा भाग धनात्मक तथा आधा भाग ऋणात्मक होता है अर्थात 0 से 2π धनात्मक तथा 2π से 4π तक ऋणात्मक होता है। साइक्लोट्रोन में विद्युत क्षेत्र व चुम्बकीय क्षेत्र दोनों एक… Continue reading »

स्प्रिंग के दोलन , oscillation in spring in hindi , स्प्रिंगों का श्रेणीक्रम , समान्तर क्रम में संयोजन combination of springs

स्प्रिंग के दोलन , oscillation in spring in hindi , स्प्रिंगों का श्रेणीक्रम , समान्तर क्रम में संयोजन combination of springs

combination of springs in series and parallel in hindi , स्प्रिंग के दोलन , oscillation in spring in hindi , स्प्रिंगों का श्रेणीक्रम , समान्तर क्रम में संयोजन :- माध्य गतिज ऊर्जा (Mean kinetic energy) : सरल आवर्त गति में गतिज ऊर्जा भिन्न भिन्न स्थितियों में भिन्न भिन्न होती है। इसका मान 0 से mw2a2/2 के बीच… Continue reading »

कण की परिभाषा , मूल बिन्दु , बिंदु कण किसे कहते है , particle meaning and definition in hindi , basic point

particle meaning and definition in hindi , कण की परिभाषा , मूल बिन्दु , बिंदु कण किसे कहते है , basic point in hindi :- कण : किसी पदार्थ का वह छोटे से छोटे भाग जिसे उसके द्रव्यमान व स्थिति द्वारा प्रदर्शित किया जा सके कण कहते है। जैसे : सूर्य के चारों ओर ग्रहों की… Continue reading »

सेकंड लोलक का आवर्तकाल होता है , time period of seconds pendulum in hindi , how does time period of a seconds pendulum vary with length

how does time period of a seconds pendulum vary with length , सेकंड लोलक का आवर्तकाल होता है , time period of seconds pendulum in hindi :- सरल आवर्त गति कर रहे कण के लिए बल का नियम : सरल आवर्त गति कर रहे कण पर लगने वाले प्रत्यानयन बल का मान विस्थापन के समानुपाती तथा… Continue reading »

दोलन गति की परिभाषा क्या है , सरल आवर्त गति , एक समान वृत्ताकार पथ पर सरल आवर्त गति oscillation class 11 in hindi

oscillation class 11 in hindi , दोलन गति की परिभाषा क्या है , सरल आवर्त गति , एक समान वृत्ताकार पथ पर सरल आवर्त गति , वेग , त्वरण :- दोलन : आवर्त गति : किसी पिण्ड या वस्तु की होने वाली ऐसी गति जिसमे पिण्ड निश्चित समयान्तराल में बार बार अपने निश्चित पथ को बार… Continue reading »

घूर्णन त्रिज्या की परिभाषा क्या है ? , घूर्णन त्रिज्या का मात्रक है , in English Radius Of Rotation in hindi

Radius Of Rotation in hindi , घूर्णन त्रिज्या की परिभाषा क्या है ? , घूर्णन त्रिज्या का मात्रक है , in English :- घूर्णन गतिज ऊर्जा : माना दृढ पिण्ड अपनी घूर्णन अक्ष के सापेक्ष कोणीय वेग w से घूर्णन कर रहा है जिसमें n कण उपस्थित है जिनके द्रव्यमान m1 , m2 , m3 . . . . mn है… Continue reading »

कोणीय संवेग , जड़त्व आघूर्ण व कोणीय वेग में सम्बन्ध , बलाघूर्ण , कोणीय संवेग व कोणीय त्वरण में सम्बन्ध 

relation between angular momentum and moment of inertia of a rigid body in hindi , कोणीय संवेग , जड़त्व आघूर्ण व कोणीय वेग में सम्बन्ध , बलाघूर्ण , कोणीय संवेग व कोणीय त्वरण में सम्बन्ध  :- कोणीय विस्थापन (θ) : वृताकार पथ पर घूर्णन गति कर रहे किसी कण के द्वारा केंद्र के सापेक्ष तय की… Continue reading »

कणों का निकाय व घूर्णी गति , system of particles and rotational motion in hindi , स्थानान्तरण या रेखीय गति

स्थानान्तरण या रेखीय गति , कणों का निकाय व घूर्णी गति , system of particles and rotational motion in hindi  :- कणों का नियम व घूर्णी गति : दृढ़ पिण्ड : ऐसा निकाय या पिण्ड जिसकी आकृति एवं आकार निश्चित होता है तथा इसके अणुओं के बीच की दूरी अपरिवर्तित रहती है तो ऐसे निकाय… Continue reading »