C99 part1 – Feature in c language in hindi , C99 stanadard क्या है , c कंप्यूटर भाषा हिंदी में

By  
C99 stanadard क्या है , c कंप्यूटर भाषा हिंदी में , C99 – Feature (पार्ट-1) in c language in hindi  :-
C language को ANSI और ISO ने standardized और design किया  है | c language एक powerful,portabale और elegant language है | इसकी कंप्यूटर और application के लिए suitable होती है इसलिए ये most popular कंप्यूटर language भी है |
ANSI और ISO समय समय पर काफी new technique को C language मे implement करते है |जिससे C language ,मार्किट मे लीड कर सके |कभी कभी ANSI यूजर group से फीड back लेते है जिससे की C language के feature को enhance किया जा सका |
C99 stanadard इन नए standards को describe करता है | इसमें कुछ c++ से लिए गये या इन feature को मॉडिफाइड करके C language मे add किये गये |
1. keyword
C languge मे 32 keyword है इसके अलावा C99 मे , पांच नए keyword को add किया गया है | जिनकी लिस्ट है :-
1. Bool
2. Complex
3. Imaginary
4. Inline
5. Restrict
in keywords के addition से C language की उपयोगिता बहुत बढ़ गयी है |
2. Comment
C language मे , single line comment के facility थी |जिससे केवल एक line के comment को लिखा जा सकता था |लेकिन C99 मे new comment को introduce किया गया है |इस feature से multiple lines को comment बना सकते है |
इसका syntax है |
// comment line //
इसका उदहारण है :
#include<stdio.h>
#include<conio.h>
void main()
{
int a,b,c ;   // variable declare
printf(“Input”);                          // input by print function
scnaf(“%d %d”,&a &b);           // data scanning
c= a+b;                                      // Addition
printf(“Sum = %d”,c);
getch();
}
3. New data type
C language मे पांच basic data type है integer,float,double,void और charecter |लेकिन C 99 मे इसके अलावा तीन नए data type को introduce किया गया है |
1. Boolean
इस data type मे Boolean values store हो सकती |Boolean value का मतलब है ‘1’ और ‘0’ |इसका syntax bool होता है |इस data type का use किसी relation और logical operation मे किया जाता है |
उदहारण के लिए :
#include<stdio.h>
#include<conio.h>
void main()
{
int a,b ;   // variable declare
bool c;    // variable c declare
printf(“Inputs”);                          // input by print function
scnaf(“%d %d”,&a &b);           // data scanning
c=a>b;
if(c==1)
{
printf(“a is bigger than b”);
}
else
{
printf(“a is smaller than b”);
}
getch();
}
आउटपुट होगा :
Inputs 12 34
a is bigger than b
2. Complex और Imaginary
C99 मे जब दो नए  keywords को जोड़ा गया  है |Complex और Imaginary , दोनों ही keyword का use complex arithmetic मे होता है|जो की numerical programming मे बहुत ही उपयोगी है |जब किसी complex number को show किया जाता है |उसके दो parts होते है |(i) real (ii) Imaginary|
real :- ये पार्ट तो नार्मल data type मे store हो जाते है |लेकिन
Imaginary : लेकिन ये पार्ट Imaginary data type मे store होते है
complex : इस data type मे complex number store होता है |
ये निन्म type के होते है :-
1. float_complex : इसका use , complex number को store करने के लिए किया जाता है जिसका data  type float है |
2. double_complex:इसका use , complex number को store करने के लिए किया जाता है जिसका data  type double है |
3. long double_complex:इसका use , complex number को store करने के लिए किया जाता है जिसका data  type long double है |
4. float_Imaginary : इसका use,complex number के Imaginary पार्ट को store करने के लिए किया जाता है और number का type float होता है |
5. double_Imaginary:इसका use,complex number के Imaginary पार्ट को store करने के लिए किया जाता है और number का type double होता है |
6. long double_Imaginary:इसका use,complex number के Imaginary पार्ट को store करने के लिए किया जाता है और number का type long double होता है |
3. long long type 
इस data type मे storing range -(2^63 -1) से (2^63+1) तक होती है |जबकि unsigned long integer की range 0 से  (2^64-1 ) तक होती है |
4. Declaration of variable
C languge मे , use किये जाने वाले variable को main() और यूजर define function के start मे declare करना होता है |लेकिन C 99 मे ,variable को c प्रोग्राम मे किसी point पर declare कर सकते है |
उदाहरण के लिए :
#include<stdio.h>
#include<conio.h>
#include<stdlib.h>
void main()
{
int *a;
a=(int *) calloc(5,sizeof(int));
for(int i=0;i<5;i++)
{
printf(“\n Enter element i :  “);
scanf(“%d”,&a[i]);
}
for(int i=0;i<5;i++)
{
printf(“\nElement = %d\n”,a[i]);
}
getch();
}
आउटपुट होगा ;
Enter element 0 :25
Enter element 1 :44
Enter element 2 :57
Enter element 3 :68
Enter element 4 :74
Element = 25
Element = 44
Element = 57
Element = 68
Element = 74
इस उदाहरण मे , for loop के statement मे variable ‘i’ को declare किया गया है |लेकिन जब वो loop terminate हो जायेगा तब variable ‘i’ की value भी lost हो जायेगी |


5. Handel input/output 
तीन नए data type को add करने के कारन , C 99 मे input और आउटपुट function मे भी change आया है |
1. lld – for long long integer
2. llf – for long long float
3. lld – for long long double
4. hhd-for integer treat as character
5. hhf-for float treat as character
6. hhd-for double treat as characterइसके आलावा C 99 मे कई और feature को add किया गया है|लेकिन आगे feature को अगले article मे पढ़गे |