b.ed 1st year question paper 2021 2022 in hindi download pdf university of rajasthan

By  

get b.ed 1st year question paper 2021 2022 in hindi download pdf university of rajasthan ?

Unit – IV
लघूत्तरात्मक प्रश्नोत्तर
1. टिप्पणी लिखिये
1. चार्ट।
2. मॉडल-(1) अर्थ । (2) लाभ । (3) मॉडल के उपयोग में सावधानियाँ ।
3. फिल्म स्ट्रिप्स।
4. रेडियो अर्थ । लाभ- (1) घटनाओं की जानकारी (2) वैज्ञानिकों के वक्तव्य सुनने लिए (3) कहानियाँ, नाटक आदि सुनने के लिए (4) संगीत सुनने के लिए (5) कार्यक्रमों की आवाज को आसानी से सभी छात्रों को सुनाने के लिए। दोष- (1) दृश्य उपलब्ध नहीं होता (2) वैज्ञानिक कार्यक्रमों का विद्यालय समय में आना संयोग है (3) अनावश्यक विज्ञापनों की अधिकता। सुझाव- (1) छात्रों के बैठने का स्थान (2) कार्यक्रम का पहले से ही महत्व बताया जाए (3) कार्यक्रम को रिकॉर्डर द्वारा टेप किया जाए (4) कार्यक्रम को नोट बुक व पेन लेकर बैठकर सुना जाए (5) कार्यक्रम के बाद परिचर्चा की व्यवस्था।
2. शैक्षिक दूरदर्शन
अर्थ ।
टेलीविजन के लाभ।
टेलीविजन के उपयोग में सुझाव
3. विज्ञान क्लब
विज्ञान क्लब का अर्थ ।
विज्ञान क्लब के उद्देश्य।
विज्ञान क्लब के लाभ।
4. विज्ञान मेले
विज्ञान मेले के लाभ।
विज्ञान मेले की सफलता के सुझाव।
5. क्षेत्र-पर्यटन की शैक्षिक उपयोगिता
पर्यटन के उद्देश्य ।
पर्यटन से लाभ।
6. रसायन विज्ञान शिक्षण में रसायन विज्ञान प्रयोगशाला का महत्त्व-
(1) दायित्व बोध का विकास (2) प्रायोगिक कौशलों में अभ्यास (3) संसाधनों का संग्रहण (4) अधिगम संस्थितियों का सृजन (5) आत्मविश्वास का विकास (6) प्रश्नों का समाधान (7) समूह में कार्य करने की भावना का विकास (8) विश्लेषण व निर्णयन की क्षमताओं का विकास (9) समस्या समाधान (10) अन्य।
7. रसायन विज्ञान प्रयोगशाला में बचाव
निबन्धात्मक प्रश्नोत्तर
1. सहायक सामग्री का महत्त्व-
(1) स्थायी ज्ञान प्रदान करना (2) छात्रों को सक्रिय रखना (3) प्रत्यक्षीकरण का अनुभव होना (4) कठिन तथ्यों को समझने में सहायक (5) छात्रों को प्रेरणा प्रदान करना (6) वैज्ञानिक दृष्टिकोण विकसित करना (7) चिन्तनशीलता का विकास (8) कल्पना शक्ति तथा विचार शक्ति में वृद्धि (9) अधिक छात्रों को समझाने में सहायक (10) अध्यापक के लिए शिक्षण कार्य में सहायक (11) स्वयं कार्य करने को क्षमता का विकास (12) शिक्षण को रोचक बनाने के लिए (13) खोज के प्रति लगाव।
2. आसुरचित उपकरण का अर्थ, लाभ एवं तीन ऐसे उपकरणों के उदाहरण-
अर्थ।
लाभ-(1) शिक्षा की दृष्टि से उपयोगी (2) रचनात्मक प्रवृत्तियों को बढावा (3) अनुपयोगी टूटी-फूटी सामग्री का समुचित उपयोग (4) करके सीखना पर आधारित (5) परिश्रम करने की आदत का विकास (6) वैज्ञानिक चिन्तन का विकास (7) प्रसन्नता (8) मानसिक मनोरंजन (9) अवकाश के समय का सदुपयोग (10) अन्य।
छात्रों द्वारा बनाए जा सकने वाले उपकरण-(1) साधारण तिपाई (2) लोहे की तिपाई बनाना (3) कमानीदार तुला।
3. टिप्पणी लिखिए
1. हिन्दुस्तान जिंक लिमिटेड- (1) खोज कार्य (2) आर्थिक एवं व्यापारिक परिदृश्य (3) उत्पादन (4) भावी कार्यक्रम (5) पर्यावरण सम्बन्धी दायित्व (6) सामुदायिक विकास-(प) अकाल राहत कार्य (पप) पेयजल आपूर्ति (पपप) रोप-वे निर्माण।
2. एन.सी.एल. (नेशनल केमीकल लेबोरेटरी)- (1) परिचय। (2) मुख्य कार्य
3. डी.एस.टी. (विज्ञान और तकनीकी विभाग)- (1) परिचय। (2) प्रमुख उद्देश्य । (3) प्रमुख कार्य।
4. रसायन विज्ञान पाठ्यपुस्तक के चुनाव के मापदण्ड-
(1) मनोवैज्ञानिक शैली (2) पुस्तक का लेखक (3) पाठ्यवस्तु का संकलन (4) पुस्तक की छपाई (5) पुस्तक का गेटअप (6) पाठ्य पुस्तक की आन्तरिक साज-सज्जा (7) अन्य।
5. रसायन विज्ञान की एक अच्छी पाठ्यपुस्तक की प्रमुख विशेषताएँ
(1) अध्यायीकरण व अनुच्छेदीकरण (2) तार्किक संगठन (3) अधिगम सिद्धान्तों से अनुरूपता (4) भाषा की उपयुक्तता व शुद्धता (5) शिक्षण निर्देशन (6) दृष्टांत सामग्री (7) पुस्तक की भौतिक विशेषतायें।
6. रसायन विज्ञान प्रयोगशाला की योजना व चित्र बनाइये-
Unit – V
लघूत्तरात्मक प्रश्नोत्तर

1. रसायन विज्ञान में वस्तुनिष्ठ प्रश्नों के गुण व दोष-
गुण- (1) वैध एव विश्वसनीय (2) पक्षपातरहित (3) व्यापकता (4) रटने की प्रवत्ति का विरोध (5) भाषा सम्बन्धित कठिनाई की समस्या नहीं (6) मूल्यांकन में कोई मतभेद नहीं (7) उत्तर देने में समय की बचत (8) तर्क शक्ति, निर्णय शक्ति आदि का विकास।
दोष-(1) मनोविज्ञान के सिद्धान्त के विपरीत (2) नकल की प्रवृत्ति में वृद्धि (3) निर्माण कठिन (4) अधिक श्रम व समय (5) कल्पना शक्ति का विकास नहीं (6) लेख का कोई स्थान नहीं (7) अनुमान के आधार पर उत्तर (8) निदान की कोई व्यवस्था नहीं।
2. रसायन विज्ञान में निबन्धात्मक प्रश्नों के गुण व दोषगण-
(1) प्रश्न पत्र निर्माण में सरलता (2) निर्माण में धन व समय की बचत (3) भाषा पर नियंत्रण (4) मानसिक योग्यताओं की जाँच (5) मौलिकता का परीक्षण (6) भावों का संगठन । दोष (1) स्मृति पर अत्यधिक बल (2) अभिव्यक्ति पर अत्यधिक बल (3) सुलेख से मूल्यांकन पर प्रभाव (4) जाँच कार्य पक्षपात पूर्ण (5) सम्पूर्ण पाठ्यक्रम पर बल नहीं (6) केवल परीक्षा काल में ही अध्ययन की आदत (7) उत्तरों की अस्पष्टता (8) अव्यवहारिक ज्ञान ।
3. प्रदर्शन विधि का उदाहरण-
4. किसी प्रकरण पर कोई पाँच श्विशिष्ट उद्देश्य लिखिए-
5. प्रदर्शन विधि का उदाहरण-
निबन्धात्मक प्रश्नोत्तर
1. रसायन विज्ञान में मूल्यांकन-
मूल्यांकन का अर्थ। परिभाषायें-कोठारी आयोग, क्लीवेन और हन्ना, क्लार्क और स्टार के अनुसार। अच्छे मूल्यांकन के गुण (1) विश्वसनीयता (2) वैधता (3) वस्तुनिष्ठता (4) व्यापकता या गहनता (5) विभेदीकरण (6) उपयोगिता (7) सहजता या व्यवहारिकता-(प) निर्माण में आसानी (पप) परीक्षा लेने में आसानी (पपप) अंक देने में आसानी । मूल्यांकन के साधन- (1) मौखिक परीक्षा (2) लिखित परीक्षा (3) प्रायोगिक परीक्षा (4) साक्षात्कार (5) प्रश्नावली (6) निरीक्षण (7) निदानिक परीक्षा (8) रिकार्ड।
2. अच्छे प्रश्न पत्र के गण एवं प्रश्न पत्र निर्माण के प्रमुख चरण-
अच्छे प्रश्न-पत्र के गुण- (1) विश्वसनयीता (2) वस्तुनिष्ठता (3) व्यापकता (4) विभदाकरण (5) उपयोगिता (6) सहजता या व्यवहारिकता।
अन्य अतिरिक्त गुण- (1) आधनिक धारणा पर आधारित (2) स्पष्टता (3) अंक पभाजन (4) उद्देश्यों पर बल (5) विकल्प व्यवस्था (6) कठिनाई स्तर।
प्रश्न-पत्र निर्माण के प्रमख चरण-1. योजना निर्माण-(1) उद्देश्यों का चयन (2) उद्देश्यों का अंक भार निर्धारित करना (3) पाठ्यवस्तु का अंक भार देना (4) प्रश्नों क प्रकार को अंक भार देना (5) विकल्पों का निर्धारण (6) प्रश्नों का खण्डों में विभाजन (7) समय निर्धारण। 2 ब्ल प्रिन्ट का निर्माण। 3. ब्लू प्रिट पर आधारित प्रश्नों का निर्माण। 4. प्रश्न-पत्र का निर्माण। 5. कुंजी का निर्माण।
3. रसायन विज्ञान में प्रायोगिक कार्य का मूल्याकन-
प्रश्नों