Monthly Archives: February 2020

प्रवर्धन क्या है , (amplification in hindi) , प्रवर्धक गुणांक , धारा , वोल्टता , शक्ति गुणांक सूत्र परिभाषा

प्रवर्धन क्या है , (amplification in hindi) , प्रवर्धक गुणांक , धारा , वोल्टता , शक्ति गुणांक सूत्र परिभाषा

प्रवर्धक गुणांक , धारा , वोल्टता , शक्ति गुणांक सूत्र परिभाषा , प्रवर्धन क्या है , (amplification in hindi) :- प्रवर्धन (amplification) : वह प्रक्रिया जिसमे निवेशी संकेत के आयाम की तुलना में निर्गत संकेत का आयाम अधिक प्राप्त हो तो इस प्रक्रिया को प्रवर्धन कहते है तथा इस युक्ति को प्रवर्धक कहते है। प्रवर्धन के… Continue reading »

History notes for RAS in english language , all history handwritten class notes english medium

all history handwritten class notes english medium , History notes for RAS in english language ,  History notes for RAS (Rajasthan Administrative Services) for pre (prelims) and mains exams. As per RPSC (Rajasthan Public Service Commission) suggested RAS syllabus for mains examination , they have divided history into three parts for study purpose. Rajasthan history… Continue reading »

धारा प्रवर्धक गुणांक (β) , प्रवर्धक गुणांक α व  β के मध्य सम्बन्ध , define current amplification factor in a common emitter mode of transistor in hindi

धारा प्रवर्धक गुणांक (β) , प्रवर्धक गुणांक α व  β के मध्य सम्बन्ध , define current amplification factor in a common emitter mode of transistor in hindi

define current amplification factor in a common emitter mode of transistor in hindi , धारा प्रवर्धक गुणांक (β) , प्रवर्धक गुणांक α व  β के मध्य सम्बन्ध :- PNP ट्रांजिस्टर के उभयनिष्ठ उत्सर्जक अभिविन्यास का अभिलाक्षणिक वक्र : PNP ट्रांजिस्टर के उभयनिष्ठ उत्सर्जक अभिविन्यास में इसके निवेशी परिपथ में उपस्थित उत्सर्जक-आधार संधि को बैटरी VBB द्वारा अग्र अभिनिति… Continue reading »

common base configuration of transistor in hindi , collector , emitter , उभयनिष्ठ आधार अभिविन्यास

common base configuration of transistor in hindi , collector , emitter , उभयनिष्ठ आधार अभिविन्यास , उत्सर्जक , सग्राहक अभिविन्यास : ट्रांजिस्टर : ट्रान्जिस्टर के अभिविन्यास :- किसी भी अर्द्ध चालक इलेक्ट्रॉनिक युक्ति को विद्युत परिपथ में जोड़ने के लिए दो निवेशी व दो निर्गत टर्मिनलो की आवश्यकता होती है परन्तु ट्रांजिस्टर में केवल तीन… Continue reading »

बोर व व्हीलर का द्रव बूंद मॉडल (drop model of bohr and wheeler theory in hindi) , U-235

(drop model of bohr and wheeler theory in hindi) , U-235 , बोर व व्हीलर का द्रव बूंद मॉडल क्या है ? :- नाभिकीय भट्टी : नाभिकीय भट्टी नियंत्रित श्रृंखला अभिक्रिया पर आधारित एक ऐसा उपकरण है जिसकी सहायता से शांतिमय कार्य की रचना व विद्युत का उत्पादन किया जाता है। नाभिकीय भटटी के मुख्य अवयव… Continue reading »

नाभिकीय ऊर्जा की परिभाषा क्या होती है , महत्व , लाभ , नाभिकीय विखण्डन , श्रृंखला अभिक्रिया , पुनरुत्पादन गुणांक

नाभिकीय ऊर्जा की परिभाषा क्या होती है , महत्व , लाभ , नाभिकीय विखण्डन , श्रृंखला अभिक्रिया , पुनरुत्पादन गुणांक

nuclear energy in hindi , नाभिकीय ऊर्जा की परिभाषा क्या होती है , महत्व , लाभ , नाभिकीय विखण्डन , श्रृंखला अभिक्रिया , पुनरुत्पादन गुणांक :- नाभिकीय ऊर्जा : जब कोई भारी नाभिक दो या दो से अधिक हल्के नाभिको में टूटते है अर्थात नाभिकीय विखण्डन होता है या दो या दो से अधिक हल्के नाभिक… Continue reading »