C++ : Arithmetic Operator in hindi , what are and types of Arithmetic Operator Modulus in c++ language programe

By  
what are and types of Arithmetic Operator in c++ language programe , C++ : Arithmetic Operator in hindi :-
इससे पहले के article मे , हमने data type( integer , float , character आदि ) को discuss किया है अब इस article मे हम इन data type पर perform होने वाले Arithmetic operation को discuss करेगे |
Operation
किसी भी programming language मे दो प्रकार के task perform होता है :-
1. logical : जिसमे किसी लॉजिक को perform किया जाता है जैसे दो value मे से बड़ी value को identify करना | या किसी statement का सही या गलत होना |
2.  Arithmetic : इसमें mathematics operation perform होते है | जैसे किसी दो value के बीच addition , multiplication आदि |
दोनों ही operation के लिए दो पत्रकार की information होनी चाहिए :-
1.Operand: इन पर operation perform होता है |
2.Operator : ये operation को define करते है |
उदाहरण के लिए  :
#include<iostram.h>
#include<conio.h>
void main()
{
using namesapce std;
int a,b,c;
cout<<“Enter First Value : “<<endl;
cin>>a;
cout<<“Enter Second Value : “<<endl;
cin>>b;
c=a+b;
cout<<“Addition of values : “<<c<<endl;
getch();
}
इस उदाहरन मे तीन इन्तेग्र type variable ‘a’,’b’, और ‘c’ को define किया गया है | और statement c=a+b ; मे addition operation perform हो रहा है | इस statement मे ‘a’ और ‘b’ दो operand है जिस पर addition operation perform हो रहा है |
इसका आउटपुट होगा :
Enter First Value : 23
Enter Second Value : 12
Addition of values : 35
Arithmetic Operator
इस category मे mathematics के पांच basic operation को include किया गया है | in basic operation से बड़े से बड़े expression को बनाया जाता है | in operation के लिए पांच operators को भी include किया गया है |operation निन्म होते है :
1. Addition 
2. Subtraction 
3. Multiplication
4. Division
5. Modulus
ये सभी पांच operation के लिए दो operands के जरुरत होती है | operand और operator मिल कर जो statement बनाते है उसे expression कहते है |
 
1.Addition
Addition operation का use किसी दो या दो से अधिक values को जोड़ने के लिए किया जाता है | इसका keyword ‘+’ होता है | इसके expression को addition expression भी कहते है | अतः operands या तो operands या direct values हो सकती है |
उदाहरण के लिए :
#include<iostream.h>
#include<conio.h>
void main()
{
using namesapce std;
int a,b,c;
cout<<“Enter First Value : “<<endl;
cin>>a;
cout<<“Enter Second Value : “<<endl;
cin>>b;
c=a+b;
cout<<“Output of First Addition  : “<<c<<endl;
int d= 45+889;
cout<<“Output of second Addition : “<<d<<endl;
getch();
}
इस उदाहरण मे दो addition expressions है|
c=a+b; : इस statement मे , operands , variable है | यूजर द्वारा input की गयी values को in variable मे assign किया गया है |और इन variables की value का addition होता है |
d= 45+889 : इस statement मे direct values को operand की तरह use किया है |
इसका आउटपुट होगा :
Enter First Value : 234
Enter Second Value : 123
Output of First Addition  : 357
Output of second Addition : 934
2.Subtraction
Subtraction operation का use किसी दो या दो से अधिक values को घटाने के लिए किया जाता है | इसका keyword ‘-‘ होता है | इसके expression को Subtraction expression भी कहते है | अतः operands या तो operands या direct values हो सकती है |
उदाहरण के लिए :
#include<iostream.h>
#include<conio.h>
void main()
{
using namesapce std;
int a,b,c;
cout<<“First Value : “<<endl;
cin>>a;
cout<<“Second Value : “<<endl;
cin>>b;
c=a-b;
cout<<“Output of First Subtraction  : “<<c<<endl;
int d= 45-22 ;
cout<<“Output of second Subtraction : “<<d<<endl;
getch();
}
इस उदाहरण मे दो addition expressions है|
c=a-b; : इस statement मे , operands variable है | इन variables की value का addition होता है |
int d= 45-22 : इस statement मे direct values को operand की तरह use किया है | अतः 45-22 का output display होगा |
इसका आउटपुट होगा :
First Value : 234
Second Value : 123
Output of First Subtraction : 111
Output of second Subtraction : 23
3.Multiplication
Multiplication operation का use किसी दो या दो से अधिक values को गुना करने के लिए किया जाता है | इसका keyword ‘*’ होता है | इसके expression को Multiplication expression भी कहते है | अतः operands या तो operands या direct values हो सकती है |
उदाहरण के लिए :
#include<iostream.h>
#include<conio.h>
void main()
{
using namesapce std;
int a,b,c;
cout<<“Value 1 : “<<endl;
cin>>a;
cout<<“Value 2 : “<<endl;
cin>>b;
c=a*b;
cout<<“Output of First Multiplication  : “<<c<<endl;
int d= 23*5 ;
cout<<“Output of second Multiplication : “<<d<<endl;
getch();
}
इस उदाहरण मे दो Multiplication expressions है|
c=a*b; : इस statement मे , operands variable है | इसमें  variables की value का Multiplication होता है |
int d= 23*5 ; : इस statement मे direct values को operand की तरह use किया है | अतः  23*5  का output display होगा |
इसका आउटपुट होगा :
Value 1 : 2
Value 2 : 12
Output of First Multiplication  : 24
Output of second Multiplication : 115
4.Division
Division operation का use किसी दो values मे भाग करने के लिए किया जाता है | इस operation मे , division के बाद quotient को display करता है | इसका keyword ‘/’ होता है | इसके expression को Division expression भी कहते है | अतः operands या तो operands या direct values हो सकती है |
उदाहरण के लिए :
#include<iostream.h>
#include<conio.h>
void main()
{
using namesapce std;
int a,b,c;
cout<<“Value 1 : “<<endl;
cin>>a;
cout<<“Value 2 : “<<endl;
cin>>b;
c=a/b;
cout<<“Output of First Division  : “<<c<<endl;
int d= 23 / 5 ;
cout<<“Output of second Division “<<d<<endl;
getch();
}
इस उदाहरण मे दो Division expressions है|
c=a/ b; : इस statement मे , operands variable है | इसमें  variables की value का Division  होता है |
int d= 23 / 5 ; : इस statement मे direct values को operand की तरह use किया है | अतः  23 / 5  का quotient , output मे  display होगा |
इसका आउटपुट होगा :
Value 1 : 12
Value 2 : 2
Output of First Division : 6
Output of second Division : 4

5.Modulus
Modulus operation का use किसी दो values मे भाग करने के लिए किया जाता है | इस operation मे , division के बाद remainder को display करता है | इसका keyword ‘%’ होता है | इसके expression को Division expression भी कहते है | अतः operands या तो operands या direct values हो सकती है |
उदाहरण के लिए :
#include<iostream.h>
#include<conio.h>
void main()
{
using namesapce std;
int a,b,c;
cout<<“Value 1 : “<<endl;
cin>>a;
cout<<“Value 2 : “<<endl;
cin>>b;
c=a%b;
cout<<“Remainder of First Division  : “<<c<<endl;
int d= 23  % 5 ;
cout<<“Remainder of second Division “<<d<<endl;
getch();
}
इस उदाहरण मे दो Division expressions है|
c=a % b; : इस statement मे , operands variable है | इसमें  variables की value का Division  होता है और इसके remainder को variable ‘c’ मे assign किया जाता है  |
int d= 23  % 5 ; : इस statement मे direct values को operand की तरह use किया है | अतः  23  % 5 का remainder  , output मे  display होगा |
इसका आउटपुट होगा :
Value 1 : 12
Value 2 : 2
Remainder of First Division  : 0
Remainder of second Division : 3