C++ : Inline Function in hindi , what is Inline Function in c++ language example program

By  

what is Inline Function in c++ language example program , C++ : Inline Function in hindi :-

इससे पहले के article मे function को discuss किया जाता है | अब इस article मे  c++ की एक और property को discuss करेगे | जिसे inline function कहते है | inline function के कार्य function के सामान होता है |

Inline Function

c++ मे inline function का use , function की speed को बढ़ाने के लिए किया जाता है | inline function और नार्मल function मे कोई भी difference नहीं होता है | लेकिन इन function को call करने के लिए नए method को use किया जाता है | inline function और normal function मे difference को समजने के लिए निन्म पॉइंट्स को consider किया जाता है |

किसी प्रोग्राम को execute करने  के  लिए बहुत सारे machine codes को use किया जाता है |  जब किसी प्रोग्राम को start किया जाता है तब operating सिस्टम , कंप्यूटर memory मे instructions को लोड करता है | प्रत्येक instructions का कंप्यूटर memory मे space को allocate किया जाता है | कंप्यूटर control, इन  instructions one by one execute करता है | लेकिन अगर कोई braching statement आ जाता है तब  कुछ instructions को स्किप भी किया जा सकता है | और कोई forward और backward instructions मे jump भी किया जा सकता है | 

जब Normal function को call किया जाता है तब प्रोग्राम control , main() के instructions को function के instructions मे jump होता है और instructions के execute होने के बाद वापिस main()मे return हो जाता है | इस प्रोसेस को और अच्छी तरह से discuss करते है | जब प्रोग्राम control function call के instructions तक पहुचता है तब instructions के memory address को function call के बाद load हो जाता है |  अतः function का argument को stack मे assign किया जाता है | और प्रोग्राम control को function के instructions मे jump हो जाता है |और प्रोग्राम control function के instructions के बाद stack मे store instructions अपर jump हो जाता है | 

c++ inline function का method , नार्मल function से अलग अलग होता है | C++ language मे , inline function मे  main() के साथ दूसरा function inline रहता है | अतः inline function को प्रोग्राम मे  function call के साथ replace किया जाता है |inline function से , जब inline function को call किया जाता है तब प्रोग्राम control, inline function पर jump नहीं होता है |  इसलिए प्रोग्राम की speed बढ़ जाती है | और inline function से memory loss को भी कम किया जाता है |

inline function को use करने के लिए बहुत पॉइंट्स ध्यान मे रखना पड़ता है | inline function को execute करने के लिए लगा time तो बढ़ जाता है |अगर inline function की length बहुत कम होती है  तब inline function को use करना बेकार होता है |  इसलिए बड़े बड़े function के लिए inline function को use करना चाहये जिससे प्रोग्राम मे memory occupation और time दोनों ही कम हो जाये | 

inline function को use करने के लिए निन्म स्य्ताक्स को use किया जाता है :-

inline function_name (argument);

inline function_name (argument)

{

function_body ;

इस syntax मे function declartion और function definition मे inline keyword को use किया जाता है | 

इस का उदाहरन होता है :

इस उदाहरण मे , inline function से  calculator को बनाया गया है |

Expalnation

सबसे पहले यूजर द्वारा choice को input किया जाता है | 

Enter ‘+’ for addition

Enter ‘-‘ for subtraction

Enter ‘*’ for multiplication

Enter ‘/’ for division

उसके बाद यूजर से choice को input करा लेते है | और इसके बाद  यूजर से values को input करा लेते है | 

choice को switch statement मे pass किया जाता है | उस आधार पर function को कैल्ल किया जाता है |

inline add() मे ,

inline add() function मे दो value को addition किया जाता  है | और आउटपुट की value को display किया जाता है |

inline sub() मे ,

inline sub () function मे दो value को  subtraction किया जाता  है | और आउटपुट की value को display किया जाता है |

inline mul() मे ,

inline mul() function मे दो value को multilication किया जाता  है | और आउटपुट की value को display किया जाता है |

inline div() मे ,

inline div () function मे दो value को division किया जाता  है | और आउटपुट की value को display किया जाता है |

Source Code

#include <iostream>

#include<conio.h>

using namespace std;

inline void  add(int, int );

inline void sub(int, int );

inline void mul(int, int );

inline void div(int, int );

void main() 

{

int number1 , number2 ;

char choice ;

cout<<“Enter ‘+’ for addition”<<endl<<“Enter ‘-‘ for subtraction”<<endl<<“Enter ‘*’ for multiplication”,,endl<<“Enter ‘/’ for division”<<endl;

cout<<“Enter choice : “;

cin >> choice;

cout<<“Enter number1 : “;

cin >> number1;

cout<<“Enters number2 : “;

cin >> number2;

switch(choice)

{

case ‘+’ :

add(number1,number2);

break;

case ‘-‘ :

sub(number1,number2);

break;

case ‘*’ :

mul(number1,number2);

break;

case ‘/’ :

div(number1,number2);

break;

default :

cout<<“invalid choice “;

break;

}

getch();

}

// Function definition

inline void add(int a, int b)

{

int output;

output = a + b;

cout<<“Output : “<<output;

}

// Function definition

inline void div(int a, int b)

{

int output;

output = a / b;

cout<<“Output : “<<output;

}

// Function definition

inline void sub(int a, int b)

{

int output;

output = a – b;

cout<<“Output : “<<output;

}

// Function definition

inline void mul(int a, int b)

{

int output;

output = a * b;

cout<<“Output : “<<output;

}

इस उदहारण मे चार inline functions को use किया जाता है  |

 जब add() को call किया जाता है | add() की body main() मे add() call statement पर copy होता है | और execute होता है | इस प्रोसेस मे प्रोग्राम control को shift नहीं किया जाता है |

 जब sub() को call किया जाता है | add() की body main() मे sub() call statement पर copy होता है | और execute होता है | इस प्रोसेस मे प्रोग्राम control को shift नहीं किया जाता है |

 जब mul() को call किया जाता है | add() की body main() मे  mul() call statement पर copy होता है | और execute होता है | इस प्रोसेस मे प्रोग्राम control को shift नहीं किया जाता है |

 जब div() को call किया जाता है | add() की body main() मे  div() call statement पर copy होता है | और execute होता है | इस प्रोसेस मे प्रोग्राम control को shift नहीं किया जाता है |

इसका आउटपुट होगा :

Enter ‘+’ for addition

Enter ‘-‘ for subtraction

Enter ‘*’ for multiplication

Enter ‘/’ for division

Enter choice : –

Enter number1 : 24

Enter number2 : 12

output : 12

इस article मे inline function को discuss किया गया है अब आगे के article मे class और object को discuss करेगे |