Write a program to find a prime number , an armstrong number , to compare two strings

By  
इससे पहले के article मे कई उदाहरनो को discuss किया जाता है अब इस article मे , हम कई उदाहरनो को discuss करेगे जिससे आपके c++ के concept को discuss करगे | सबसे पहले डट type और variable देक्लार्तिओं और looping के उदाहरनो को discuss करेगे |उदाहरन -1
Write a program to find a prime number.
इस उदाहरनो मे ,  prime number को find किया जाता है |
explantion
सबसे पहले यूजर द्वारा value को input किया जाता है जिसको variable ‘a’ को assign किया जाता है |
उसके बाद condition को check किया जाता है | condition मे , अगर value किसी number से divide होता जो की ‘2’ से start होते है तब ये value prime number होती है |
अन्यथा ये number prime number नहीं होती है |
इसके बाद प्रोग्राम को end कर देते है |
source code
#include<iostream.h>
#include<conio.h>
int prime (int);
void main()
{
int a,c;
cout<<“Enter a :”<<endl;
cin>>a;
c= prime(a);
if(c==1)
{
cout<<a<<“is Prime number.”;
}
else
{
cout<<a<<“is not Prime number.”;
}
}
getch();
}
int compare (int e)
{
int i ;
if(e<=1)
{
return 0;
}
int count ;
for(i=2;i<=e/2;i++)
{
if((e%i)==0)
{
return 1;
break;
}
}
}

उदाहरन -2
Write a program to find an armstrong number.
इस उदाहरनो मे ,  armstrong number को find किया जाता है |
explantion
armstrong number ये number होते है जीके लिए निन्म condition फॉलो होते है :-
अगर number = 123 होती है  तब  123 = (1*1*1)+(2*2*2)+(3*3*3)
जब इस condition true होती है तब value armstrong number होगी अन्यथा value armstrong number नहीं है |
सबसे पहले यूजर द्वारा value को input किया जाता है जिसको variable ‘a’ को assign किया जाता है |
उसके बाद value से last डिजिट को find किया जाता है जिसके cube को sum मे add किया जाता है | और फिर second digit के cube को sum मे add किउया जाट है |
उसके बाद पहली डिजिट के cube को sum मे add किये जाता है |
अगर sum = value हो ती है तब value को armstrong number होगी |
अन्यथा value armstrong number नहीं होगी |
source code
#include<iostream.h>
#include<conio.h>
int armstrong (int);
void main()
{
int a,c;
cout<<“Enter a :”<<endl;
cin>>a;
c=  armstrong (a);
if(c==a)
{
cout<<a<<“is armstrong number .”;
}
else
{
cout<<a<<“is not armstrong number .”;
}
}
getch();
}
int armstrong (int e)
{
int sum =0;
int i=e ;
while(i>0)
{
r=i%10;
sum = sum + (i*i*i);
i=i/10;
}
return (sum);
}

उदाहरन -3
Write a program to compare two strings .
इस उदाहरनो मे ,  दो string को compare किया जाता है |
explantion
सबसे पहले दो string variable को declare किया जाता है |
उसके बाद यूजर द्वारा string value को input किया जाता है | इसे string variables मे assign कर दिया जाता है |
looping की जाती है |
जब i=0 होती है तब दोनों string के first elements को compare किया जाता है |
जब i=1 होती है तब दोनों string के second elements को compare किया जाता है |
जब i=2 होती है तब दोनों string के third elements को compare किया जाता है |
जब i=3 होती है तब दोनों string के fourth elements को compare किया जाता है |
जब i=4 होती है तब दोनों string के  fifth elements को compare किया जाता है |
जब i=5 होती है तब दोनों string के  sixth  elements को compare किया जाता है |
ये loop तब तक चलता है जब तक string मे  ‘\0’ pointer नहीं आ जाता है |
अगर string मे character मे match नहीं होता है तब Both string are not same. अन्यथा  Both string are same. massage display होगा |
source code
#include<iostream.h>
#include<conio.h>
#include<string.h>
void main()
{
string a,b;
cout<<“Enter string :”<<endl;
cin>>a;
cout<<“Enter string :”<<endl;
cin>>b;
for(i=0;a[i]!=”\0″ && b[i]!=”\0” ; i++ )
{
if(a[i]==b[i])
{
count =0;
}
else
{
count =1 ;
}
}
if(count==0)
{
cout<<“Both string are same.”;
}
else
{
cout<<“Both string are not same.”;
}
getch();
}

उदाहरन -4
Write a program to add two strings .
इस उदाहरनो मे ,  दो string को add किया जाता है |
explantion
सबसे पहले दो string variable को declare किया जाता है |
उसके बाद यूजर द्वारा string value को input किया जाता है | इसे string variables मे assign कर दिया जाता है |
उसके बाद string class मे उपस्थित strcat() function से string को जोड़ा जाता है | इसके लिए merge string को एक नए string मे assign किया जाता है |
इसके बाद इस string variable को display किया जाता है |
source code
#include<iostream.h>
#include<conio.h>
#include<string.h>
void main()
{
string a,b,c;
cout<<“Enter string :”<<endl;
cin>>a;
cout<<“Enter string :”<<endl;
cin>>b;
c=strcat(a,b);
cout<<“Merge string : “<<c<<endl;
getch();
}

उदाहरन -5
Write a program to display a fibbocaci series .
इस उदाहरनो मे ,  fibbocaci seriesफी को display किया जाता है |
explantion
fibbocaci series निन्म होती है
0 1 1 2 3 5 8 13 21
इसके लिया यूजर द्वारा fibbocaci series के range को input किया जाता है जिसके use fibbocaci series की limit को display किया जाता है |
इसके बाद loop चलाया जाता है | इसमें
अगर i की  value ‘1’ के सामान और छोटी होती है तब fibbocaci series series के  element , i की value को display किया जाता है |
अन्यथा c= first + second display होता है |
source code
#include<iostream.h>
#include<conio.h>
#include<string.h>
void main()
{
int  a=0,b=1,c;
int range ;
cout<<“enter range :”;
cin>>range;
for(i=0;i<range;i++)
{
if(i<=1)
{
b=i;
}
else
{
c=a+b;
a=b;
b=c;
}
cout<<c;
};