अभिजीत गुप्ता शतरंज कौन है | abhijeet gupta chess games in hindi who is and his achievment

By   March 6, 2021

abhijeet gupta chess games in hindi अभिजीत गुप्ता शतरंज कौन है ?

प्रश्न: अभिजीत गुप्ता
उत्तर: राजस्थान के अभिजीत गुप्ता ने तीसरी बार राष्ट्रमंडल शतरंज चैम्पियनशिप जीत ली है। ग्रैंड मास्टर अभिजीत ने श्रीलंका में सम्पन्न चैम्पियनशिप में लगातार दूसरी खिताबी जीत दर्ज की है। भारत की ही तानिया सचदेव महिला वर्ग में विजेता बनी। अभिजीत ने वर्ष 2013 में भी यह खिताब अपने नाम किया था। वर्ष 2008 में जूनियर विश्व चैम्पियनशिप जीत चुके 27 वर्षीय अभिजीत कई अन्य खिताब अपने नाम कर चुके हैं। कोलंबों में 6 अगस्त, 2016 को सम्पन्न हुई कॉमनवेल्थ चेस चैंपियनशिप में दोनों ही वर्गों में भारतीय शतरंज खिलाड़ियों ने सभी पदक अपने नाम किये। पुरुष वर्ग में जहां अभिजीत गुप्ता ने स्वर्ण पदक जीता तो रजत पदक जीएम एस.एल. नारायणन और कांस्य दीप चक्रवर्ती ने जीता। इसी तरह महिला वर्ग में तानिया ने स्वर्ण तो मैरी एन गोम्स और किरन मनीषा मोहंती ने क्रमशः रजत और कांस्य पदक अपने नाम किए।

प्रश्न: मंजू बाला
उत्तर: महिलाओं की हैमर थ्रो में राजस्थान की मंज बाला ने कांस्य पदक जीता था। फाइनल में उन्होंने 60.47 मीटर तक थ्री किया था। मंजू का यह पदक रजत पदक में बदलने जा रहा है, क्योंकि स्वर्ण पदक विजेता झानवेनझियू (77.33 माटर) का डोप टेस्ट पॉजिटिव रहा। स्वर्ण पदक अब रजत पदक जीतने वाली वांग झेंग (74.15 मीटर) को दिया जाएगा। दोनों ही एथलीट चीन की हैं। मंजू को रजत मिलने पर भारत की पदक संख्या तो नहीं बढ़ेगी लेकिन रजत की संख्या 10 और कांस्य की संख्या 36 हो जाएगी।
प्रश्न: डॉ. भगवती व्यास सत्ता
उत्तर: डॉ. भगवती व्यास सत्ता को के.के. बिड़ला फांउडेशन का बिहारी पुरस्कार 2015 उनकी कृति कठे सूं आवै है सबद (कविता) के लिए प्रदान किया गया।
प्रश्न: डॉ. सुनीता जैन
उत्तर: डॉ. सुनीता जैन को के.के. बिड़ला फांउडेशन का व्यास सम्मान 2015 उनकी कृति श्कसमाश् कविता के लिए प्रदान किया गया।
प्रश्न: कविता सचदेवा
उत्तर: कविता सचदेवा को के.के. बिड़ला फांउडेशन का सरस्वती सम्मान 2015 उनकी कृति आत्म कथा ‘चित-चेते‘ के लिए दिया गया।
प्रश्न: मिनोरू कसेई
उत्तर: जापानी मूल के चीनी मिनोरू कसेई को अंतर्राष्ट्रीय सौहार्द्र के लिए वर्ष 2015 का जमनालाल बजाज पुरस्कार दिया गया।
प्रश्न: मधु आचार्य आशावादी
उत्तर: मधु आचार्य आशावादी को राजस्थानी भाषा के लिए उनके उपयास गवाड़ को राष्ट्रीय साहित्य पुरस्कार 2015 प्रदान किया गया।
प्रश्न: मनमोहन शर्मा
उत्तर: मनमोहन शर्मा को 1986 में भारत सरकार ने विज्ञान एवं अभियांत्रिकी के क्षेत्र में पद्म भूषण से सम्मानित किया था। ये मूलतः महाराष्ट्र राज्य से हैं।
प्रश्न: कृष्ण कुमार आशु
उत्तर: राष्टीय साहित्य अकादमी ने राजस्थानी भाषा के लिए अपने ‘धरती रो मोल‘ बाल कहानी संग्रह के लिए कृष्ण कुमार ‘आशु‘ (राजस्थानी) को ‘बाल साहित्य पुरस्कार 2015 प्रदान किया।
प्रश्न: जे.बी. लास्टी
उत्तर: जे बी. लास्टी को मेवाड़ की चित्रकारी पर शोध एवं लेखन के लिए महाराणा मेवाड़ फाउंडेशन अलंकरण 2015 का कर्नल जेम्स टॉड अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार मार्च, 2016 में प्रदान किया गया।
प्रश्न: प्रसून जोशी
उत्तर: प्रसून जोशी को कोमी एकता, राष्ट्रीय अखण्डता, देश प्रेम एवं साम्प्रदायिक सद्भाव को बढ़ाने के लिए महाराणा मेवाड फाउंडेशन का हाकिम खां शूल राष्ट्रीय सम्मान, 2016 प्रदान किया गया।
प्रश्न: राजेन्द्र सिंह
उत्तर: जल संरक्षण के क्षेत्र में भारत में उल्लेखनीय योगदान देने वाले सामाजिक कार्यकर्ता राजेन्द्र सिंह को वर्ष 2015 के स्टाकहोम वाटर प्राइज से सम्मानित किया गया। ‘जल पुरुष‘ के नाम से प्रसिद्ध राजेन्द्र सिंह राजस्थान में रहते हैं और वह वहीं जल संरक्षण से संबंधित कार्य करते हैं।
प्रश्न: अनुराधा रॉय
उत्तर: अनुराधा रॉय को उनके ग्रंथ ैसममचपदह वद श्रनचपजमत (भ्ंबीमजजम, प्दकपं) के लिए जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल, 2016 का क्ैब् साउथ ऐशियन लिटरेचर अवार्ड (न्ै$ 50ए000) दिया गया।
प्रश्न: सुधीर तैलंग
उत्तर: जाने माने कार्टूनिस्ट और पद्मश्री से अलंकृत सुधरी तैलंग का नई दिल्ली में छह फरवरी, 2016 को देहांत हो गया। वे करीब 56 वर्ष के थे। तैलंग भारतीय व्यंग्य कला के ऐसे जादूगर एवं सिद्धहस्त कार्टूनिस्ट थे जिन्हें दिवंगत कार्टूनिस्ट थे जिन्हें दिवंगत कार्टूनिस्ट आर.के. लक्ष्मण के पश्चात् सबसे अधिक लोकप्रियता मिली। भारत सरकार द्वारा सन् 2004 में पद्मश्री से अलंकृत मशहूर कार्टूनिस्ट सुधीर तैलंग का जन्म 26 फरवरी, 1960 को बीकानेर (राजस्थान) में हुआ था। उनके अधिकतर कार्टून ज्वलंत मुद्दों और राजनीतिक व सार्वजनिक क्षेत्र की पृष्ठभूमि से जुड़े होते थे।
प्रश्न: धर्माराम
उत्तर: राष्ट्रीय रायफल के मई, 2015 में अनंतनाग (कश्मीर) में शहीद बाड़मेर के धर्माराम जाट को मरणोपरांत शौर्य चक्र दिया गया। परम्परा अनुसार गणतंत्र दिवस (26 जनवरी, 2016) समारोह में यह पुरस्कार प्रदान किया गया।
प्रश्न: गुलाबो सपेरा
उत्तर: गुलाबो सपेरा को लोक नृत्य श्रेणी में 2015 के लिए पद्मश्री पुरस्कार के लिए चुना गया है। जिन्हें 26 जनवरी, 2016 को राष्ट्रपति ने यह पुरस्कार प्रदान किया। गुलाबो ने राजस्थान के कालबेलिया नृत्य को राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय पहचान दिलाई।
प्रश्न: स्व. प्रकाश चन्द्र सुराणा
उत्तर: राज्य के प्रकाश चन्द्र सुराणा को शास्त्रीय संगीत में योगदान के लिए 2015 का पद्मश्री पुरस्कार देने की घोषणा की गई। जिन्हें 26 जनवरी, 2016 को राष्ट्रपति ने यह पुरस्कार प्रदान किया।
प्रश्न: सिस्टर मारियोला
उत्तर: सिस्टर मारियोला समाचारों में उस समय आई जब उन्हें मीडिया के माध्यम से महिलाओं के मुद्दों पर जागरूकता के लिए वर्ष 2015 का रानी गैन्डिल्यु जेलियांग पुरस्कार प्रदान किया गया।
प्रश्न: मीठा लाल मेहता
उत्तर: वर्ष 2015 में राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी द्वारा कुल 75 व्यक्तियों को पद्मश्री से नवाजा गया है। इनमें से राजस्थान के सामाजिक कार्य में उत्कृष्ट योगदान के लिए स्वर्गीय मीठालाल मेहता को वर्ष 2015 में पद्मश्री पुरस्कार प्रदान किया गया।
प्रश्न: राजपाल सिंह राजपुरोहित
उत्तर: राष्ट्रीय साहित्य अकादमी द्वारा साहित्य अकादमी पुरस्कार भारत की 22 प्रतिष्ठित साहित्यिक रचनाओं को प्रदान किया जाता है। पुरस्कार में 1-1 लाख रुपए नकद और उत्कीर्ण ताम्र-फलक प्रदान किया जाता है। वर्ष 2015 में राष्ट्रीय साहित्य अकादमी पुरस्कार राजस्थानी भाषा के लिए राजपाल सिंह राजपुरोहित को उनकी कृति लघु कथा ‘सुन्दर नयन कथा‘ के लिए प्रदान किया गया है।
प्रश्न: गुरुशरण छाबड़ा
उत्तर: गुरुशरण छाबड़ा (1959-2105) शराबबंदी और सशक्त लोकायुक्त कानून की मांग को लेकर दो अक्टूबर से आमरण अनशन पर रहे और 32 दिन के अनशन के बाद 03 नवम्बर, 2015 को जयपुर के एसएमएस अस्पताल में निधन हो गया। वर्ष 1977 से 1980 तक जनता पार्टी से वे सूरतगढ़ विधानसभा से विधायक रहे। 1980 में सर्वोदयी नेता गोकुल भाई भेट्ट क नेतृत्व में उन्होंने शराबबंदी का समर्थन किया। तत्कालीन मुख्यमंत्री भैरों सिंह शेखावत ने 1 अप्रैल, 1980 को राज्य में पहला बार पूर्ण शराबबंदी लागू कर दी थी।
प्रश्न: उषा चमौर
उत्तर: राजस्थान में अलवर जिले में 42 वर्षीय उषा चमौर कभी मैला ढोने की कार्य करती थी। हाल में उसे इंग्लैंड के यूनिवर्सिटी ऑफ पोर्टस्माउथ में ब्रिटिश ऐसोसिएशन ऑफ साउथ एशियन स्टडी के वार्षिक सम्मेलन में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया गया था। उसने ‘स्वच्छता व भारत में महिला अधिकार‘ विषय पर भाषण दिया। सुलभ इंटरनेशनल के प्रयासों से उसे इस प्रथा से मुक्ति दिलाई गई। आज वह अपने इलाके में महिलाओं को इस प्रथा से निकालने के लिए कार्य कर रही है।
प्रश्न: देवेन्द्र झाझड़िया

उत्तर: पैरालंपिक में जेवेलियन में लगातार दूसरी बार स्वर्ण जीतकर देश के गोल्डन बॉय बने देवेन्द्र झाझड़िया चूरू के सादुलपुर के गांव झाझड़िया की ढाणी के देवेन्द्र झाझड़िया स्वर्ण पदक जीतने में सफल रहे। देवेन्द्र के नाम सबसे लम्बी दूरी का भाला फेंकने का विश्व रिकॉर्ड दर्ज था। 2000 में 62.15 मीटर दूर तक भाला फेंककर पेसेफिक गेम में स्वर्ण पदक जीता। रियो में देवेन्द्र ने 63.97 मीटर दूर भाला फेंककर नया विश्व रिकॉर्ड बनाया है। भारत सरकार द्वारा दिए जाने वाले अर्जुन अवार्ड और राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड के लिए बनाई गई समिति में राजस्थान के पैराएथलीट और एथेंस पैरालिंपिक के स्वर्ण विजेता खिलाड़ी देवेंद्र झाझड़िया को भी शामिल किया गया है।
प्रश्न: संदीप सिंह मान
उत्तर: खेल जगत में अलग पहचान बना रहे हनुमानगढ़ के पैरा एथलीट संदीप सिंह मान का चयन अर्जुन अवार्ड के लिए हुआ है। संदीप मान को 29 अगस्त, 2016 को एक ही दिन में दो अवार्डों से नवाजा गया। इस दिन उसे राष्ट्रपति के हाथों अर्जुन अवार्ड एवं राज्यपाल के हाथों महाराणा प्रताप अवार्ड के लिए चयनित किया गया। गौरतलब है कि संदीप ने चाइना में आयोजित पैरा एशियाड प्रतियोगिता की चार सौ मीटर दौड़ में रजत पदक जीता था।
प्रश्न: रजत चैहान
उत्तर: देश के लिए पहली बार विश्व तीरंदाजी चैंपियनशिप में व्यक्तिगत पदक जीतने वाले जयपुर के युवा तीरंदाज रजत चैहान विश्व के शीर्ष 10 तीरंदाजों की सूची में शामिल हो गए हैं। यह उपलब्धि हासिल करने वाले वे राजस्थान के पहले तीरंदाज बन गए हैं। 03 अगस्त, 2015 को जारी ताजा विश्व रैंकिंग (कंपाउंड) में रजत सात स्थानों की छलांग लगाकर सातवें स्थान पर पहुंच गए हैं। 7 नवंबर, 2015 को रजत चैहान ने 19वीं एशियाई तीरंदाजी प्रतियोगिता बैंकॉक में दो स्वर्ण पदक जीते। 2016 में इन्हें अर्जुन पुरस्कार से नवाजा गया है।
प्रश्न: अपूर्वी चंदेला.
उत्तर: राजस्थान की शूटर अपूर्वी चंदेला ने स्वीड्न ग्रांपी (10 मी. एयर राईफल स्पर्धा) 2016 में स्वर्ण पदक तथा 20वें राष्ट्रमंडल खेल स्पर्धा ग्लास्गो (स्कॉटलैण्ड) अगस्त, 2014 में स्वर्ण पदक तथा हाल ही में (2016) अर्जुन अवार्ड प्राप्त किया।